2001 कोलकाता टेस्‍ट में द्रविड़-लक्ष्‍मण के चमत्‍कार को इस श्रीलंकाई जोड़ी ने दोहराया

न्यूजीलैंड में यह पहली बार हुआ है कि पूरे दिन के खेल के दौरान एक भी टेस्ट विकेट नहीं गिरा.

भाषा
Updated: December 21, 2018, 4:22 PM IST
भाषा
Updated: December 21, 2018, 4:22 PM IST
भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 2001 में कोलकाता में खेले गए टेस्‍ट को हमेशा याद किया जाता है, लेकिन 17 साल बाद एक बार फिर उस घटना को श्रीलंका के एंजिलो मैथ्यूज और कुसाल मेंडिस ने ताजा कर दिया है. इन दोनों ने चौथे विकेट की साझेदारी में अब तक न्‍यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्‍ट के चौथे दिन 246 रन जोड़ लिए हैं और इसके लिए इन्‍होंने 95.4 ओवर तक बल्‍लेबाजी की है.

दरअसल, 2001 में द्रविड़ और लक्ष्‍मण (376 रन की साझेदारी) ने बिना विकेट गंवाए एक पूरा दिन ऑस्‍ट्रेलिया को विकेट के लिए तरसा दिया था. जबकि हाल ही में ऐसा श्रीलंकाई बल्‍लेबाजों ने किवी टीम के खिलाफ किया है.

खैर, वेलिंग्‍टन टेस्‍ट में मैथ्यूज और मेंडिस ने शतक जड़ने के अलावा पूरे दिन बल्लेबाजी की, जिससे श्रीलंका ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के चौथे दिन मंगलवार को मैच ड्रॉ कराने की उम्मीद जगा दी है.



चौथे दिन का खेल खत्म होने पर मेंडिस 116 जबकि मैथ्यूज 117 रन बनाकर खेल रहे थे. दोनों चौथे विकेट के लिए अब तक 246 रन की अटूट साझेदारी कर चुके हैं जो न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रीलंका का रिकॉर्ड है.


श्रीलंका ने इन दोनों की पारियों की बदौलत दूसरी पारी में तीन विकेट पर 259 रन बना लिए हैं.

न्यूजीलैंड में यह पहली बार हुआ है कि पूरे दिन के खेल के दौरान एक भी टेस्ट विकेट नहीं गिरा. दक्षिण अफ्रीका ने टेस्ट क्रिकेट में पिछली बार 2008 में चटगांव में बांग्लादेश के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी.

श्रीलंका ने कल तीन विकेट पर 20 रन बनाए थे. पहली पारी में 296 रन से पिछड़ने वाली श्रीलंका की टीम अब भी न्यूजीलैंड से 37 रन से पीछे है.
Loading...

पिच बिलकुल सपाट हो चुकी है और गेंदबाजों को इससे मदद नहीं मिल रही है जबकि कल बारिश की भी संभावना है जिससे इस टेस्ट के ड्रा होने की संभावना बढ़ गई है.

मेंडिस और मैथ्यूज ने आज पूरे दिन मेजबान टीम के गेंदबाजों को हताश किया. पहली पारी में दो रन बनाने वाले मेंडिस ने अधिक सकारात्मक रवैया अपनाया और शॉर्ट गेंदबाजी के विशेषज्ञ नील वेगनर को निशाना बनाया. मेंडिस ने इस तेज गेंदबाज पर चार चौके मारे जिसके उन्होंने चार ओवर के स्पैल में 35 रन खर्च किए.


मेंडिस ने हालांकि इसके बाद सतर्कता से बल्लेबाजी की. श्रीलंका की पहली पारी में सर्वाधिक 83 रन बनाने वाले मैथ्यूज ने 248 गेंद में नौवां टेस्ट शतक पूरा किया. मेंडिस ने 215 गेंद में छठा शतक जड़ा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...