सचिन तेंदुलकर, कोहली, रोहित के चौके- छक्‍कों का हिसाब रखने वाला यह शख्‍स बना कोरोना योद्धा

सचिन तेंदुलकर, कोहली, रोहित के चौके- छक्‍कों का हिसाब रखने वाला यह शख्‍स बना कोरोना योद्धा
विराट कोहली, रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ियों के चौकों छक्कों का हिसाब रखने एमसीए के स्कोरर दीपक जोशी मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट के पद पर कार्यरत हैं

वे महीनेभर से अपने घर नहीं गए हैं. अस्‍पताल में ही मरीजों की देखभाल कर रहे हैं और वहीं पर रह रहे हैं

  • Share this:
मुंबई. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), विराट कोहली (Virat Kohli), रोहित शर्मा (Rohit Sharma) जैसे खिलाड़ियों के चौकों छक्कों का हिसाब रखने मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) के 55 वर्षीय स्कोरर दीपक जोशी इन दिनों कोरोना वायरस योद्धा के रूप में अपनी भूमिका बखूबी निभा रहे हैं. जोशी दक्षिण मुंबई के एक अस्पताल में पिछले 28 वर्षों से मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट के पद पर कार्यरत हैं और अभी उनका काम कोविड-19 के संदिग्ध सभी मरीजों का एक्सरे करना है. जोशी विरार में रहते हैं जो कि मुंबई का उपनगरीय इलाका है. वह 24 मई से काम पर लौट आए थे.

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा कि मैं 24 मई को तीन बसों और तीन घंटे से अधिक समय तक यात्रा करने के बाद अपने अस्पताल पहुंचा और तब से पूरे मनोयोग से अपना काम कर रहा हूं. मुझे हर दिन आठ घंटे काम करना पड़ता है और इस बीच मैं कोविड-19 के 15 से 20 संदिग्ध मरीजों को देखता हूं. मैं उनकी छाती का एक्सरे करता हूं.

यह भी पढ़ें:



जिस राजिंदर गोयल से घबराते थे गावस्कर, वो एक कसक के साथ दुनिया छोड़ गए
2011 वर्ल्‍ड कप फाइनल पर फिक्सिंग का आरोप, पूर्व श्रीलंकाई कप्‍तान ने कहा-सचिन तेंदुलकर के लिए हो इसकी जांच

 घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर के कुल 328 मैचों में की स्कोरिंग 
मुंबई क्रिकेट संघ के आधिकारिक स्कोरर के तौर पर घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर के कुल 328 मैचों में स्कोरिंग कर चुके जोशी पिछले लगभग एक महीने से अपने घर नहीं गए हैं. उन्होंने कहा कि मैं 24 मई के बाद अपने घर नहीं गया. अस्पताल ने मुझे ठहरने के लिए जगह उपलब्ध कराई है और मैं वहीं रहता हूं. मैं इसके लिए होटल प्रबंधन का आभारी हूं. जोशी ने कहा कि मेरी पत्नी और बेटियां मेरी सुरक्षा को लेकर चिंतित रहती है लेकिन तब भी वे मुझे काम जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करती है. वे चाहती हैं कि मैं अपनी सुरक्षा के लिए जरूरी उपाय करूं. उनका सहयोग मेरे लिए काफी मायने रखता है. उन्हें खुशी है कि मुंबई क्रिकेट संघ ने उनके काम की प्रशंसा की. अब तक 11 टेस्ट, 21 वनडे और पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय में आधिकारिक स्कोरर रहे जोशी ने कहा कि मुंबई क्रिकेट संघ के कुछ अधिकारियों ने मुझसे बात करके मेरे काम की प्रशंसा की। इससे भी मुझे प्रेरणा मिली.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज