स्कोर था 3 विकेट पर 34 रन, फिर 1 रन जोड़कर ढेर हो गई पूरी टीम

13 ओवर में 35/3 का स्‍कोर बनाने के बाद अगली 23 गेंदों में छह विकेट गंवाकर वह इसी स्‍कोर पर आउट हो गई.

News18Hindi
Updated: January 9, 2019, 5:32 PM IST
स्कोर था 3 विकेट पर 34 रन, फिर 1 रन जोड़कर ढेर हो गई पूरी टीम
रणजी ट्रॉफी
News18Hindi
Updated: January 9, 2019, 5:32 PM IST
भारत में इन दिनों रणजी ट्रॉफी का जोर जारी है और हर रोज नये रिकॉर्ड बनते-टूटते देखे जा सकते हैं, जबकि हाल फिलहाल एक अजीब रिकॉर्ड मध्‍य प्रदेश के नाम हुआ. तीन विकेट गंवाकर 35 रन बनाने वाली ये टीम इसी स्‍कोर पर ढेर हो गई.

दरअसल, इंदौर में रणजी ट्रॉफी के इलीट ग्रुप बी के तहत मध्‍य प्रदेश और आंध्र प्रदेश की भिड़ंत हुई. एमपी के कप्‍तान नमन ओझा ने टॉस जीतकर आंध्र प्रदेश को पहले बल्‍लेबाजी का मौका दिया और वह 132 रन पर ढेर हो गई. मध्‍य प्रदेश के लिए ईश्‍वर पांडे ने चार विकेट लिए तो गौरव यादव और के कार्तिकेय ने तीन-तीन विकेट उखाड़े. पलटवार करने उतरी मध्‍य प्रदेश की टीम पी गिरीनाथ रेड्डी (6/29) के आगे 91 रन पर पवेलियन लौट गई.

दूसरी पारी में आंध्र ने 301 रन बनाकर दम दिखाया और मध्‍य प्रदेश को 343 रन का लक्ष्‍य दिया. दूसरी पारी में नमन ओझा की टीम ने तीन विकेट के नुकसान पर 35 रन बना लिए थे, लेकिन इस बाद जो हुआ वो हैरान करने वाला था. 35 रन के स्‍कोर पर ही उसने अपने बाकी सभी विकेट गंवा दिए और रणजी ट्रॉफी के इतिहास में ऐसा वाकया पहले शायद ही हुआ हो.

13 ओवर में 35/3 का स्‍कोर बनाने के बाद अगली 23 गेंदों में छह विकेट गंवाकर वह इसी स्‍कोर पर आउट हो गई. उसने 14वें ओवर की पहली गेंद पर चौथा, पांचवीं गेंद पर पांचवां, 16वें ओवर की दूसरी गेंद पर छठा, तीसरी पर सातवां और पांचवीं पर 8वां विकेट गंवाने के बाद 17वें ओवर की पांचवीं गेंद पर नौवां विकेट गंवाया, जबकि गौरव यादव चोट की वजह (absent hurt) से बल्‍लेबाजी के लिए मैदान में नहीं उतरे. मध्‍य प्रदेश के आखिरी सात बल्‍लेबाज़ खाता भी नहीं खोल सके.

आंध्र ने इस मैच को 307 रन से अपने नाम करते हुए नॉकआउट के लिए क्‍वालीफाई कर लिया है. शशिकांत ने 6/18 और विजयकुमार ने 3/17 विकेट लिए, जबकि पहली पारी में छह विकेट लेने वाले गिरीनाथ को बॉलिंग करने का मौका ही नहीं मिला.

ये भी पढ़ें-स्‍टीव वॉ-रिकी पोंटिंग के बाद दुनिया के 'दमदार' कप्‍तान हैं विराट, धोनी-रिचर्ड्स पीछे छूटे
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर