होम /न्यूज /खेल /विदेश में टेस्ट रिकॉर्ड बेहतर करने की राह पर कुंबले-कोहली: गिलक्रिस्ट

विदेश में टेस्ट रिकॉर्ड बेहतर करने की राह पर कुंबले-कोहली: गिलक्रिस्ट

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर और बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के तौर पर अनिल कुंबले की नियुक्ति के फैसले की सराहना की है।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर और बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के तौर पर अनिल कुंबले की नियुक्ति के फैसले की सराहना की है।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर और बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के तौर पर अनिल कुंब ...अधिक पढ़ें

    मुंबई। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर और बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के तौर पर अनिल कुंबले की नियुक्ति के फैसले की सराहना की है। साथ ही गिलक्रिस्ट ने कहा कि कुंबले और टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली की जोड़ी विदेशी जमीन पर भारत के टेस्ट मैचों के रिकॉर्ड को बेहतर बनाने की ओर सकारात्मक कदम बढ़ा रही है।

    जून में भारत के मुख्य कोच के तौर पर नियुक्त किए गए पूर्व कप्तान कुंबले ने वेस्टइंडीज के खिलाफ हुई टेस्ट मैचों की सीरीज में भारतीय टीम को जीत दिलाकर अपने कार्यकाल की सफल शुरुआत कर ली है। हालांकि, इसका एक मैच खेला जाना अभी बाकी है और वह जारी है। इस जीत के साथ ही भारत अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईओसी) की टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंच जाएगा।

    ऑस्ट्रेलिया के 44 वर्षीय दिग्गज खिलाड़ी ने कुंबले की एक सम्मानित क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में तारीफ की, जिन्होंने भारतीय टीम का सही मार्गदर्शन किया है।गिलक्रिस्ट ने कहा कि वेस्टइंडीज में जीती गई सीरीज दर्शाती है कि कुंबले और कोहली की जोड़ी काफी अच्छा काम कर रही है।

    एक इंटरव्यू में गिलक्रिस्ट ने बताया कि यह काफी अच्छी नियुक्ती है। कुंबले एक सम्मानजनक खिलाड़ी हैं और एक ऐसे व्यक्ति है, जो भारतीय टीम को सही दिशा में ले जा रहे हैं। गिलक्रिस्ट ने कहा कि कुंबले और कोहली की जोड़ी के पास टेस्ट क्रिकेट रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर पहुंचने के अवसर हैं। उनका मुख्य ध्यान इस प्रारूप में भारत के रिकॉर्ड में सुधार लाने पर है और इस ओर सकारात्मक परिणाम भी नजर आने लगे हैं।

    अपने युग के आक्रामक बल्लेबाज माने जाने वाले गिलक्रिस्ट ने भारत के सीमित ओवरों के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का पक्ष लेते हुए कहा कि 2011 विश्व कप विजेता टीम के कप्तान के पास निश्चित तौर पर अपनी टीम को देने के लिए काफी कुछ है। उन्होंने यह भी कहा कि कोहली क्रिकेट के सभी तीन प्रारूपों में भारतीय टीम की कप्तानी को पाने की जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।

    गिलक्रिस्ट ने कहा कि क्रिकेट के तीनों प्रारूपों की कप्तानी के लिए कोहली को जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। धोनी अब भी क्रिकेट में शामिल हैं और इसलिए कोहली के लिए यह समय की बात है। धोनी के खेलने को जारी रखने के बारे में पूछे जाने पर गिलक्रिस्ट ने कहा कि निश्चित तौर पर उन्हें खेलना जारी रखना चाहिए।

    भारत और वेस्टइंडीज इस माह के अंत में फ्लोरिडा में दो मैचों की टी-20 अंतर्राष्ट्रीय सीरीज खेलेंगे और गिलक्रिस्ट ने इस पहल को अमेरिका तथा विश्व के अन्य देशों में एक पहल के जरिए लोकप्रिय बनाने की तारीफ की है। उनका कहना है कि यह काफी शानदार है और इसे अन्य देशों में भी आगे बढ़ाया जाना चाहिए। पिछले साल 50 ओवरों का विश्व कप खिताब पांचवीं बार जीतने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया का अब भी 20 ओवरों वाले क्रिकेट प्रारूप में कीर्तिमान स्थापित करना बाकी है।

    गिलक्रिस्ट का मानना है कि इस प्रारूप में टीम के बेकार प्रदर्शन के पीछे ऑस्ट्रेलियाई टीम में स्पिन गेंदबाजों की कमी मुख्य कारण है। ऑस्ट्रेलिया के पर्यटन परियोजना के लिए शुरू की गई पहल 'फ्रेंड ऑफ आस्ट्रेलिया' के ब्रैंड अधिवक्ता गिलक्रिस्ट यहां शहर में मौजूद थे। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि अधिक से अधिक भारतीय उनके देश का दौरा करें और इसकी हर चीज का अनुभव लें।

    Tags: Adam gilchrist, Anil Kumble, Virat Kohli

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें