Home /News /sports /

जानिए कौन है वो 'भारतीय बल्‍लेबाज', जिसने 175 रन जड़कर अकेले दम पर दिलाई कुवैत को ऐतिहासिक पहली जीत

जानिए कौन है वो 'भारतीय बल्‍लेबाज', जिसने 175 रन जड़कर अकेले दम पर दिलाई कुवैत को ऐतिहासिक पहली जीत

परिवार के साथ मीत भावसर (pc:Meet Bhavsar77 instagram)

परिवार के साथ मीत भावसर (pc:Meet Bhavsar77 instagram)

Under-19 Asia Cup: मीत भावसर (Meet Bhavsar) के नाम इंटरनेशनल टी20 मैच खेलने वाले सबसे युवा पुरुष खिलाड़ी का रिकॉर्ड भी है. जब वो 5-6 साल के थे, तब उन्‍होंने क्रिकेट के मैदान पर कदम रखा. उनकी मां ने उन्‍हें बल्‍ला पकड़ना सिखाया था. भारत, पाकिस्‍तान जैसी टीमों के खिलाफ भी खेल चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. अंडर 19 एशिया कप (Under-19 Asia Cup) के इतिहास में कुवैत ने अपनी पहली जीत दर्ज कर ली. ग्रुप बी के मुकाबले में कुवैत ने नेपाल को एक विकेट से मात दी. कुवैत की इस जीत के हीरो रहे भारत के मीत भावसर (Meet Bhavsar) रहे, जो टीम की कप्‍तानी कर रहे थे और अकेले दम पर अपनी टीम को ऐतिहासिक जीत दिला दी. मीत ने 149 गेंदों पर नाबाद 175 रन की पारी खेली. उन्‍होंने अपनी तूफानी पारी में 24 चौके और एक छक्‍का जड़ा. पहले बल्‍लेबाजी करते हुए नेपाल ने 239 रन बनाए. 240 रन के लक्ष्‍य का पीछा कुवैत ने 9 विकेट गंवाकर कर लिया.

    एक समय कुवैत ने मजबूत शुरुआत करते हुए एक विकेट पर 109 रन बना लिए थे, मगर जुडे सालडांहा के 25 रन पर आउट होने के बाद टीम लड़खड़ा गई. हालांकि कप्‍तान ने एक छोर को छोड़ा नहीं और मजबूती से टिके रहे. मीत ने लक्ष्‍य के 73 फीसदी रन अकेले बनाए. उनके और जुडे के अलावा कुवैत टीम का कोई भी बल्‍लेबाज 7 रन से ज्‍यादा नहीं बना पाया.

    मां ने सिखाया बल्‍ला पकड़ना
    23 जून 2004 को मीत का जन्‍म कुवैत में हुआ था, मगर उनके माता पिता भारतीय हैं. मीत ने 20 जनवरी 2019 को मालदीव के खिलाफ कुवैत के लिए इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट में डेब्‍यू किया था. उस समय उनकी उम्र 14 साल 211 दिन की थी और वो इंटरनेशनल टी20 मैच खेलने वाले सबसे युवा पुरुष खिलाड़ी बने. मीत ने कुछ समय पहले cover driving को दिए एक इंटरव्‍यू में बताया था कि जब वो 5-6 साल के थे, तब उन्‍होंने क्रिकेट के मैदान पर कदम रखा. उनकी मां ने उन्‍हें बल्‍ला पकड़ना सिखाया.

    IND vs SA: मोहम्मद शमी को 200 विकेट लेते ही आई पिता की याद, नम आंखों से सुनाई संघर्ष की कहानी- VIDEO

    मोहम्मद शमी: डिप्रेशन को हराकर बने चैम्पियन गेंदबाज, जानिए कैसे रवि शास्त्री की एक सलाह से पलटा करियर

    भारत और पाकिस्‍तान जैसी टीमों के खिलाफ भी खेल चुके हैं मीत
    इसके एक साल बाद वो कोचिंग क्‍लब से जुड़ गए. पैरो से तेजी के चलते मीत को कोच ने 11 साल की उम्र में विकेटकीपिंग में भी हाथ आजमाने के लिए कहा था. कुवैत का यह स्‍टार खिलाड़ी अंडर 19 टीम के साथ भारत, पाकिस्‍तान जैसी टीमों के खिलाफ भी खेल चुका है. मीत ने कहा कि उन्‍होंने इन बड़ी टीमों के खिलाफ खेलकर काफी कुछ सीखा. पाकिस्‍तान के गेंदबाज नसीम शाह से खुद जाकर बातचीत की थी. अथर्व अंकोलेकर, आकाश सिंह जैसे भारतीय खिलाड़ियों से भी काफी कुछ सीखने को मिला. मीत ने बताया कि वो आईपीएल को फॉलो करते हैं और एमएस धोनी (MS Dhoni) उनके पसंदीदा क्रिकेटर हैं.

    Tags: Cricket news, Kuwait, Ms dhoni

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर