• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • KKR के मैनेजमेंट पर बोले कुलदीप यादव- ना किसी को भरोसा, ना कोई बात करता है

KKR के मैनेजमेंट पर बोले कुलदीप यादव- ना किसी को भरोसा, ना कोई बात करता है

कुलदीप यादव को आईपीएल 2021 के पहले फेज में KKR ने एक भी मैच में नहीं उतारा था. (Kuldeep Yadav Inistagram)

कुलदीप यादव को आईपीएल 2021 के पहले फेज में KKR ने एक भी मैच में नहीं उतारा था. (Kuldeep Yadav Inistagram)

चाइनामैन स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) को पहले टी20 विश्व कप (ICC T20 World Cup 2021) की टीम में शामिल नहीं किया गया तो अब उन्होंने अपनी आईपीएल टीम कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को लेकर बड़ा खुलासा किया. कुलदीप ने कहा कि केकेआर टीम मैनेजमेंट में कोई बात ही नहीं करता. ऐसा लगता है कि उन्हें बतौर गेंदबाज मेरी क्षमताओं पर विश्वास नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. चाइनामैन स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) का समय ठीक नहीं चल रहा है. पहले टी20 विश्व कप (ICC T20 World Cup 2021) की टीम से उनका पत्ता कटा और अब उन्होंने अपनी आईपीएल टीम कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को लेकर बड़ा खुलासा किया है. कुलदीप ने कहा कि केकेआर टीम मैनेजमेंट में कोई बात ही नहीं करता. ऐसा लगता है कि उन्हें मेरी क्षमताओं पर विश्वास नहीं है. कई बार उन्हें यह भी नहीं पता होता है कि वह प्लेइंग इलेवन का हिस्सा होंगे भी या नहीं और टीम उनसे क्या उम्मीद कर रही है.

    कुलदीप ने पूर्व भारतीय बल्लेबाज और कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) से उनके यू-ट्यूब चैनल पर बातचीत में यह खुलासा किया कि कई बार ऐसा भी होता है जब वो प्लेइंग-11 में रहने के लायक होते हैं. लेकिन उन्हें टीम में शामिल नहीं किया जाता है और उन्हें इसकी वजह भी नहीं पता होती है. उन्होंने कहा कि कभी-कभी आपको लगता है कि आप टीम के लिए मैच जीत सकते हैं. लेकिन आप यह नहीं जान पाते हैं कि क्यों आप टीम से बाहर हैं. टीम मैनेजमेंट सिर्फ 2 महीने की प्लानिंग के हिसाब से आता है, जिससे आपको अपनी भूमिका के बारे में पता ही नहीं चल पाता है.

    KKR ने मुझसे कभी बात नहीं की: कुलदीप
    कुलदीप ने आगे खुलासा किया कि जब कोई खिलाड़ी टीम इंडिया के प्लेइंग-11 का हिस्सा नहीं होता है, तो टीम मैनेजमेंट उससे बात करता है लेकिन केकेआर के प्रबंधन के साथ ऐसा नहीं है. कई बार तो ऐसा महसूस होता है कि एक गेंदबाज के रूप में टीम का आप पर विश्वास नहीं है. ऐसा तभी होता है जब टीम के पास कई विकल्प होते हैं और फिलहाल, केकेआर के पास स्पिन गेंदबाजी में काफी विकल्प हैं. मुझे याद है कि मैंने आईपीएल के पहले हाफ में अपनी भूमिका को लेकर केकेआर के टीम मैनेजमेंट से बात की थी. लेकिन किसी ने मुझे सफाई नहीं दी.

    IPL 2021: इन 15 खिलाड़ियों ने बीच में छोड़ा अपनी टीम का साथ, UAE में नहीं खेलेंगे

    ‘भारतीय कप्तान होने से संवाद बेहतर होता है’
    इस भारतीय स्पिनर ने देसी और विदेशी कप्तान को लेकर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि विदेशी की तुलना में भारतीय कप्तान होने से बहुत फर्क पड़ता है. क्योंकि तब कोई भी खिलाड़ी आसानी से उसके पास जा सकता और उससे पूछ सकता है कि वह प्लेइंग इलेवन का हिस्सा क्यों नहीं है?. विदेशी खिलाड़ी के कप्तान होने के कारण कई बार बेहतर संवाद नहीं हो पाता है. मुझे नहीं पता कि ऑयन मोर्गन मुझे कैसे देखते हैं. ऐसे में कम्युनिकेशन गैप बढ़ जाता है.

    महेंद्र सिंह धोनी किस दिग्गज की वजह से बने टीम इंडिया के मेंटॉर? गांगुली ने किया खुलासा

    कुलदीप आईपीएल 2021 में 1 मैच भी नहीं खेले
    कुलदीप यादव को आईपीएल 2021 के पहले फेज में भी केकेआर ने एक मैच में भी मौका नहीं दिया था. पिछले साल जब यूएई में टूर्नामेंट हुआ था, तब भी वो 5 मैच ही खेले थे और सिर्फ 1 विकेट ले पाए थे. इसके बाद से ही केकेआर में वो दरकिनार हो गए. क्योंकि प्लेइंग-11 में उनकी जगह लेने के लिए शाकिब अल हसन, सुनील नरेन जैसे खिलाड़ी हैं. जो गेंद के साथ ही बल्ले से भी धमाल मचा सकते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज