कोरोना पॉजिटिव माइक हसी और बालाजी को एयर एंबुलेंस के जरिए चेन्नई भेजा गया

माइक हसी तीन मई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. (फोटो साभार-माइक हसी ट्विटर)

चेन्नई की टीम फिलहाल दिल्ली में है जहां से धीरे-धीरे खिलाड़ी और स्टॉफ अपने घरों को लौट रहे हैं. माइक हसी और एल बालाजी को एयर एंबुलेंस के जरिेए चेन्नई लाया गया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजी कोच माइक हसी और गेंदबाजी कोच लक्ष्मी पति बालाजी को उनकी फ्रेंचाइजी ने दिल्ली से चेन्नई एयर एंबुलेंस के जरिए भेजा गया है. हसी और बालाजी तीन पहले ही कोरोना संक्रमित पाए गए थे. चेन्नई की टीम फिलहाल दिल्ली में है जहां से धीरे-धीरे खिलाड़ी और स्टॉफ अपने घरों को लौट रहे हैं. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी सभी खिलाड़ियों की सुरक्षित वापसी के बाद आज शाम रांची के लिए रवाना होंगे.

    सीएसके के एक अधिकारी ने कहा, 'देखिए, हमारे चेन्नई में बेहतर संपर्क हैं, इसलिए हसी और बालाजी दोनों को एक एयर एंबुलेंस से चेन्नई ले जाने का फैसला किया गया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अगर जरूरत पड़ी तो हमारे पास तैयार सुविधाएं हो. सौभाग्य से, उनमें कोई लक्षण नहीं है और दोनों ठीक हो रहे हैं. लेकिन हां, हसी को भारत छोड़ने से पहले निगेटिन रिपोर्ट आने का इंतजार करना होगा. जब हसी उड़ान भरने के लिए सुरक्षित होंगे तो हम एक चार्टर्ड प्लेन की व्यवस्था करेंगे.'

    क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने ताजा बयान में कहा कि माइक हसी को कोविड-19 के हल्के लक्षण हैं. वो फिलहाल अपने फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स की निगरानी में हैं. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर संघ बीसीसीआई के साथ मिलकर काम कर रहा है ताकि हसी की सुरक्षित की वापसी हो सके.

    यह भी पढ़ें:

    IPL 2021 सस्पेंड होते ही कोविड-19 राहत कार्यों में जुटे विराट कोहली, फैन्स कर रहे तारीफ

    IPL बायो बबल में कोरोना की घुसपैठ, गांगुली बोले- कैसे हुआ यह कहना बहुत मुश्किल

    हसी शुरुआत से सीएसके के साथ
    माइक हसी शुरुआत से चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ हैं. वे पहले टीम के लिए खेला करते थे. सीएसके की ओर से माइक हसी ने ही पहला आईपीएल शतक लगाया था. वे आईपीएल के सफल बल्लेबाजों में गिने जाते हैं. उनके नाम ऑरेंज कैप भी है. चेन्नई के अलावा वे मुंबई की ओर से भी खेले थे. बाद में जब उन्होंने संन्यास लिया तो वे इस टीम के बैटिंग कोच बन गए.