नासिर हुसैन ने मोहम्‍मद कैफ को बताया बस ड्राइवर, मिला ऐसा करारा जवाब

नासिर हुसैन ने मोहम्‍मद कैफ को बताया बस ड्राइवर, मिला ऐसा करारा जवाब
मोहम्‍मद कैफ ने उस मैच में युवराज सिंह के साथ मिलकर 121 रनों की पार्टनरशिप की थी

बात 2002 नेटवेस्‍ट सीरीज की है. जब फाइनल के दौरान नासिर हुसैन ने उन्‍हें बस ड्राइवर कहा था

  • Share this:
नई दिल्‍ली. मोहम्‍मद कैफ (Mohammad Kaif) ने खुलासा किया कि इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान नासिर हुसैन (Nasser Hussain) ने एक बार उन्‍हें बस ड्राइवर कहा था, जिसके बाद उन्‍होंने भी इंग्लिश दिग्‍गज को करारा जवाब दिया था. हेलो एप से बातचीत में मोहम्‍मद कैफ ने इसका खुलासा किया. दरअसल बात 2002 नेटवेस्‍ट सीरीज की है. जहां इंग्‍लैंड के तत्‍कालीन कप्‍तान नासिर ने कैफ को स्लेज किया था और उन्‍हें सीरीज के फाइनल के दौरान बस ड्राइवर कहा था. लॉडर्स में खेले गए नेटवेस्‍ट ट्रॉफी के फाइनल में मोहम्‍मद कैफ ने युवराज सिंह के साथ मिलकर 121 रनों की विजयी पार्टनरशिप की थी. इसी पार्टनरशिप के दम पर भारत ने 146 रनों पर पांच विकेट गंवाने के बाद 326 रनों का लक्ष्‍य हासिल कर लिया था.

मोहम्‍मद कैफ ने इंटरव्‍यू में कहा कि वह काफी बातूनी थे. उन्‍होंने कहा कि वह बहुत सारी बातें किया करते थे, ताकि उनकी एकाग्रता टूट जाए. उस दौरान नासिर हुसैन ने कैफ को बस ड्राइवर कहा था. जिसके जवाब में भारतीय बल्‍लेबाज ने उन्‍हें कहा कि बस ड्राइवर के लिए यह कोई खराब पारी नहीं है. उस मैच में मोहम्‍मद कैफ ने 75 गेंदों पर 87 रन बनाए थे. जिसमें उन्‍होंने 6 चौके और दो छक्‍के लगाए थे. इस शानदार पारी के दम पर वह फाइनल मैच के मैन ऑफ द मैच रहे थे. युवराज ने उस मैच में 63 गेंदों पर 69 रन बनाए थे.

जॉन राइट चैपल से बेहतर कोच



इस इंटरव्‍यू में मोहम्‍मद कैफ ने सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले और एमएस धोनी में से गांगुली को बेहतरीन कप्‍तान चुना. जबकि तेज गेंदबाजों ने उन्‍होंने जहीर खान को कपिल देव से ऊपर रखा. कोच की बात पर कैफ ने कहा कि ग्रैग चैपल और जॉन राइट में से राइट सर्वश्रेष्‍ठ कोच थे. उन्‍होंने कहा कि ग्रैग चैपल के पास बेहतरीन बल्‍लेबाजी तकनीक और टिप्‍स थी और सुरेश रैना जैसे कई नए खिलाड़ी उन्‍हें पसंद भी करते थे, मगर उनके साथ अहम जैसी चीज की समस्‍या है. मोहम्‍मद कैफ ने इंटरव्‍यू में कहा कि दुनिया में कोरोना वायरस के कारण पैदा हुई समस्‍या को देखकर वह काफी दुखी है. वो घर पर भी सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करते हैं.
क्रिकेट से लेकर टेनिस तक सब 'बर्बाद', पाई-पाई को मोहताज होंगे खिलाड़ी!

कैफ का बड़ा बयान: यूपी के लोगों को अधिक मौके नहीं मिलते थे, मेरे पिता भी...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज