अपना शहर चुनें

States

पिता की मौत के बाद इस भारतीय खिलाड़ी को नहीं आ रही नींद, रोज सताती है ये बात

पिता की मौत के बाद मनदीप सिंह को नहीं आ रही नींद, दिल में है ये दुख (साभार-मनदीप सिंह इंस्टाग्राम)
पिता की मौत के बाद मनदीप सिंह को नहीं आ रही नींद, दिल में है ये दुख (साभार-मनदीप सिंह इंस्टाग्राम)

मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अपने पिता को खो दिया था लेकिन वो वापस भारत नहीं लौटे, उनकी तरह ही पंजाब के क्रिकेटर मनदीप सिंह (Mandeep Singh) भी आईपीएल के चलते पिता के अंतिम संस्कार में मौजूद नहीं रह पाए थे

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 8:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) ने जब ब्रिसबेन टेस्ट में पांच विकेट हासिल किये थे तो उनकी इस कामयाबी पर भारतीय क्रिकेटर मनदीप सिंह रो पड़े थे. ये खुलासा खुद मनदीप सिंह (Mandeep Singh) ने एक इंटरव्यू में किया है. मनदीप सिंह ने बताया कि अपने पिता की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने का दर्द वो समझते हैं. बता दें मनदीप सिंह को भी मोहम्मद सिराज की तरह ही ऐसा मुश्किल फैसला लेना पड़ा था. मनदीप सिंह जब आईपीएल 2020 खेल रहे थे तो उनके पिता की मौत हो गई लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब के इस खिलाड़ी ने टीम के साथ बने रहने का फैसला किया. मनदीप सिंह अपने पिता हरदेव सिंह का ख्वाब पूरा करना चाहते हैं. हरदेव सिंह चाहते थे कि मनदीप सिंह की टीम इंडिया में वापसी हो. बता दें मनदीप सिंह ने भारत के लिए 3 टी20 मैच खेले हैं, लेकिन साल 2016 के बाद उनका टीम में चयन नहीं हुआ.

मनदीप सिंह हाल ही में पिता भी बने हैं. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेल रहे मनदीप सिंह का बेटा हुआ है लेकिन वो उसके जन्म के दौरान भी घर पर मौजूद नहीं थे. मनदीप सिंह पंजाब की टीम के साथ बायो बबल में हैं और उनके अच्छे प्रदर्शन के दम पर टीम क्वार्टर फाइनल में पहुंची है. मनदीप सिंह पंजाब के कप्तान हैं और वो अपनी जिम्मेदारियों को समझते हैं लेकिन इस खिलाड़ी ने ये भी कहा कि उन्हें अपने पिता के अंतिम संस्कार और बेटे के जन्म के दौरान घर पर मौजूद ना रहने का जिंदगी भर मलाल रहेगा.

IPL के पूर्व ऑक्शनर ने खोला राज, बताया क्यों धोनी को नहीं खरीद पाई RCB



मनदीप सिंह हुए भावुक
टाइम्स ऑफ इंडिया से खास बातचीत में मनदीप सिंह बोले, 'मेरी पत्नी ने कहा कि अगले कुछ साल आपके करियर के लिए बेहद अहम हैं और क्रिकेट ही आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए.मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं अपने जीवन में इतने कड़े फैसले लूंगा. मुझे जिंदगी भर मलाल रहेगा कि मैं अपने पिता के अंतिम संस्कार और बेटे के जन्म के दौरान वहां मौजूद नहीं रहा. मुझे रात में ठीक से नींद नहीं आती है. हालांकि मैं खुश हूं कि मेरी बीवी और बेटे की सेहत अच्छी है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज