माइकल वॉन ने फिर उगला भारत के लिए जहर, विलियमसन के सहारे विराट कोहली पर साधा निशाना

भारत और न्यूजीलैंड के बीच 18 जून से साउथैम्प्टन में वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेला जाएगा. (Virat kohli twitter)

भारत और न्यूजीलैंड के बीच 18 जून से साउथैम्प्टन में वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेला जाएगा. (Virat kohli twitter)

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने एक बार फिर भारत के खिलाफ जहर उगला है. वॉन ने कहा कि अगर केन विलियमसन (Kane Williamson) भारतीय होते तो वो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी होते हैं लेकिन, विराट कोहली (Virat Kohli) के रहते उन्हें कभी ऐसा नहीं कहा जाएगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) अक्सर सोशल मीडिया पर भारतीय क्रिकेट और खिलाड़ियों की आलोचना करते हैं. वॉन के बड़बोलेपन के बारे में हर कोई जानता है. एक बार फिर उन्होंने यही काम किया है. लेकिन, इस बार न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) के सहारे भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पर निशाना साधा है. वॉन ने कहा कि अगर केन विलियमसन भारतीय होते तो वो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी होते हैं. लेकिन, विराट कोहली के रहते उन्हें कभी भी ऐसा नहीं कहा जाएगा. क्योंकि, वो भारतीय नहीं हैं.

वॉन ने आगे कहा कि मैं ये बातें इसलिए नहीं कह रहा क्योंकि मैं न्यूजीलैंड में हूं. लेकिन मुझे लगता है विलियमसन तीनों ही फॉर्मेट में बेहतर हैं. लेकिन वो विराट कोहली की बराबरी नहीं कर सकते. क्योंकि उनके इंस्टाग्राम पर 100 मिलियन फॉलोअर्स नहीं हैं और वो ब्रांड एडोर्समेंट के जरिए भी भारी भरकम कमाई नहीं करते हैं. सभी लोग इसलिए विराट को अच्छा बताते हैं. क्योंकि इससे सोशल मीडिया पर लोगों की फॉलोइंग बढ़ती है. मेरी नजर में जिस तरह विलियमसन खेलते हैं. मैदान पर उनका व्यवहार शांत और संयमित होता है. वो वाकई कमाल का है.

माइकल वॉन ने केन विलियमसन को भारतीय कप्तान विराट कोहली के बराबर का बल्लेबाज बताया है. (Cricfit instagram)

विलियमसन इंग्लैंड दौरे में विराट से ज्यादा रन बनाएंगे: वॉन
इंग्लैंड के इस पूर्व कप्तान ने दावा किया कि इंग्लैंड दौरे पर विलियमसन भारतीय कप्तान से ज्यादा रन बनाएंगे. वॉन ने कहा कि विराट कोहली इंग्लैंड में हमेशा रन बनाने के लिए तरसते रहे हैं. वो इंग्लैंड की सीमिंग विकेट और स्विंग गेंदबाजी के आगे संघर्ष करते हैं. दूसरी ओर, विलियमसन यहां सफल रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि विलियमसन इंग्लैंड के आगामी दौरे पर होने वाले तीन टेस्ट में विराट से ज्यादा रन बनाएंगे. न्यूजीलैंड को इंग्लैंड के खिलाफ जून में दो टेस्ट खेलने हैं. इसके बाद कीवी टीम भारत के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में उतरेगी. वहीं, विराट अगस्त-सितंबर में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट की सीरीज खेलेंगे.

इंग्लैंड में विराट का औसत विलियमसन से बेहतर

वॉन ने भले ही विलियमसन को हर फॉर्मेट का बेस्ट बल्लेबाज बताया है. लेकिन आंकड़े कुछ और कहानी बयां करते हैं. अगर इंग्लैंड में विराट और विलियमसन के प्रदर्शन पर नजर डालें तो भारतीय कप्तान उन पर बीस साबित होते हैं. विराट ने इंग्लैंड में 10 टेस्ट खेले हैं और इसमें उन्होंने 36 की औसत से 727 रन बनाए हैं. वहीं, कीवी कप्तान ने 4 टेस्ट में 30.87 के औसत से 247 रन बनाए हैं. ऑस्ट्रेलिया में विलियमसन का औसत 42 से कुछ ज्यादा का है, जबकि कोहली ने इस देश में 13 टेस्ट में 54 की औसत से 1352 रन बनाए हैं. ऑस्ट्रेलिया में विराट ने 6, जबकि विलियमसन ने एक ही शतक लगाया है. वहीं, विराट ने इंग्लैंड में विलियमसन से ज्यादा टेस्ट शतक लगाए हैं.



सैम कर्रन ने गर्लफ्रेंड के लिए लिखा दिल छू लेने वाला संदेश, साथ ही मांगी माफी

विराट-अनुष्का ने कोरोना से जंग के लिए 7 दिन में जुटाए 11 करोड़, दानदाताओं का ऐसे किया शुक्रिया

वनडे में विराट ने विलियमसन ने 34 शतक ज्यादा लगाए

वनडे क्रिकेट की बात करें तो विराट कोहली का औसत 59 से ज्यादा का है, जबकि विलियमसन ने 47 के औसत से रन बनाए हैं. शतकों के मामले में भी विराट कीवी बल्लेबाज से बहुत आगे हैं. कोहली ने वनडे में 43 शतक लगाए हैं, जबकि विलियमसन के खाते में 13 शतक हैं. इन आंकड़ों के बावजूद अगर वॉन विलियमसन को तीनों फॉर्मेट में विराट के बराबर बता रहे हैं, तो ये बात समझ से परे है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज