पाकिस्‍तान के 'खेल' में कूदा एक और खिलाड़ी, कहा- फिक्सिंग करने वाला अकेला नहीं

पाकिस्‍तान के 'खेल' में कूदा एक और खिलाड़ी, कहा- फिक्सिंग करने वाला अकेला नहीं
मोहम्‍मद आसिफ ने कहा कि पीसीबी ने उन्‍हें बचाने की कभी कोशिश नहीं की

पाकिस्‍तान के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आसिफ (Mohammad Asif ) 2010 के इंग्लैंड दौरे पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों के कारण ब्रिटेन में जेल में भी रहे

  • Share this:
नई दिल्ली. जहां दुनियाभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण क्रिकेट के मैच नहीं हो रहे हैं, वहीं इन दिनों पाकिस्‍तान में एक अलग ही खेल चल रहा है. उमर अकमल पर बैन, वसीम अकरम पर सवाल, शोएब अख्‍तर पर जुर्माना, सलीम मलिक का दूसरा मौका मांगना इन दिनों पाकिस्‍तान में छाया है. पाकिस्‍तान के इस खेल में एक और खिलाड़ी आ चुका है. स्‍पॉट फिक्सिंग के कारण जेल में रह चुके पाकिस्‍तान के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आसिफ (Mohammad Asif ) ने भी दूसरा मौका मांगा है. मोहम्मद आसिफ ने कहा है कि स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने वाले वह न तो पहले खिलाड़ी हैं और न ही आखिरी, लिहाजा क्रिकेट बोर्ड को उनके साथ बेहतर बर्ताव करके दूसरों की तरह एक मौका और देना चाहिए था .

ब्रिटेन की जेल में भी रहे थे 
आसिफ पर पाकिस्तान टीम के 2010 के इंग्लैंड दौरे पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों के कारण सात साल का प्रतिबंध लगाया गया था. वह ब्रिटेन में जेल में भी रहे. आसिफ ने क्रिकइन्फो से कहा कि हर कोई गलती करता है और उन्‍होंने भी की. उनसे पहले और बाद में भी लोगों ने फिक्सिंग की, लेकिन उनसे पहले करने वाले पीसीबी के साथ काम कर रहे हैं और उनके बाद वाले अभी भी खेल रहे हैं.
उन्होंने कहा कि हर किसी को दूसरा मौका दिया गया, लेकिन उनके जैसे कुछ को वह नहीं मिला. पीसीबी ने मुझे बचाने की कभी कोशिश नहीं की. आसिफ ने कहा कि वे ऐसे गेंदबाज थे, जिसे दुनिया भर में सम्मान हासिल था.



सलीम ने आजीवन प्रतिबंध हटाने का आग्रह किया



आसिफ से पहले पूर्व कप्तान सलीम मालिक ने मैच फिक्सिंग के कारण उन पर लगा आजीवन प्रतिबंध हटाने का आग्रह किया था ताकि वो कोचिंग का अपना ख्‍वाब पूरा कर सकें. मलिक को 2000 में मैच फ़िक्सिंग का दोषी पाया गया था, जिसके बाद उन पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया था. वसीम अकरम की तरफ इशारा करते हुए सलीम मलिक ने कहा था कि भ्रष्टाचार के दोषी अन्य खिलाड़ियों को खेल में वापसी की अनुमति दी गई, लेकिन उन्हें नहीं. यूं तो पाकिस्तान के ज्‍यादातर पूर्व खिलाड़ियों ने मालिक की मुख़ालफ़त की है लेकिन मालिक के सुर में सुर मिलाते हुए पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रहे इंज़माम उल हक़ ने कहा कि मुझे लगता है कि सलीम मालिक को दूसरा मौका देना चाहिए, ताकि वो देश के लिए कुछ कर सकें, वो युवा बल्लेबाज़ों के लिए अच्छी कोचिंग कर सकते हैं.

(भाषा इनपुट के साथ )

अकरम की पहली गेंद पर चौका जड़ डरा कीवी बल्‍लेबाज,अगले ही पल करीब से देखी 'मौत'

घर के फर्श पर कूद-कूदकर फील्डिंग प्रैक्टिस कर रहा है टीम इंडिया का ये खिलाड़ी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading