होम /न्यूज /खेल /

दिल्ली, यूपी, अफगानिस्तान के बाद मनोज प्रभाकर अब इस देश के मुख्य कोच बने

दिल्ली, यूपी, अफगानिस्तान के बाद मनोज प्रभाकर अब इस देश के मुख्य कोच बने

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर मनोज प्रभाकर को नेपाल क्रिकेट टीम का मुख्य कोच बनाया गया है. (AFP)

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर मनोज प्रभाकर को नेपाल क्रिकेट टीम का मुख्य कोच बनाया गया है. (AFP)

मनोज प्रभाकर ने क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद राजस्थान के मुख्य कोच का पद संभाला और फिर दिल्ली टीम के गेंदबाजी कोच के रूप में काम किया. 59 साल के मनोज ने 2016 में टी20 विश्व कप के दौरान गेंदबाजी कोच के रूप में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय टीम के साथ काम किया.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

मनोज प्रभाकर ने भारत के लिए 39 टेस्ट और 130 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले
दिल्ली, राजस्थान और यूपी की रणजी टीमों के अलावा अफगानिस्तान टीम के कोच रहे
प्रभाकर ने कहा कि उनका लक्ष्य आने वाले वर्षों में नेपाल को क्रिकेट की ताकत बनाना है

नई दिल्ली. पूर्व भारतीय क्रिकेटर मनोज प्रभाकर अब नेपाल के खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करते नजर आएंगे. नेपाल क्रिकेट संघ (CAN) ने सोमवार को मनोज प्रभाकर को अपना मुख्य कोच बनाने की घोषणा की. भारत के इस पूर्व ऑलराउंडर के पास कोचिंग क्षेत्र में काफी अनुभव है. वह इससे पहले अलग-अलग रणजी टीमों को भी कोचिंग दे चुके हैं.

कैन ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर 59 वर्षीय मनोज प्रभाकर को कोच बनाने की जानकारी दी. ट्वीट में लिखा, ‘पूर्व भारतीय स्टार ऑलराउंडर और रणजी ट्रॉफी विजेता कोच मनोज प्रभाकर को नेपाल राष्ट्रीय क्रिकेट टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है. प्रभाकर ने भारत के लिए 39 टेस्ट मैच और 130 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. एक कोच के रूप में उन्हें दिल्ली, राजस्थान और यूपी की रणजी टीमों के अलावा अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के साथ काम करने का अनुभव है.’

इसे भी देखें, हार्दिक पंड्या से पूछा सवाल- भारतीय टीम की फुल-टाइम कप्तानी मिली तो… जानिए क्या दिया जवाब?

प्रभाकर ने 1980 और 1990 के दशक के दौरान 39 टेस्ट और 130 वनडे मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया. उन्होंने टेस्ट में 96 और वनडे में कुल 157 विकेट लिए जबकि दोनों फॉर्मेट में कुल 3458 रन बनाए. मनोज ने क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद शुरुआत में राजस्थान के मुख्य कोच का पद संभाला और फिर दिल्ली की ओर से गेंदबाजी कोच के रूप में काम किया. वह घरेलू क्रिकेट में दिल्ली के लिए खेलते थे.

59 साल के मनोज प्रभाकर ने 2016 में टी20 विश्व कप के दौरान गेंदबाजी कोच के रूप में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय टीम के साथ काम किया. बाद में उन्हें उत्तर प्रदेश के मुख्य कोच के रूप में नियुक्त किया गया था. मनोज ने कहा कि वह खिलाड़ियों की प्रतिभा और कौशल को देखने के बाद कुछ योजनाओं के साथ नेपाल क्रिकेट से जुड़े हैं और वह उनके साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं. उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य आने वाले वर्षों में नेपाल को क्रिकेट की ताकत बनाना है.

Tags: Hindi Cricket News, Indian cricket, Nepal

अगली ख़बर