लाइव टीवी
Elec-widget

राहुल द्रविड़ को उम्मीद, दो साल में 35 खिलाड़ी बिखेरेंगे चमक, मानसिक समस्या से निपटने का दिया मंत्र

News18Hindi
Updated: November 29, 2019, 3:43 PM IST
राहुल द्रविड़ को उम्मीद, दो साल में 35 खिलाड़ी बिखेरेंगे चमक, मानसिक समस्या से निपटने का दिया मंत्र
राहुल द्रविड़ मौजूदा समय में नेशनल क्रिकेट एकेडमी के चेयरमैन हैं. (फाइल फोटो)

टीम इंडिया (Team India) के पूर्व क्रिकेटर और राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (National Cricket Academy) के प्रमुख राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) से जुड़े अहम मुद्दों पर खुलकर अपनी राय जाहिर की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2019, 3:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया (Team India) के पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (National Cricket Academy) का चेयरमैन बनने के बाद से टीम इंडिया (Team India) को कई युवा खिलाड़ी मिले हैं. ऐसे में जबकि अंडर-19 वर्ल्ड कप अगले साल की शुरुआत में ही आयोजित होना है तो इसे लेकर उन्होंने अपनी योजनाओं का खुलासा किया है. फिलहाल भारत की अंडर-19 टीम (India Under-19 Team) लखनऊ में अफगानिस्तान अंडर-19 टीम के खिलाफ सीरीज खेल रही है. जूनियर सिलेक्‍शन पैनल की बैठक से पहले ये आखिरी सीरीज है. इसके बाद अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए टीम का चयन किया जाएगा.

45 खिलाड़ी अंडर-19 टीम के लिए खेले
अफगानिस्तान के खिलाफ अंडर-19 टीम के चौथे वनडे से इतर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने भारत (India) के युवा क्रिकेटरों को लेकर कई दिलचस्प खुलासे किए. उन्होंने कहा, 'पिछले 14 महीनों में अंडर-19 टीम के लिए करीब 40 से 50 क्रिकेटरों ने मैच खेले हैं. उम्मीद है कि इनमें से 30-35 क्रिकेटर अगले दो साल में रणजी टीमों (Ranji Teams) में जगह बना लेंगे. इनमें से अगर 10-15 क्रिकेटर भी रणजी ट्रॉफी में अपने प्रदर्शन से पहचान बना लेते हैं तो ये बड़ी उपलब्धि होगा.' उन्होंने अधिक प्रतिभाशाली युवा क्रिकेटरों के उभरने के सवाल पर कहा कि हमने बीसीसीआई (BCCI) को आश्वस्त किया कि इस स्तर पर खिलाड़ियों को अधिक से अधिक मैच खिलाने चाहिए. ऐसा होगा तभी हम प्रथम श्रेणी क्रिकेट में खुद को जल्द से जल्द स्‍थापित कर पाएंगे.

cricket news, rahul dravid, indian cricket team, team india, bcci, mental health, nca, national cricket academy, राहुल द्रविड़, क्रिकेट न्यूज, बीसीसीआई, टीम इंडिया, इंडियन क्रिकेट टीम, मेंटल हेल्‍थ, एनसीए, राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी
राहुल द्रविड़ ने कहा कि खिलाड़ियों को अपने खेल में संतुलन बनाने पर ध्यान देना चाहिए. (फाइल फोटो)


खिलाड़ियों में मानसिक समस्या को बताया अहम मुद्दा
दुनियाभर में इस समय खिलाड़ियों में मानसिक समस्या एक अहम मुद्दा माना जा रहा है. ग्लेन मैक्सवेल से लेकर पुकोवस्की, मैडिनसन जैसे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने इसी समस्या के चलते क्रिकेट से कुछ समय के लिए दूरी बना ली है. कई महिला क्रिकेटरों ने भी ऐसी ही शिकायत की है. इस बारे में राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने कहा, 'ये एक बड़ी चुनौती है. ये मुश्किल समय है. कई सारे टूर्नामेंट खेले जा रहे हैं. साल भर होने वाले क्रिकेट में खिलाड़ियों पर काफी दबाव होता है. ये ऐसा खेल है, जिसमें अधिकतर वक्त आपको इंतजार करते हुए बिताना पड़ता है. ऐसे में खिलाड़ियों के लिए जरूरी है कि वो मैदान के अंदर और मैदान के बाहर खुद को संभालकर रखें.' द्रविड़ ने कहा कि खिलाड़ी जो कुछ भी कर रहे हैं, उनमें उन्हें एक संतुलन बनाना चाहिए. सफलता मिलने पर अधिक उत्साहित नहीं होना चाहिए और असफलता पर अधिक निराश होने से भी बचना चाहिए.

cricket news, rahul dravid, indian cricket team, team india, bcci, mental health, nca, national cricket academy, राहुल द्रविड़, क्रिकेट न्यूज, बीसीसीआई, टीम इंडिया, इंडियन क्रिकेट टीम, मेंटल हेल्‍थ, एनसीए, राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज राहुल द्रविड़ युवा क्रिकेटरों को तराशने के काम में जुटे हैं. (फाइल फोटो)

Loading...

मौजूदा तेज गेंदबाजी आक्रमण सर्वश्रेष्ठ
भारतीय टीम के मौजूदा तेज गेंदबाजी आक्रमण पर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने कहा, 'ये देखना सुखद है कि तेज गेंदबाज भारतीय पिचों पर भी सफल हो रहे हैं. बेशक हमारे पास कपिल देव, जवागल श्रीनाथ और जहीर खान जैसे गेंदबाज रह चुके हैं. मगर मौजूदा तेज गेंदबाजों का समूह सर्वश्रेष्ठ है. ये युवा तेज गेंदबाजों के लिए प्रेरणा भी है. हम कमलेश, शिवम मावी और ईशान पोरेल जैसे गेंदबाजों को देख चुके हैं. उनके अलावा और भी कई युवा तेज गेंदबाज प्रभाव छोड़ रहे हैं.'

यह भी पढ़ें :-

140 किलो के रहकीम कॉर्नवाल ने लिए 10 विकेट, वेस्टइंडीज को दिलाई जबरदस्त जीत
विराट कोहली ने किया खुलासा, कहा-इस बात से लगता है बहुत डर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 3:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...