• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • WTC Final: साइमन डूल बोले- भारतीय तेज गेंदबाजों को मैच अभ्यास की कमी का हो रहा नुकसान

WTC Final: साइमन डूल बोले- भारतीय तेज गेंदबाजों को मैच अभ्यास की कमी का हो रहा नुकसान

WTC Final: भारत और न्यूजीलैंड के बीच फाइनल मुकाबला साउथैम्प्टन में खेला जा रहा है. (PIC: AFP)

WTC Final: भारत और न्यूजीलैंड के बीच फाइनल मुकाबला साउथैम्प्टन में खेला जा रहा है. (PIC: AFP)

WTC Final: डूल ने यह बयान न्यूजीलैंड की पहली पारी में भारतीय तेज गेंदबाजों के उम्मीद से कमतर प्रदर्शन पर दिया है, जिससे भारत के पहली पारी में 217 रन के जवाब में न्यूजीलैंड ने दो विकेट पर 101 रन बना लिए हैं.

  • Share this:
    साउथैम्प्टन. न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज साइमन डूल (Simon Doull) का मानना है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ चल रहे विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final) से पहले मैच अभ्यास की कमी का भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण को नुकसान हो रहा है. डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले न्यूजीलैंड को मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट खेलने का मौका मिला जबकि इस प्रतिष्ठित मुकाबले से पहले भारतीय टीम को मैच अभ्यास का पर्याप्त मौका नहीं मिला. विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई वाली भारतीय टीम ने पिछला पांच दिवसीय मैच मार्च में स्वदेश में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में 3-1 की जीत के दौरान खेला था.

    डूल ने 'क्रिकबज शो' पर हर्षा भोगले से कहा, ''कई बार आप इसे देखते हो और सोचते हो कि क्या उन्हें (भारत को) तैयारी का पर्याप्त मौका मिला. मुझे लगता है कि उन्हें मिला. मुझे लगता है कि पिछले 10-12 दिन में उन्होंने पर्याप्त गेंदबाजी की जिससे कि सुनिश्चित हो कि वे मुकाबले के लिए तैयार रहें.''

    WTC Final: इशांत शर्मा ने एक विकेट लेकर दो रिकॉर्ड बनाए, कपिल देव को पीछे छोड़ा

    उन्होंने कहा, ''लेकिन मैच अभ्यास को दोहरा पाना मुश्किल है. आप अपनी ही दो टीमें बनाकर ऐसा करने का प्रयास कर सकते हो लेकिन यह पर्याप्त नहीं होता और यह महत्वपूर्ण है. मैच अभ्यास की जगह लेना मुश्किल होता है जो आपको बेहतर बनाता है और आप इन मैचों के लिए तैयार होते हो.'' डूल ने यह बयान न्यूजीलैंड की पहली पारी में भारतीय तेज गेंदबाजों के उम्मीद से कमतर प्रदर्शन पर दिया है, जिससे भारत के पहली पारी में 217 रन के जवाब में न्यूजीलैंड ने दो विकेट पर 101 रन बना लिए हैं.

    एजियास बाउल में तेज गेंदबाजी के अनुकूल हालात होने के बावजूद जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी अधिक स्विंग हासिल करने में नाकाम रहे जबकि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों काइल जेमीसन (31 रन पर पांच विकेट), नील वैगनर (40 रन पर दो विकेट) और ट्रेंट बोल्ट (47 रन पर दो विकेट) ने बारिश से प्रभावित मुकाबले में तेज गेंदबाजी के अनुकूल हालात का फायदा उठाते हुए भारत को कम स्कोर पर रोका.

    डूल ने कहा कि न्यूजीलैंड को निश्चित तौर पर इस प्रतिष्ठित मुकाबले से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो मैच खेलने का फायदा मिला. उन्होंने कहा, ''न्यूजीलैंड लार्ड्स में अपने पहले टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ उसी तरह की तैयारी के साथ उतरा था जिस तैयारी के साथ भारत उतरा है.''

    WTC Final: दूरबीन लगाकर देख रहे थे रोहित शर्मा, पत्नी रितिका ने की खिंचाई, बोली- हमारी जासूसी कर रहे हो

    डूल ने कहा, ''न्यूजीलैंड की टीम लगभग 10-11 दिन साउथम्पटन में रही, अपनी टीमों के बीच मुकाबले खेले, ट्रेनिंग, अभ्यास किया और जब वे लार्ड्स में उतरे तो लय में लग रहे थे.'' उन्होंने कहा, ''टिम साउथी ने शानदार गेंदबाजी की, डेवोन कॉनवे ने यहां 10 दिन के नेट सत्र के बाद लॉर्ड्स में दोहरा शतक जड़ा. ऐसा लग रहा था कि वे तैयार हैं.'' डूल ने कहा कि इशांत शर्मा को छोड़कर भारतीय एकादश में कोई वास्तविक स्विंग गेंदबाज नहीं है.

    उन्होंने कहा, ''वे वास्तविक स्विंग गेंदबाज नहीं हैं. मुझे पता है कि जसप्रीत बुमराह गेंद को स्विंग करा सकता है, इशांत स्विंग गेंदबाज है, वह राउंड द विकेट गेंदबाजी करते हुए उस कोण के साथ आता है कि कलाई से गेंद बाहर की ओर स्विंग होती है. वह गेंद को बायें हाथ के बल्लेबाजों से दूर और दायें हाथ के बल्लेबाजों के लिए अंदर लाता है.''

    डूल ने कहा, ''मोहम्मद शमी कभी वास्तविक स्विंग गेंदबाज नहीं रहा. वह सीम गेंदबाज है. मेरे लिए बुमराह, शमी नहीं बल्कि इशांत अधिक महत्वपूर्ण है. मैंने हालांकि गेंद के अधिक सीम करने की उम्मीद की थी. शमी और बुमराह ने कभी कभी सीम गेंदबाजी की लेकिन निरंतर रूप से ऐसा नहीं कर पाए.''

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज