केवल 12वीं तक पढ़ा था यूपी का ये क्रिकेटर, बाद में कहलाया टीम इंडिया का 'जोंटी रोड्स'

कैफ ज्‍यादा पढ़े लिखे नहीं हैं. उन्‍होंने प्रयागराज (तब के इलाहाबाद) के मेवा लाल अयोध्‍या प्रसाद इंटरमीडिएट कॉलेज सोरांव से 12वीं तक की पढ़ाई की है.

News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 11:24 AM IST
केवल 12वीं तक पढ़ा था यूपी का ये क्रिकेटर, बाद में कहलाया टीम इंडिया का 'जोंटी रोड्स'
मोहम्‍मद कैफ.
News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 11:24 AM IST
मोहम्‍मद कैफ की गिनती उन क्रिकेटरों में की जाती है जिन्‍होंने अपनी फिटनेस और फील्डिंग के दम पर नाम कमाया. उनके बाद में आने वाले भारतीय क्रिकेटरों की फील्डिंग की तुलना कैफ से की जाती रही है. उन्‍होंने युवराज सिंह के साथ मिलकर पॉइंट और कवर को ऐसा इलाका बना दिया था जहां से विपक्षी बल्‍लेबाज के लिए रन बनाना टेढ़ी खीर होता था. कैफ को अगर भारत का जोंटी रोड्स कहा जाए तो अतिशयोक्ति नहीं होगी. लेकिन उत्‍तर प्रदेश के इस क्रिकेटर के लिए प्रयागराज की धूल भरी गलियों से निकलकर भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्‍सा बनना आसान नहीं था. कैफ ने अपनी मेहनत से रास्‍ता बनाया और वे वर्ल्‍ड कप में भी खेले.

कैफ ज्‍यादा पढ़े लिखे नहीं हैं. उन्‍होंने प्रयागराज (तब के इलाहाबाद) के मेवा लाल अयोध्‍या प्रसाद इंटरमीडिएट कॉलेज सोरांव से 12वीं तक की पढ़ाई की है. इसके बाद वे क्रिकेट की दुनिया में ही रच बस गए. उन्‍होंने साबित किया कि किताबी ज्ञान से ज्‍यादा जिस चीज में मन लगता हो उसपर दिल से मेहनत करनी चाहिए. बचपन से ही उनका मन क्रिकेट में बसता था और वे प्रयागराज से कानपुर आ गए. यहां पर वे ग्रीन पार्क स्‍टेडियम के हॉस्‍टल में रहने लगे. यहीं से उनका सफर भारतीय क्रिकेट टीम तक पहुंचा.


यूपी बोर्ड रिजल्ट 2019

यूपी बोर्ड रिजल्ट 2019



घरेलू क्रिकेट की कड़ी मेहनत से उन्‍हें भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम में जगह मिल गई. साल 2000 में श्रीलंका में हुए अंडर-19 वर्ल्‍ड कप में उन्‍हें कप्‍तानी सौंपी गई और उन्‍होंने टीम इंडिया को इस कैटेगरी में वर्ल्‍ड चैंपियन बना दिया. उनके नेतृत्‍व में भारत ने पहली बार अंडर-19 वर्ल्‍ड कप जीता था.

10वीं-12वीं पास करने में इस खिलाड़ी को लग गए 5 साल, फिर ऐसे बदल गई किस्मत

mohammd kaif education, cricketers education, UP cricketers education, UP Board Result 2019, UP Board Class 10th Result 2019, UP Board Class 12th Result 2019, UP Board Class Inter Result 2019
मोहम्‍मद कैफ की गिनती देश के सबसे चुस्‍त फील्‍डर्स में होती थी.


इसी साल उन्‍हें दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भारतीय टेस्‍ट टीम में शामिल कर लिया गया. दो साल बाद ही वे वनडे टीम का हिस्‍सा बन गए और उन्‍होंने 2003 के वर्ल्‍ड कप में टीम इंडिया का प्रतिनिधित्‍व किया. उस समय वे युवराज सिंह के साथ मिलकर भारतीय टीम के मिडिल ऑर्डर की रीढ़ हुआ करते थे.

10वीं पास नहीं कर पाए मोहम्मद शमी, आज वर्ल्ड कप टीम का बन चुके हैं हिस्सा
Loading...

इंग्‍लैंड के खिलाफ 2002 में नेटवेस्‍ट ट्रॉफी के फाइनल में खेली गई उनकी पारी को भारतीय क्रिकेट की सबसे यादगार पारियों में गिना जाता है. उस मैच में कैफ ने नाबाद रहते इंग्‍लैंड के दिए 325 रन के लक्ष्‍य को हासिल किया था.

पढ़ाई में फिसड्डी रहने वाले भुवनेश्वर बन गए मेरठ की पहचान, यूं पूरा किया क्रिकेटर बनने का सपना

वर्ल्‍ड कप में एक मैच में सबसे ज्‍यादा चार कैच पकड़ने का रिकॉर्ड उनके नाम हैं. दक्षिण अफ्रीका में 2003 में हुए वर्ल्‍ड कप में श्रीलंका के खिलाफ उन्‍होंने यह कारनामा किया था. वे जिस समय भारतीय टीम में शामिल हुए थे उस समय तक यूपी से केवल पांच क्रिकेटर नेशनल टीम में खेले थे. लेकिन उनकी कप्‍तानी वाली यूपी टीम से बाद में आरपी सिंह, सुरेश रैना पीयूष चावला और प्रवीण कुमार ने भी इंडियन टीम में जगह बनाई.

यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे सबसे पहले देखने के लिए यहां क्लिक करें

2009 में एक समय तीन यूपी के क्रिकेटर भारतीय टीम का हिस्‍सा थे. कैफ ने 13 टेस्‍ट खेले और 624 रन बनाए. वहीं वनडे में 125 मैचों में उन्‍होंने 2753 रन बनाए. वे अभी आईपीएल में दिल्‍ली कैपिटल्‍स की कोचिंग टीम का हिस्‍सा हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: April 27, 2019, 11:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर