IND VS ENG: छोटे भाई हार्दिक से ODI डेब्यू कैप पाकर छलके क्रुणाल पंड्या की आंखों से आंसू

इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे में क्रुणाल पंड्या और प्रसिद्ध कृष्णा ने डेब्यू किया. जब हार्दिक ने क्रुणाल को डेब्यू कैप सौंपी तो वो भावुक हो गए. (BCCI/Twitter)

इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे में क्रुणाल पंड्या और प्रसिद्ध कृष्णा ने डेब्यू किया. जब हार्दिक ने क्रुणाल को डेब्यू कैप सौंपी तो वो भावुक हो गए. (BCCI/Twitter)

इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे में टीम इंडिया ने कर्नाटक के तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) और बड़ौदा के ऑलराउंडर क्रुणाल पंड्या (krunal Pandya) को प्लेइंग-11 में मौका दिया. छोटे भाई हार्दिक पंड्या(Hardik Pandya) से वनडे की डेब्यू कैप पाकर क्रुणाल भावुक हो गए और उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 1:58 PM IST
  • Share this:
पुणे. इंग्लैंड के खिलाफ तीन वनडे की सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया (Team India) ने कर्नाटक के तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) और बड़ौदा के ऑलराउंडर क्रुणाल पंड्या (krunal Pandya) को प्लेइंग-11 में मौका दिया. ये प्रसिद्ध का पहला इंटरनेशनल मैच है. इन दोनों ने हाल ही में खत्म हुए घरेलू वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में अच्छा प्रदर्शन किया था. इसी के आधार पर दोनों को इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए चुना गया था. क्रुणाल को छोटे भाई हार्दिक ने वनडे की डेब्यू कैप सौंपी. अपने भाई से कैप मिलने के बाद क्रुणाल भावुक हो गए और उन्होंने कैप को आसमान की तरफ दिखाते हुए अपने पिता को याद किया. उनके पिता हिमांशु पंड्या की मौत इसी साल जनवरी में मौत हो गई थी. हार्दिक और क्रुणाल दोनों पिता के बहुत करीब थे.

पिछले महीने जब क्रुणाल ने विजय हजारे ट्रॉफी में त्रिपुरा के खिलाफ 97 गेंद पर 127 रन की पारी खेली थी. तब भी उन्होंने अपने पिता को याद किया था. दरअसल, ये लिस्ट-ए क्रिकेट में क्रुणाल का पहला शतक था. लेकिन इसे देखने के लिए उनके पिता मौजूद नहीं थे. इसे लेकर वो भावुक हो गए थे और उन्होंने ट्विटर पर लिखा था कि यह पहला मौका था जब मैंने शतक मारा और पिताजी इस मैच को देखने के लिए मेरे साथ मौजूद नहीं थे. वो अब इस दुनिया में नहीं है. यह सोचकर ही मेरा दिल भर आता है. लेकिन मैं उन्हें जितना जानता था. उससे एक बात तो साफ है अगर वो मेरी पारी देख रहे होते तो मेरे हर रन पर खुश होते और कहते शाबाश क्रुणाल शाबाश, रमतो रेहजे (जमे रहो). मैं अपनी यह पारी पिता को समर्पित करता हूं.

NZ vs BAN: जिम्मी नीशम की शानदार फुटबॉल स्किल, पैर से किया तमीम इकबाल को रनआउट

IND vs ENG: 'नो आर्चर, नो रूट' वाले बयान पर आकाश चोपड़ा ने कर दी माइकल वॉन की बोलती बंद
पिता ने कहा था मेरे वक्त आने वाला है: क्रुणाल

इस ऑलराउंडर ने आगे लिखा था कि जब मैंने जनवरी में सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट में 76 रन बनाए थे तो मेरी उनसे क्रिकेट को लेकर बात हुई थी. तब उन्होंने कहा था कि बेटा तुम्हारा वक्त बस अब शुरू हुआ है. ये मेरे पिताजी के आखिरी शब्द थे. जिसके मायने मुझे आज समझ में आते हैं.

क्रुणाल ने विजय हजारे ट्रॉफी में बड़ौदा के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए थेक्रुणाल ने विजय हजारे ट्रॉफी में बड़ौदा की कप्तानी करते हुए पांच मैच में 388 रन बनाने के साथ ही पांच विकेट भी लिए थे. उधर, दूसरी ओर प्रसिद्ध कृष्णा भी टीम इंडिया की जर्सी पहनने को लेकर बहुत खुश थे. उन्होंने एक दिन पहले ही सोशल मीडिया पर एक फोटो शेयर कर भारत के लिए खेलने का मौका मिलने पर खुशी इजहार किया था. उन्होंने लिखा था कि यह पल मुझे हमेशा याद रहेगा. मैं इसे संजो के रखूंगा. सभी क्रिकेटर का सपना होता है कि वह देश के लिए खेले.






25 साल के प्रसिद्ध का ये पहला इंटरनेशनल मैच

25 साल के प्रसिद्ध कृष्णा ने एक भी इंटरनेशनल मुकाबला नहीं खेला है. वे कर्नाटक से घरेलू क्रिकेट में खेलते हैं. कृष्णा 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने में सक्षम हैं. कृष्णा ने पिछले दिनों हुए विजय हजार ट्रॉफी और मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार खेल दिखाया था.कृष्णा घरेलू आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) के लिए खेलते हैं. कृष्णा ने 2015 में पहला फर्स्ट क्लास का मैच खेला था. हालांकि इस फॉर्मेट में उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. इस कारण वे सिर्फ 9 प्रथम श्रेणी मैच खेल पाए हैं. लिस्ट ए और टी20 में वे लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. कृष्णा 48 लिस्ट ए गेम में 23 की औसत से 81 विकेट ले चुके हैं. उन्होंने 40 टी20 में 35 की औसत से 33 विकेट लिए हैं. प्रसिद्ध कृष्णा ने आईपीएल में 24 मैच में 18 विकेट लिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज