लाइव टीवी

मयंक अग्रवाल बोले- चाहे जैसे भी हो सिर्फ टीम का फायदा सोचता हूं

भाषा
Updated: December 14, 2019, 5:09 PM IST
मयंक अग्रवाल बोले- चाहे जैसे भी हो सिर्फ टीम का फायदा सोचता हूं
मयंक अग्रवाल और युजवेंद्र चहल.

अग्रवाल को चोटिल सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के विकल्प के तौर पर वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया है.

  • Share this:
चेन्नई: भारतीय टेस्ट टीम (Indian Test Team) में जगह पक्की कर चुके सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) का कहना है अगर रणनीति स्पष्ट है तो विभिन्न प्रारूपों के अनुरूप ढलना आसान होता है. अग्रवाल को चोटिल सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) के विकल्प के तौर पर वेस्टइंडीज (West Indies) के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया है.

'जितना अधिक खेलूंगा मेरे लिए उतना ही अच्छा होगा'
अग्रवाल ने युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) के साथ‘चहल टीवी’ पर कहा, ‘मैं इस तरह जितना अधिक खेलूंगा मेरे लिए उतना ही अच्छा होगा क्योंकि मुझे खाली बैठने की जगह क्रिकेट खेलने का मौका मिलेगा. जब मानसिकता बदलने (प्रारूपों में बदलाव के कारण) की बात आती है तो बेसिक्स समान रहते हैं. अगर रणनीति स्पष्ट है तो प्रारूपों के अनुरूप ढलना आसान होता है और खेल को लेकर आपकी समझ स्पष्ट होती है.’

cricket news, india vs bangladesh, indian cricket team, bcci, team india, kolkata test, pink ball test, second test, day night test, virat kohli, क्रिकेट न्यूज, इंडिया वस बांग्लादेश, भारतीय क्रिकेट टीम, कोलकाता टेस्ट, पिंक बॉल टेस्ट, दूसरा टेस्ट, डे—नाइट टेस्ट, बीसीसीआई, टीम इंडिया,
मयंक अग्रवाल ने इंदौर टेस्‍ट में दोहरा शतक लगाया था.


पिछले एक साल में टीम इंडिया के मयंक का गजब योगदान
पिछले साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट पदार्पण के बाद से अग्रवाल ने शानदार प्रदर्शन किया है और वह 2019 सत्र का अंत इस प्रारूप में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों में से एक के रूप में कर रहे हैं. अग्रवाल का कहना है कि वह टेस्ट क्रिकेट खेल रहे हों या सीमित ओवरों का क्रिकेट उनका ध्यान हमेशा काम पर होता है.



'टीम के फायदे की सोचता हूं'
उन्होंने कहा, ‘मैं कहीं पर भी खेलूं, मैं हमेशा यही सोचता हूं कि मैं अपनी टीम के लिए कैसे फायदेमंद हो सकता हूं और मैं कैसे टीम को योगदान दे सकता हूं. अगर मैं रन नहीं भी बना पाऊं तो मैं क्षेत्ररक्षण में योगदान देने के बारे में सोचता हूं, मैदान पर अधिक ऊर्जा लेकर आता हूं.’ अग्रवाल भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में अब तक दो दोहरे शतक सहित तीन शतक जड़ चुके हैं.

झारखंड की रणजी टीम ने रचा इतिहास,85 साल बाद 'खास जीत' हासिल करने वाली पहली टीम

IPL नीलामी से ठीक पहले इस खिलाड़ी ने 40 गेंदों में जड़े 121 रन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 4:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर