• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • CRICKET MITHALI RAJ LOOKING FORWARD TO WORK WITH NEW INDIAN WOMEN CRICKET TEAM COACH RAMESH POWAR

रमेश पवार के दोबारा कोच बनने पर मिताली राज ने कही दिल जीतने वाली बात, करेंगे सलाम

मिताली राज ने किया रमेश पोवार का स्वागत! (Mithali Raj/Instagram)

मिताली राज (Mithali Raj) से ही विवाद के बाद रमेश पोवार (Ramesh Powar) को महिला क्रिकेट टीम के कोच पद से हटाया गया था लेकिन अब एक बार फिर उन्होंने बतौर कोच टीम की कमान संभाली है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय महिला वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) अब उन सभी विवादों को भुला चुकी हैं जो रमेश पोवार (Ramesh Powar) और उनके बीच हुए थे. बुधवार को मिताली राज ने कहा कि वो नए कोच रमेश पवार के साथ टीम इंडिया को मजबूत करने के लिए काम करेंगी. बता दें साल 2018 टी20 वर्ल्ड कप के दौरान पवार और मिताली राज के बीच विवाद हुआ था जिसके बाद पूर्व भारतीय गेंदबाज को अपना पद तक गंवाना पड़ा था. भारतीय टीम वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में इंग्लैंड से हार गई थी जिसके बाद मिताली ने पवार पर उनका करियर खत्म करने की कोशिश का आरोप लगाया था. हालांकि अब रमेश पोवार एक बार फिर टीम इंडिया के कोच बन गए हैं और दोनों ही पुराने गिले-शिकवे भुलाकर टीम को मजबूत करना चाहते हैं.

    मिताली राज ने द हिंदू के साथ खास बातचीत में सभी विवाद भूलने की बात कही. उन्होंने कहा, 'बीता हुआ कल पीछे जा चुका है. आप पीछे नहीं जा सकते. मुझे यकीन है कि रमेश पवार अपनी योजना के साथ आएंगे और हम दोनों मिलकर इस जहाज को चलाएंगे. हम मिलकर काम करेंगे और भविष्य के लिए मजबूत टीम बनाएंगे क्योंकि अगले साल वर्ल्ड कप भी है.'

    इंग्लैंड में टेस्ट मैच को लेकर मिताली की योजना
    बता दें भारतीय महिला टीम इंग्लैंड दौरे पर जा रही है और इसका आगाज टेस्ट मैच से होगा. भारतीय महिला टीम 7 साल बाद टेस्ट मैच खेलेगी, जिसके लिए कप्तान मिताली राज बिलकुल तैयार हैं. मिताली राज ने कहा, 'सभी युवा खिलाड़ियों और मेरे लिए भी टेस्ट मैच में कोई दबाव नहीं रहेगा. हम काफी समय बाद लंबे फॉर्मे को खेलेंगे और खुलकर मैदान पर प्रदर्शन करेंगे.' मिताली राज ने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले पिंक बॉल टेस्ट पर भी खुशी जताई. उन्होंने कहा, 'अच्छी बात ये है कि इसके बाद ऑस्ट्रेलिया में भी डे-नाइट टेस्ट होगा. मेरी निजी राय है कि महिला क्रिकेट टीम को लगातार टेस्ट मैच खेलने चाहिए. मुझे लगता है कि महिला क्रिकेट में भी तीनों फॉर्मेट अच्छे होंगे और सभी खिलाड़ी उसे पसंद भी करेंगी.'