लाइव टीवी

मनीष पांडे ने 9 पारियों में बरसाए 525 रन, केवल 4 बार आउट, उड़ाए 22 छक्‍के

News18Hindi
Updated: October 26, 2019, 8:15 PM IST
मनीष पांडे ने 9 पारियों में बरसाए 525 रन, केवल 4 बार आउट, उड़ाए 22 छक्‍के
मनीष पांडे.

मनीष पांडे ने टीम इंडिया में नंबर 4 की जगह को भरने की दावेदारी पेश की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2019, 8:15 PM IST
  • Share this:
स्‍टार बल्‍लेबाज मनीष पांडे (Manish Pandey) इस समय जबरदस्‍त फॉर्म में हैं. आईपीएल (IPL) के दूसरे हाफ में उनके बल्‍ले से काफी रन निकले थे. इसके बाद कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) और अब विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में इस बल्‍लेबाज ने रनों का अंबार लगा दिया. बल्‍लेबाजी के साथ ही पांडे ने कप्‍तानी में भी जौहर दिखाए और कर्नाटक (Karnataka) को चौथी बार विजय हजारे ट्रॉफी का विजेता बनाया. उनकी कप्‍तानी में कर्नाटक की टीम ने दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) के नेतृत्‍व वाले तमिलनाडु (Tamil Nadu) को शिकस्‍त दी.

मनीष पांडे= 9 पारियों में 525 रन, 105 की औसत
पांडे ने भारत के घरेलू एकदिवसीय टूर्नामेंट में 11 मैचों की 9 पारियों में 525 रन बनाए. उन्‍होंने 1 शतक और 5 अर्धशतक लगाए. 9 में से 4 पारियों में वे नॉट आउट लौटे और इसकी बदौलत उनका औसत 105 का रहा. मनीष पांडे की रन बनाने की रफ्तार भी काफी तेज थी. उन्‍होंने 108 की स्‍ट्राइक रेट से रन बनाए. उनके बल्‍ले से 33 चौके और 22 छक्‍के निकले.

manish pandey, manish pandey fifty, manish pandey news, manish pandey india a, india a vs south africa a, मनीष पांडे, मनीष पांडे फिफ्टी, इंडिया ए वस दक्षिण अफ्रीका ए, इंडिया ए सीरीज
मनीष पांडे की हालिया फॉर्म जबरदस्‍त है.


पांडे की कम पारियां लेकिन रन ज्‍यादा
विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाजों में वे छठे नंबर पर रहे. लेकिन एक बात जो उन्‍हें बाकियों से अलग बनाती है वह यह है कि रन बनाने में उनसे आगे जो बल्‍लेबाज हैं उनमें यशस्‍वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) को छोड़कर बाकी सबने मनीष पांडे से ज्‍यादा पारियां खेली हैं. जायसवाल का प्रदर्शन तो अविश्‍वसनीय रहा जिन्‍होंने केवल 6 पारियों में ही 564 रन उड़ा दिए. कर्नाटक के आखिरी दो मैचों (सेमीफाइनल व फाइनल) में तो मनीष पांडे की बल्‍लेबाजी ही नहीं आई.

मनीष पांडे छक्‍के उड़ाने में तीसरे नंबर पर
Loading...

मनीष पांडे जिन मैचों में आउट हुए उनमें उनका न्‍यूनतम स्‍कोर 48 रन था. यह इकलौता मैच था जिसमें कर्नाटक को हार का सामना करना पड़ा था. कर्नाटक के आखिरी 5 मैचों में से 3 में वे नॉट आउट रहे और बाकी 2 में उन्‍हें बल्‍लेबाजी करने की जरूरत ही नहीं पड़ी. टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा छक्‍के लगाने में वे तीसरे स्‍थान पर रहे. उनसे आगे विष्‍णु विनोद (Vishnu Vinod) (29) और यशस्‍वी जायसवाल (25) रहे.

manish pandey, manish pandey century, karnataka premier league, kpl 2019, belagavi panthers, hubli tigers, मनीष पांडे, मनीष पांडे शतक, कर्नाटक प्रीमियर लीग 2019
मनीष पांडे के नाम आईपीएल में भारत की ओर से पहला शतक लगाने का रिकॉर्ड है.


क्‍या नंबर 4 पर पांडे को मिलेगा मौका
विजय हजारे ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन पर पांडे ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से कहा कि उनके लिए यह अच्छा सीजन था. हालांकि उन्‍होंने आखिरी दो मैचों में बैटिंग न आने पर दुख भी जताया. इस टूर्नामेंट में पांडे ने कर्नाटक के लिए नंबर 4 पर बल्‍लेबाजी की. ऐसे में उन्‍होंने टीम इंडिया में नंबर 4 के लिए भी दावेदारी पेश कर दी है.

पिछले एक साल से भी ज्‍यादा वक्‍त से टीम इंडिया में कोई बल्‍लेबाज नंबर 4 के स्‍पॉट को भर नहीं पाया है. हालांकि इस जगह पर पांडे भी खेल चुके हैं लेकिन वे भी जगह पक्‍की नहीं कर पाए थे. अब उनके पास भारतीय टीम में जगह पक्‍की करने का सुनहरा मौका है.

शास्‍त्री को आया गुस्सा, बोले- जिन्हें जूता पहनना नहीं आता वे धोनी पर बोल रहे

भारत से हार पर डु प्‍लेसी बोले- वे 500 रन बनाते और हमें अंधेरे में बैटिंग देते

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 8:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...