टीम में पॉलिटिक्‍स से भड़का ये क्रिकेटर, ठुकराया वर्ल्‍ड कप 2019 का ऑफर

महेला जयवर्धने ने 2015 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. इसके बाद से श्रीलंकन क्रिकेट की हालत खस्‍ता है.

News18Hindi
Updated: May 26, 2019, 5:54 PM IST
टीम में पॉलिटिक्‍स से भड़का ये क्रिकेटर, ठुकराया वर्ल्‍ड कप 2019 का ऑफर
श्रीलंका क्रिकेट में महेला जयवर्धने ने बड़ा योगदान दिया है.
News18Hindi
Updated: May 26, 2019, 5:54 PM IST
श्रीलंका के पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में श्रीलंकाई टीम से जुड़ने से मना कर दिया है. उन्‍होंने बताया कि देश में क्रिकेट के जो आज हालत है, उसके कारण उनका मोहभंग हो गया है. जयवर्धने ने ईएसपीएनक्रिकइंफो को बताया, 'मुझे बुलाया गया था लेकिन मेरे पास इससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण काम हैं. मुझसे जिस भूमिका की उम्मीद की गई थी, मैं उसे समझ नहीं पाया. अब मुझे इसमें शामिल करने का कोई मतलब नहीं है. टीम चुन ली गई है और अब सबकुछ हो चुका है. अब मेरे लिए इसमें कोई जगह नहीं है.'

जयवर्धने ने इससे पहले श्रीलंका की घरेलू क्रिकेट में सुधार को लेकर अपनी योजना पेश की थी, लेकिन उस पर कोई ध्‍यान नहीं दिया गया. इसके अलावा उन्होंने लगातार कप्तान बदले जाने को लेकर भी अपनी निराशा जाहिर की. उन्‍होंने कहा था कि खिलाड़ी राजनीति के शिकार हुए हैं. जयवर्धने ने एंजेलो मैथ्‍यूज और दिनेश चांडीमल को लेकर भी सवाल उठाए. उन्‍होंने कहा कि ये दोनों कप्‍तानी में लगातार बदलाव के लिए जिम्‍मेदार हैं.



जयवर्धने ने 2015 में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. इसके बाद एंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चंडीमल, थिसारा परेरा, लसिथ मलिंगा, चमारा कपूगेडरा और दिमुथ करुणारत्ने को कप्तान बनाया गया. अभी दिमुथ करुणारत्‍ने को श्रीलंका टीम की कप्‍तानी सौंपी गई है. वे लंबे समय से वनडे टीम से बाहर थे लेकिन दक्षिण अफ्रीका में टेस्‍ट सीरीज जीताने के बाद उन्‍हें वनडे की जिम्‍मेदारी भी सौंप दी गई थी.

Mahela jayawardene, sri lanka cricket, icc cricket world cup 2019, महेला जयवर्धने, श्रीलंका क्रिकेट टीम, क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019
महेला जयवर्धने ने 2015 में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था.


पूर्व कप्तान ने कहा, 'टीम प्रबंधन के साथ अपने छोटे से योगदान से मैं अब भी खुश हूं, लेकिन श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के साथ कुछ नहीं करूंगा. मैं उनमें से नहीं हूं, जो किसी के लिए भी काम करना शुरू कर दूं, खासकर तब जब मुझे पता है कि मेरे लिए वह सही जगह नहीं है.'

जयवर्धने ने कहा, " मैंने और कुमार (संगकारा) ने केवल यही सलाह दी थी कि एंजेलो को क्रिकेट में राजनीति नहीं लानी चाहिए थी. उन्हें एक मजबूत कप्तान बनने की जरूरत थी. लेकिन उन्होंने क्रिकेट को राजनीति से जोड़ दिया. उन्होंने अन्य लोगों को यह अधिकार दे दिया कि वे निर्णय लें.'

पाकिस्‍तान की हार के बाद जमकर चली गोलियां, फायरिंग की आवाज से गूंजा आसमान
Loading...

आंखों के सामने भाई की हत्‍या, फिर गुंडों ने लूटा, अब इसकी गेंदों से कांपते हैं बल्‍लेबाज
ICC Cricket World Cup 2019 में सिर्फ खिलाड़ी नहीं, ये 5 हसीनाएं भी लगाएंगी मैदान पर 'आग'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...