'लालू' बने दुनिया की सबसे गरीब टीम के कोच, बस से स्टेडियम पहुंचते हैं इंटरनेशनल खिलाड़ी!

अफगानिस्तान के पूर्व कोच को मिली जिम्बाब्वे की जिम्मेदारी


Updated: May 17, 2018, 5:40 PM IST
'लालू' बने दुनिया की सबसे गरीब टीम के कोच, बस से स्टेडियम पहुंचते हैं इंटरनेशनल खिलाड़ी!
'लालू' बने दुनिया की सबसे गरीब टीम के कोच, बस से स्टेडियम पहुंचते हैं इंटरनेशनल खिलाड़ी!

Updated: May 17, 2018, 5:40 PM IST
पूर्व भारतीय खिलाड़ी और अफगानिस्तान के पूर्व कोच लालचंद राजपूत को जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम का अंतरिम कोच नियुक्त किया गया है. भारत के लिए दो टेस्ट और चार वनडे खेलने वाले लालचंद राजपूत इससे पहले अफगानिस्तान के कोच थे उन्होंने दो साल तक इस टीम के खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने में योगदान दिया था. अब लालचंद राजपूत को जिम्बाब्वे की क्रिकेट टीम सौंपी गई है जो कई सालों से खराब क्रिकेट खेल रही है.

लालचंद राजपूत का अनुभव
क्रिकेट की दुनिया में लालू के नाम से मशहूर लालचंद राजपूत साल 2007 में टीम इंडिया के मैनेजर थे और धोनी की अगुवाई में उस टीम ने वर्ल्ड टी20 पर कब्जा किया था. इसके बाद लालचंद राजपूत साल 2008 में मुंबई इंडियंस के कोच रहे लेकिन इस दौरान वो विवादों में फंस गए. मुंबई और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच हुए मुकाबले के बाद हरभजन सिंह ने श्रीशांत को थप्पड़ मार दिया था और लालचंद राजपूत उस घटना पर हंस रहे थे. लालचंद राजपूत की ये तस्वीर कैमरे में कैद हो गई थी.



साल 2016 में लालचंद राजपूत को अफगानिस्तान का हेडकोच बनाया गया. उन्हें इंजमाम उल हक की जगह ये कार्यभार सौंपा गया. लालचंद राजपूत के कार्यकाल में अफगानिस्तान की टीम ने वेस्टइंडीज को उसी के घर पर एक वनडे मैच में मात दी और इसके बाद इस टीम को वनडे स्टेटस मिला. हालांकि साल 2018 में लालचंद राजपूत का कॉन्ट्रैक्ट आगे नहीं बढ़ाया गया और वेस्टइंडीज के पूर्व खिलाड़ी फिल सिमंस को ये जिम्मेदारी सौंपी गई. अब राजपूत को जिम्बाब्वे की कमान मिली है. जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड बेहद ही गरीब है और उसके इंटरनेशनल खिलाड़ी बस से स्टेडियम पहुंचते हैं.  लेकिन जिम्बाब्वे बोर्ड ने लालचंद राजपूत की उपलब्धियों को देखते हुए उन्हें अच्छी सैलरी पर रखा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर