लाइव टीवी

इस क्रिकेटर के नाम दर्ज है क्रिकेट इतिहास का बड़ा रिकॉर्ड, अब फिक्सिंग में आया नाम

News18Hindi
Updated: November 7, 2019, 4:59 PM IST
इस क्रिकेटर के नाम दर्ज है क्रिकेट इतिहास का बड़ा रिकॉर्ड, अब फिक्सिंग में आया नाम
सी गौतम अगले रणजी ट्रॉफी सीजन के लिए गोवा टीम में चले गए हैं.

सी गौतम (Cm Gautam) ने रणजी ट्रॉफी 2012-2013 के सीजन में कई कीर्तिमान रचे थे. जिसका इनाम उन्हें ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ वार्म अप मैच के रूप में मिला था

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2019, 4:59 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) में स्पॉट फिक्सिंग में सी गौतम (Cm Gautam) और अबरार काजी का नाम सामने आने से भारतीय क्रिकेट हिल गया है. घरेलू क्रिकेट के स्टार सी गौतम आईपीएल की तीन बड़ी टीमों रॉयल चैंलजर्स बैंगलोर, मुंबई इंडियंस और दिल्ली डेयरडेविल्स का हिस्सा रह चुके हैं. यहीं नहीं उनके नाम रणजी क्रिकेट के इतिहास का भी सबसे बड़ा रिकॉर्ड है. इतने अनुभवी खिलाड़ी का नाम फिक्सिंग में आने से हर कोई सकते में है.

33 साल के दायें हाथ के विकेटकीपर-बल्लेबाज गौतम ने 94 फर्स्ट क्लास मैच, 58 लिस्ट ए क्रिकेट और 48 टी20 मैच खेले हैं. आठ मार्च 1986 को कर्नाटक में जन्‍मे गौतम के नाम रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के इतिहास में बतौर विकेटकीपर एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है. इसके अलावा भी उनके नाम कई रिकॉर्ड्स हैं. इतना शानदार रिकॉर्ड होने के बादवजूद फिक्सिंग में उनका नाम आने से उनके फैंस भी निराश हैं. गौतम पर कर्नाटक प्रीमियर लीग के इस सीजन में हुबली और बेल्लारी टीम के बीच खेले गए खिताबी मुकाबले में  फिक्सिंग करने का आरोप है. उन पर आरोप लगा है कि धीमी बल्लेबाजी के लिए उन्हें 20 लाख रुपये दिए थे.

Cm Gautam, Karnataka Premier League, virat kohli, rohit sharma, spot fixing
सी गौतम दो साल तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर टीम का हिस्सा रहे


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उतर चुके हैं मैदान पर

विकेटकीपर बल्लेबाज चिदंबरम मुरलीधरन गौतम कर्नाटक के साथ एक लंबा समय बिताने के बाद गोवा की टीम में चले गए हैं. रणजी ट्रॉफी के करीब पांच सीजन में गौतम ने कर्नाटक टीम का प्रतिनिधित्व किया. 2012-2013 रणजी ट्रॉफी में वह सर्वाधिक स्कोर करने वाले दूसरे खिलाड़ी थे. उस सीजन में उनकी लय को देखते हुए उन्हें नंबर 4 पर प्रमोट किया गया. उस सीजन में गौतम ने 943 रन बनाए थे, जो एक विकेटकीपर का रणजी ट्रॉफी के किसी एक सीजन में इतिहास का सर्वाधिक स्काेर था. उन्होंने वडोदरा और महाराष्ट्र दोनों के खिलाफ 250 रन से अधिक का स्कोर किया था. 2012-2013  रणजी सीजन में अच्छा स्कोर करने के अलावा उन्होंने विकेट के पीछे 34 शिकार भी लिए ‌थे. उस सीजन में उनके शानदार प्रदर्शन का इनाम उन्हें फरवरी 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वार्म अप मैच में इंडिया ए टीम में जगह मिलने के रूप में मिला. हालांकि आने वाले रणजी ट्रॉफी के सीजन से पहले उन्होंने कर्नाटक का साथ छोड़कर गोवा का हाथ थाम लिया.

आईपीएल की तीन टीमों के रह चुके हैं सदस्य
अपनी शानदार बल्लेबाजी के दम पर 2011 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) ने उन्हें अपने साथ शामिल किया. वह 2012 तक बैंगलोर का हिस्सा रहे. हालांकि उन्हें आईपीएल के डेब्यू करने का मौका नहीं मिल पाया. उनकी बल्लेबाजी से प्रभावित होकर दिल्ली डेयरडेविल्स ने 2013 में उनके साथ एक साल का अनुबंध किया. हालांकि डेयरडेविल्स ने नमन ओझा और पुनीत बिष्ट की सेवाएं ली. इसके बाद 2014 में मुंबई इंडियंस ने 20 लाख रुपये में गौतम को अपने साथ शामिल कर लिया था.
Loading...

ये भी पढ़ें:

रोहित शर्मा ने नहीं किए ये 4 काम तो राजकोट में ही सीरीज हार जाएगी टीम इंडिया!
Video: जिम में श्रेयस अय्यर से 'भिड़े' केएल राहुल, बुरी तरह मिली हार!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 1:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...