खराब फॉर्म के सवाल पर भड़क गए कप्तान साहब, कहा- मैं कोई चोर हूं जो शर्म आएगी?

खराब फॉर्म के सवाल पर भड़क गए कप्तान साहब, कहा- मैं कोई चोर हूं जो शर्म आएगी?
इससे पहले मुर्तजा ने बांग्‍लादेश क्रिकेट से मिलने वाली अपनी आधी सैलरी दान कर दी थी

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकार के सवाल पर बांग्लादेश के कप्तान मशरफे मोर्ताजा (Mashrafe Mortaza) इतना भड़क गए कि उन्होंने सभी को खरी-खोटी सुना दी

  • Share this:
ढाका. बांग्लादेश के कप्तान मशरफे मोर्ताजा (Mashrafe Mortaza) ने अपनी टीम को अर्श से फर्श तक पहुंचाया है. इस कप्तान ने बतौर लीडर अपनी टीम को लड़ना सिखाया है और यही वजह है कि उन्हें बांग्लादेश में काफी सम्मान मिलता है. हालांकि इन दिनो मोर्ताजा की फॉर्म खराब चल रही है और वो पत्रकारों के निशाने पर हैं. शनिवार को मोर्ताजा से एक पत्रकार ने ऐसा सवाल पूछ लिया कि वो अपना आपा खो बैठे और उन्होंने उसे खरी-खोटी सुना दी. बांग्लादेश के कप्तान से मोर्ताजा से पूछा गया कि क्या वो वर्ल्ड कप में अपनी फॉर्म पर शर्मिंदा हैं? ये सवाल सुनते ही मोर्ताजा भड़क गए.

मोर्ताजा ने दिया पत्रकार को ये जवाब
मोर्ताजा (Mashrafe Mortaza) ने पत्रकार को जवाब देते हुए कहा, मैं क्यों शर्मिंदा होऊंगा? क्या मैं चोर हूं? क्या मैंने मैदान चुराया है? क्या चोर हूं मैं? क्रिकेट खेलते समय मैं इस शर्मिंदा होने या आत्मसम्मान जैसी चीजों को जोड़ने की बात समझ नहीं पाता.' मोर्ताजा ने आगे कहा, 'ऐसे लोग हैं जो चोर और धोखेबाज दोनों हैं? क्या वो इस बात पर शर्मिदा नहीं है कि वो क्या कर रहे हैं? अगर मुझे एक मैच में विकेट नहीं मिलते हैं तो मुझे शर्मिदा होना चाहिए? क्या मैं चोर हूं?'

'अच्छा प्रदर्शन नहीं किया तो मुझे टीम से निकालो'
मोर्ताजा (Mashrafe Mortaza) ने पत्रकार को जवाब देते हुए कहा कि अगर मैंने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया तो मुझे टीम से निकाला जा सकता है लेकिन इसमें शर्मिंदा होने वाली क्या बात है? उन्होंने कहा, 'मुझे विकेट नहीं मिले और फिर इसके बाद आपके लोग और मेरे प्रशंसक भी मेरी आलोचना कर सकते हैं, लेकिन मुझे शर्मिदा होने की जरूरत क्या है? क्या मैं बांग्लोदश के लिए नहीं खेल रहा? क्या मैं किसी और देश के लिए खेल रहा हूं जिसके लिए प्रदर्शन न करने पर मुझे शर्मिदा होना पड़े? अगर मैं अच्छा नहीं कर रहा तो वो मुझे टीम से निकाल सकते हैं. ये आसान है.'



मोर्ताजा (Mashrafe Mortaza) ने ये बात जिम्बाब्वे के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज से पहले कही. बता दें ऐसा माना जा रहा है कि ये मोर्ताजा के करियर की आखिरी सीरीज हो सकती है. इसके बाद वो कप्तानी भी छोड़ सकते हैं. मोर्ताजा की फॉर्म वाकई बेहद खराब चल रही है. वो आखिरी बार बांग्लादेश के लिए आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में खेले थे, जहां वो 8 मैचों में महज 1 ही विकेट ले पाए थे. उनका इकॉनमी रेट भी 6.44 रहा था.

खराब बल्लेबाजी पर बोले बुमराह, किसी की गलती नहीं, पंत और विहारी बदलेंगे मैच
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज