लाइव टीवी
Elec-widget

मिलिए मकड़ी की एक नई प्रजाति 'मारेंगो सचिन तेंदुलकर' से, जानें क्या है पूरा मामला

News18Hindi
Updated: November 11, 2019, 3:55 PM IST
मिलिए मकड़ी की एक नई प्रजाति 'मारेंगो सचिन तेंदुलकर' से, जानें क्या है पूरा मामला
मारेंगो सचिन तेंदुलकर प्रजाति की यह मकड़ी केरल, तमिलनाडु और गुजरात में पाई जाती है

गुजरात के एक शोधकर्ता ने मकड़ी की दो नई प्रजाति की खोज की है, जिनमें से एक का नाम सचिन तेंदुलकर(Sachin Tendulkar) के नाम पर रखा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2019, 3:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दुनिया के दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के नाम वानखेड़े स्टेडियम का स्टैंड है. यहीं नही उनके दीवानों ने तो मास्टर ब्लास्‍टर के नाम पर अपने घर, अपने परिवार  का नाम भी रख दिया है, लेकिन हाल ही में उनके एक सुपर फैन ने मकड़ी की एक प्रजाति का नाम ही सचिन तेंदुलकर  (Sachin Tendulkar) पर रख दिया है. आपकों यह जानकर हैरानी जरूर हो रही होगी, लेकिन यह हकीकत है. मारेंगो सचिन तेंदुलकर (Marengo Sachin Tendulkar) प्रजाति की यह मकड़ी केरल, तमिलनाडु और गुजरात में पाई जाती है.
दरअसल  गुजरात के इकोलॉजिकल एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन के एक शोधकर्ता ध्रुव प्रजापति ने सचिन के नाम पर मकड़ी की नई प्रजाति का नाम रखा. ध्रुव ने मकड़ी की दो प्रजातियों की खोज की और वह दोनों का नामकरण उन लोगों के नाम पर करना चाहते थे, जिनसे उन्हें प्ररेणा मिली. इसीलिए एक का नाम सचिन के नाम पर और दूसरी प्रजाति की मकड़ी का नाम संत कुरीकोस इलिसास चवारा के नाम पर इंडोमारेंगो (Indomarengo ) रखा. इंडोमारेंगो सिर्फ केरल में पाई जाती है.

Sachin Tendulkar, spider, sports news, cricket, सचिन तेंदुलकर, स्पोर्ट्स न्यूज, क्रिकेट
ध्रुव प्रजापति सचिन तेंदुलकर को अपनी प्रेरणा मानते हैं


2015 में की थी मारेंगो सचिन तेंदुलकर की खोज

मारेंगो सचिन तेंदुलकर (Marengo Sachin Tendulkar) प्रजाति की मकड़ी की खोज ध्रुव ने 2015 में की  थी, लेकिन उस पर रिसर्च और पहचान का काम 2017 में पूरा हुआ. जबकि इंडोमारेंगो मकड़ी को उनके कलीग ने खोजा था. हालांकि उन्होंने उस पर काम जारी रखा और 2017 में पहचान और रिसर्च का काम किया. लगभग दो दशक तक भारतीय क्रिकेट की पहचान बनने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)  के प्रति अपना प्यार और सम्मान जाहिर करने का किसी फैन का यह काफी अलग तरीका है.
देश का सबसे बड़ा सम्मान भारत रत्न पाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के नाम आज भी ऐसे कई बड़े रिकॉर्ड हैं, जिनके आसपास इस पीढ़ी के क्रिकेटर पहुंच तक नहीं पाए हैं. हालांकि एक दिन पहले ही भारत की 15 साल की शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने उनसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अर्धशतक लगाने वाले सबसे युवा भारतीय खिलाड़ी का खिताब छीन लिया. 15 साल 285 दिन की उम्र में शेफाली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 मैच में अर्धशतक जड़ा. जबकि सचिन ने अपने करियर का पहला अर्धशतक 16 साल 214 दिन की उम्र में जड़ा था. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला अर्धशतक लगाया था. शेफाली ने सचिन के इस 30 साल पुराने  रिकॉर्ड को तोड़ा.

दीपक चाहर ने 6 विकेट लेने के बाद दिया ऐसा बयान, सभी को आई धोनी की याद!
Loading...

दीपक चाहर टी20 में हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय, 6 विकेट लेकर बनाया रिकॉर्ड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 3:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...