BCCI को किए 400 ई-मेल, सचिन, द्रविड़, कपिल देव जैसे दिग्गजों तक को हिला दिया, जानिए कौन है ये शख्स

BCCI को किए 400 ई-मेल, सचिन, द्रविड़, कपिल देव जैसे दिग्गजों तक को हिला दिया, जानिए कौन है ये शख्स
सचिन तेंदुलकर को भी हितों के टकराव मामले में नोटिस भेजा जा चुका था. (फाइल फोटो)

इंदौर के संजीव गुप्ता (Sanjeev Gupta) को बीसीसीआई (BCCI) संविधान इतने अच्छे से याद है कि वो पूछने पर खंड का पेज नंबर तक बता देते हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2019, 2:40 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. पिछले कुछ समय से बीसीसीआई (BCCI) में हितों के टकराव को लेकर एक के बाद एक मामले सामने आ रहे हैं. इन दिनों कपिल देव (Kapil Dev), शांता रंगास्वामी, अंशुमान गायकवाड़ को इनके लिए नो‌टिस भेजा गया तो पहले सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ भी इसके शिकार बने. सभी के मन में एक सवाल यही आता है कि आखिर कौन इन लोगों पर नजर रख रहा है. दरअसल बीसीसीआई (BCCI) के कामों पर इंदौर के रहने वाले संजीव गुप्ता (Sanjeev Gupta) की नजरें हमेशा रहती हैं करीब तीन सालों ने उन्होंने बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति और आचार अधिकारी के काम को बढ़ा रखा है. मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के आजीवन सदस्य 45 साल के संजीव गुप्ता (Sanjeev Gupta) ने सीओए को करीब 400 ईमेल भेजे हैं.

उनके सैंकड़ाे ईमेल में से ज्यादातर मेल बीसीसीआई और इसकी इकाइयों के अंदर के मामलों को सामने लाते हैं. सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण को भी इन्हीं के मेल के कारण हितों के टकराव मामले में नोटिस भेजा गया था. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार गुप्ता लगातार पत्रकारों के संपर्क में रहते हैं, लेकिन उन्होंने इंटरव्यू देने से साफ मना कर दिया. यहां तक की अपनी फोटो भी साझा नहीं की.

गुप्ता ने ईमेल भेजने के पीछे के कारणों के बारे में बताया कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी है. न ही उन्हें किसी से कुछ हासिल करना है और न ही उनका कुछ दांव पर है. शिकायत करने के पीछे उनका कोई निजी स्वार्थ भी नहीं है. उनके अनुसार लगातार शिकायती मेल लिखने के पीछे उनका इरादा सिर्फ लोढ़ा कमिटी के नियमों का 100 फीसदी अनुपालन करना है. सीओए के एक सदस्य ने बिना पहचान उजागर करने की शर्त पर इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि संजीव गुप्ता ने बीसीसीआई (BCCI) का पूरा संविधान याद कर रखा है. अगर उनसे किसी एक खंड के बारे में पूछा जाए तो वह पेज नंबर सहित सब  कुछ बता देते हैं. सीओए के इस सदस्य ने कहा कि वह जो मेल भेजते हैं, वह तथ्यों के साथ होते हैं.



एसोसिएशन से हो चुके हैं मतभेद 



मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन संजय जगदाले ने अंदर की एक घटना की ओर संकेत किया कि जब एसोसिएशन के कुछ सदस्यों ने कथित रूप से गुप्ता को अपमानित किया था. संजय ने खुद मतभेदों के चलते क्रिकेट से दूरी बना ली है. गुप्ता उस समय सभी की नजरों में आए, जब बीसीसीआई (BCCI) के एथिक्स ऑफिसर रिटायर्ड जस्टिस डीके जैन ने उनकी शिकायत के आधार पर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और वीवीएस लक्ष्मण के खिलाफ सुनवाई की. गुप्ता ने आरोप लगाया था कि पूर्व क्रिकेटर ने दो पद संभाल हुए हैं. जो लोढ़ा कमिटी के 'वन मैन वन पोस्ट' नियम के खिलाफ था. हालांकि आदेश सार्वजनिक होने से पहले ही सचिन तेंदुलकर ने खुद को क्रिकेट सलाहकार समिति से हटा लिया था.

bcci, kapil dev, Sanjeev Gupta, cricket, sports newsh बीसीसीआई, क्रिकेट, स्पोर्ट्स न्यूज,
कपिल देव ने नोटिस मिलने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया




सुनवाई में गुप्ता ने संविधान को लेकर अपनी जानकारी से सभी को प्रभावित किया था.  यही नहीं बहस पूरी होने के बाद बीसीसीआई के अधिकारी गुप्ता के पास आए और उनके नंबर भी मांगे. अपने ईमेल में गुप्ता ने कई मुद्दों को लेकर आपत्ति की. क्रिकेट इम्प्रूवमेंट चीफ के रूप में दिलीप वेंगसकर की नियुक्ति, हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन में रत्नाकर शेट्टी का रोल, सांसद बनने के बाद दिल्ली ‌डिस्ट्रिक क्रिकेट एसोसिएशन में गौतम गंभीर की भूमिका उनके ईमेल में शामिल थी.हालांकि इन सबके बीच गुप्ता को भी परेशानियों का सामना करना पड़ा. कुछ दिनों पहले दिल्ली के एक वकील ने गुप्ता को  कानूनी नो‌टिस भेजा था. जिसका उन्होंने वैसे ही जवाब भी दिया. इन दिनों तो गुप्ता की रडार पर कपिल देव (Kapil Dev) हैं, जो कमेंटेर भी हैं और फ्लड लाइट कंपनी के मालिक भी हैं. साथ ही इंडियन क्रिकेट एसोसिएशन और सीएसी के सदस्य भी. हालांकि कपिल देव  (Kapil Dev) ने सीएसी सदस्य से इस्तीफा दे दिया है.

टीम इंडिया के बाद फिर कोचिंग देंगे अनिल कुंबले, अब इस टीम के हेड कोच बनेंगे

10 महीने बाद टेस्ट खेल रहे अश्विन पर सचिन का बड़ा बयान, कहा-टीम इंडिया के...

First published: October 2, 2019, 11:31 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading