लाइव टीवी

स्पॉट फिक्सिंग: कई टीम मालिक और कोच मुश्किल में, कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन से पुलिस ने पूछे 18 सवाल

News18Hindi
Updated: November 19, 2019, 11:29 PM IST
स्पॉट फिक्सिंग: कई टीम मालिक और कोच मुश्किल में, कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन से पुलिस ने पूछे 18 सवाल
केपीएल में स्पॉट फिक्सिंग को लेकर पुलिस ने अब तक कई खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया है (फाइल फोटो)

पुलिस ने कई खिला‌ड़ियों के बयान रिकॉर्ड करके उन्हें सहयोग करने के लिए और कभी भी बुलाने पर हाजिर होने के लिए कहा है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2019, 11:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले कुछ समय से कर्नाटक प्रीमियर लीग देश भर में चर्चा में है. लेकिन अपने खेल के कारण नहीं बल्कि स्पॉट फिक्सिंग को लेकर. पिछले कुछ दिनों में कई खिलाड़ियों काे क्राइम ब्रांच पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है, जिसके बाद एक के बाद एक नए खुलासे हो रहे हैं. फिलहाल तो बेंगलुरु पुलिस ने कर्नाटक स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन (Karnataka State Cricket Association) और फ्रेंचाइजियों  को नो‌टिस भेजकर 18 सवाल पूछे हैं और उन्हें तय सीमा में जवाब देने के लिए कहा गया है. जॉइंट कमिश्नर क्राइम संदीप पाटिल ने कहा कि जांच में कुछ और टीम के मालिकों और कोचों के बारे में खुलासा हुआ है, इसीलिए कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन और कर्नाटक प्रीमियर लीग की सभी टीमों को नोटिस भेजा गया है.

गौतम के फंसने पर लगा ‌था बड़ा झटका
इससे पहले पुलिस ने केपीएल (KPL) टीम बेल्लारी के कप्तान सी गौतम (C Gautam) और अबरार काजी (Abrar Anjum Kazi) को हिरासत में लिया था. दोनों खिलाड़ियों पर केपीएल के इस सीजन के खिताबी मुकाबले के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने का आरोप है. केपीएल का खिताबी मुकाबला बेल्लारी और हुबली के बीच खेला गया था. गौतम का नाम फिक्सिंग में आने से क्रिकेट जगत  को बड़ा झटका लगा था, क्योंकि गाैतम आईपीएल की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, दिल्ली डेयरडेविल्स और मुंबई इंडियंस का भी हिस्सा रह चुके हैं. वहीं अबरार रणजी ट्रॉफी प्लेयर हैं.

C Gautam
बेल्लारी के कप्तान सी गौतम को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था


कई खिला‌ड़ियों के दर्ज हुए बयान
पुलिस सूत्रों के अनुसार जांच के  दौरान कई और खिलाड़ियों के भी बयान दर्ज किए गए हैं. उन्हें सहयोग देने के लिए कहा गया है. साथ भी यह भी कहा गया है कि बुलाने पर उन्हें आना होगा. इन दो खिला‌ड़ियों से पहले निशांत सिंह शेखावत (Nishanth Singh Shekhawat) को पुलिस ने केपीएल में स्पॉट फिक्सिंग मामले से जुड़े होने के कारण गिरफ्तार किया था. शेखावत पर पिछले सीजन में बैंगलोर और बेलगावी टीम के बीच खेले गए मुकाबले में फिक्सिंग का आरोप है. उन पर आरोप है कि उन्होंने धीमी बल्लेबाजी के लिए पांच लाख रुपये ‌लिए ‌थे. जांच के दौरान पुलिस बालेगावी पैंथर्स के मालिक अली, बेंगलुरु ब्लास्टर्स के गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद और बल्लेबाज विश्वनाथन को भी गिरफ्तार कर चुकी है.

रजत शर्मा पर लोकपाल के आदेश को शीर्ष परिषद ने किया खारिज
Loading...

दो रुपये की पेप्सी, रहीम भाई..., मैच के बीच जमकर ट्रोल हुआ बांग्लादेशी खिलाड़ी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 11:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...