Home /News /sports /

manohar patidar reacts after rajata patidar unbeaten cetury vs lsg in ipl 2022 eliminator

8 साल की उम्र में थामा बल्ला... बना IPL का नया सुपर स्टार, नाबाद शतक को देखकर अचंभित है परिवार

रजत पाटीदार बने आईपीएल का नया सुपर स्टार. (PIC/RCB Instagram)

रजत पाटीदार बने आईपीएल का नया सुपर स्टार. (PIC/RCB Instagram)

Manohar Patidar on Rajat Patidar Unbeaten Century: रजत पाटीदार आईपीएल 2022 मेगा ऑक्शन में अनसोल्ड रहे थे. उन्हें आरसीबी के बेस प्राइस 20 लाख रुपये में अपने साथ जोड़ा है. इस खिलाड़ी ने आईपीएल 2022 एलिमिनेटर में लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ धमाकेदार पारी खेल कई रिकॉर्ड अपने नाम किए. रजत ने मौजूदा सीजन का सबसे तेज शतक लगाया.

अधिक पढ़ें ...

इंदौर. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बल्लेबाज रजत पाटीदार (Rajat Patidar) इस समय सुर्खियों में हैं. रजत ने आईपीएल 2022 के एलिमिनेटर मुकाबले में लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ 49 गेंदों पर शतक ठोककर टीम को रोमांचक जीत दिलाई. पाटीदार 54 गेंदों पर 12 चौकों और 7 छक्कों के दम पर 112 रन बनाकर नाबाद लौटे. इस जीत से आरसीबी की टीम क्वालिफायर 2 में पहुंच गई है जबकि सुपर जायंट्स टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई है. आरसीबी दूसरे क्वालिफायर में 27 मई को राजस्थान रॉयल्स से भिड़ेगी. इस मुकाबले की विजेता टीम को फाइनल का टिकट मिलेगा.

पाटीदार के इंदौर निवासी परिवार का कहना है कि 28 वर्षीय क्रिकेटर की इस चमकीली कामयाबी की नींव में खेल के प्रति बचपन से गहरा समर्पण और अनुशासन है. रजत के पिता मनोहर पाटीदार मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इस शहर के व्यस्त महारानी रोड बाजार में मोटरपंप का कारोबार करते है. उन्होंने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया,’ हमें उम्मीद थी कि रजत आईपीएल के एलिमिनेटर मुकाबले में 50 रन तो बना ही लेगा. लेकिन उसने शतक के साथ नाबाद पारी खेलकर हमें सुखद अचंभे में डाल दिया.

यह भी पढ़ें:VIDEO: शिखर धवन के घर पहुंचने पर किसने की लात-घूंसों की बौछार? भज्जी बोले- बापू तेरे से भी ऊपर के एक्टर निकले

VIDEO: रजत पाटीदार के सिक्स पर झूम उठे कोहली… डगआउट में खड़े होकर कुछ ऐसे मनाया साथी खिलाड़ी के शतक का जश्न

गौरतलब है कि आईपीएल मेगा नीलामी में बिक नहीं सके रजत वैकल्पिक खिलाड़ी के रूप में आरसीबी का हिस्सा बने और बुधवार रात की पारी ने उनकी तकदीर बदल दी है. मध्यप्रदेश के दाएं हाथ के इस बल्लेबाज के पिता के मुताबिक उनके परिवार का क्रिकेट से जुड़ाव रजत के कारण ही हुआ। पाटीदार ने कहा, ‘रजत बचपन से ही क्रिकेट का दीवाना था और खेल के प्रति उसका गहरा रुझान देखकर हमने उसे लगातार प्रोत्साहित किया.’ उन्होंने बताया कि रजत केवल आठ साल की उम्र में इंदौर के एक क्रिकेट क्लब से जुड़ गए थे और 10 साल के होते-होते अपनी उम्र से बड़े लड़कों के साथ मैच खेलने लगे थे.

रजत पाटीदार ने 12वीं तक पढ़ाई की है

पाटीदार याद करते हैं, ‘स्कूल का समय छोड़ दिया जाए, तो घर से क्लब और क्लब से घर-बचपन में हर मौसम में रजत की यही दिनचर्या होती थी. उसके दोस्त-यार भी गिने-चुने ही रहे. वह बचपन से अनुशासन का पक्का है. पाटीदार ने बताया कि क्रिकेट की व्यस्तताओं के चलते रजत केवल 12वीं तक पढ़ सके. उन्होंने बताया, ‘मैंने रजत का दाखिला एक स्थानीय महाविद्यालय में कराया, लेकिन परीक्षाओं के दौरान दूसरे शहरों में रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट व अन्य अहम क्रिकेट स्पधाएं पड़ने के कारण वह पर्चे नहीं दे सका. क्रिकेट में उसका अच्छा प्रदर्शन देखकर मैंने भी उसकी महाविद्यालयीन पढ़ाई पर ज्यादा जोर नहीं दिया.’

‘वह अपने तरीके से क्रिकेट का आनंद लेता है’

पाटीदार ने कहा कि उनके बेटे की क्रिकेट प्रतिभा ईश्वर की देन है और वह अपने तरीके से खेल का आनंद लेता है. उन्होंने कहा, ‘हम लोग बेहद सामान्य तरीके से जीवन जीते हैं और रजत को अच्छे प्रदर्शन के दबाव से हमेशा मुक्त रखते हैं. अगर किसी मैच में वह जल्दी आउट भी हो जाता है, तो मैं उससे कहता हूं कि चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि उसे अगला मौका जल्द मिलेगा.’

Tags: IPL, IPL 2022, Rcb, Royal Challengers Bangalore

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर