Home /News /sports /

बड़ा बयान: क्रिकेट तबतक शुरू ना हो, जब तक गेंद को थूक से ना चमका पाएं गेंदबाज!

बड़ा बयान: क्रिकेट तबतक शुरू ना हो, जब तक गेंद को थूक से ना चमका पाएं गेंदबाज!

गेंद पर लार के इस्तेमाल पर रोक

गेंद पर लार के इस्तेमाल पर रोक

कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से क्रिकेट ठप है, बताया जा रहा है कि जब खेल शुरू होगा तो गेंदबाजों को गेंद थूक से चमकाने की इजाजत शायद ही मिलेगी

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से क्रिकेट पूरी तरह ठप है. हालांकि जब ये महामारी खत्म होगी तो इसके बाद क्रिकेट का खेल काफी हद तक बदल सकता है. इसमें सबसे बड़ा बदलाव गेंदबाजों के लिए हो सकता है जिसमें वो गेंद को चमकाने के लिए थूक या लार का इस्तेमाल शायद ही करेंगे, क्योंकि इससे कोरोना वायरस फैल सकता है. ऐसे में माना जा रहा है कि गेंद को चमकाने के लिए गेंदबाजों को कृत्रिम पदार्थ के जरिए गेंद चमकाने की इजाजत मिल सकती है. इस मुद्दे पर वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज ने अपनी राय दी है और उनका मानना है कि खेल तब तक शुरू नहीं होना चाहिए जबतक गेंदबाज थूक से गेंद को नहीं चमका पाएं.

    माइकल होल्डिंग का बड़ा बयान
    माइकल होल्डिंग (Michael Holding) ने क्रिकइंफो से कहा, ' मैंने पढ़ा है कि आईसीसी कोविड-19 की वजह से गेंद पर लार का इस्तेमाल करने से रोकने पर विचार कर रही है और खिलाड़ियों से गेंद पर चमक बनये रखने के लिए अंपायर के सामने कृत्रिम पदार्थों का उपयोग करने की अनुमति देने की सोच रही है. मैं इसके पीछे के तर्क को नहीं समझ पा रहा हूं.' वेस्टइंडीज के इस पूर्व दिग्गज ने कहा, 'आईसीसी को ऐसी स्थिति का सामना करने की जगह क्रिकेट को तभी शुरू करना चाहिए, जब माहौल पूरी तरह से सही हो.'

    होल्डिंग  (Michael Holding) ने कहा कि आईसीसी के मुताबिक क्रिकेट शुरू होने से पहले खिलाड़ियों को 14 दिनों तक अलग रहना होगा. उन्होंने सवाल उठाया जब खिलाड़ी इसे पूरा कर लेंगे तब लार का इस्तेमाल क्यों नहीं कर सकते? उन्होंने कहा, 'अगर दो सप्ताह अलग रहने के बाद भी किसी के स्वास्थ्य पर सवाल उठता है तो आप ऐसी स्थिति में क्रिकेट कैसे खेलेंगे. इसका यह मतलब होगा कि आप सबको खतरे में डाल रहे हैं'

    वकार यूनिस ने भी कहा-थूक का प्रयोग जरूरी है
    पाकिस्तान के दिग्गज वकार ने स्पष्ट किया कि लार का उपयोग बहुत जरूरी है और प्रतिस्पर्धी क्रिकेट के फिर से शुरू होने पर इसे हटाया नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कहा, 'एक तेज गेंदबाज के रूप में मैं इसे अस्वीकार करता हूं, क्योंकि यह (लार और पसीने का उपयोग करना) एक प्राकृतिक प्रक्रिया है. एक गेंद पूरे दिन एक हाथ से दूसरे हाथ जाती है. पसीने और लार का इस्तेमाल नैसर्गिक है. यह आदत की तरह है आप इस पर नियंत्रण नहीं कर सकते.' आप गेंदबाज को बाहरी चीज लगाने के लिए दे सकते है लेकिन खेल के दौरान उसे लार और पसीने का इस्तेमाल करने से रोकाना संभव नहीं होगा.

    एलेन डोनाल्ड ने किया समर्थन
    साउथ अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज एलेन डोनाल्ड (Allan Donald) हालांकि इस विचार के पक्ष में है। उन्होंने कहा, 'मैं गेंद से छेड़छाड़ को वैध बनाने से बिल्कुल सहमत हूं. मैंने 2000 के दशक में किसी लेख में ऐसा कहा था. यह वैसे भी होता है. हम देखते हैं कि लोग जमीन पर गेंद फेंकते हैं और अंपायर ऐसा करने से मना करते हैं. यह स्पष्ट है कि वे ऐसा क्यों कर रहे हैं. अगर इस पर अच्छी तरह से नजर रखी है तो यह काम कर सकता है.'

    अश्विन का खुलासा, कोच के कारण पहले टीम और फिर होटल से हुए बाहर, घर पर पड़ा बैठना

    Love Story : सलमान खान की गर्लफ्रेंड से की टीम इंडिया के कप्तान ने शादी, 14 साल बाद दिया तलाक

    Tags: Coronavirus, Cricket news, Sports news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर