अजहरुद्दीन ने फैंस को दिखाया अपना वो बल्ला, जिससे बना शतकों का रिकॉर्ड आज भी है कायम

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने अपने टेस्ट करियर के शुरुआती तीनों मैचों में शतक जड़े थे. (Twitter)

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने अपने टेस्ट करियर के शुरुआती तीनों मैचों में शतक जड़े थे. (Twitter)

करियर में 99 टेस्ट और 334 वनडे खेलने वाले भारत के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने अपने टेस्ट करियर के शुरुआती तीनों मैचों में शतक जड़े थे. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ कोलकाता, चेन्नई और फिर कानपुर में शतक लगाए थे.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत के सबसे सफल क्रिकेट कप्तानों में शुमार मोहम्मद अजहरुद्दीन (Mohammed Azharuddin) ने अपना वह बल्ला दिखाया है जिससे उन्होंने रिकॉर्ड बनाया था. वह शनिवार को अपनी पुरानी यादों में डूब गए जिससे जुड़ी तस्वीरें उन्होंने सोशल मीडिया पर भी शेयर कीं. इनमें से एक में वह अपने हाथ में एक पुराना बल्ला पकड़े हुए हैं जिससे उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ रिकॉर्ड बनाया था.

अजहर ने अपने शुरुआती तीन टेस्ट मैचों में लगातार शतक जड़कर रिकॉर्ड बनाया था जो आज भी कायम है. उन्होंने ट्विटर पर अपनी कुछ तस्वीरें शेयर कीं. अजहरुद्दीन ने कैप्शन में लिखा, 'इस बल्ले के साथ मैंने साल 1984-85 में एक वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था जब शुरुआती तीन टेस्ट मैचों में इंग्लैंड के खिलाफ लगातार शतक लगाए थे. एक सीजन में मैंने इस बल्ले से 800 से भी ज्यादा रन बनाए थे. मेरे दादा ने यह बल्ला पसंद किया था.'

इसे भी देखें, क्रिकेटर से की शादी और खत्‍म हो गया इन पांच खूबसूरत हसीनाओं का फिल्मी करियर

करियर में 99 टेस्ट और 334 वनडे खेलने वाले अजहरुद्दीन के लिए यह बल्ला बेहद खास है. जब उन्होंने 1984 में इंग्लैंड के खिलाफ ईडन गार्डंस में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था. उन्होंने मैच की पहली पारी में 322 गेंदों पर 110 रन बनाए थे. हालांकि मैच ड्रॉ रहा था. चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट में अजहरुद्दीन ने पहली पारी में 48 रन बनाए लेकिन दूसरी पारी में 105 रन ठोके. इंग्लैंड ने इस मुकाबले को जीत लिया था.


31 जनवरी 1985 से कानपुर में खेले गए अजहर ने अपने तीसरे टेस्ट मैच की पहली ही पारी में 122 रन बनाए. उन्होंने दूसरी पारी में भी नाबाद 54 रन की पारी खेली थी. अजहर की तरह कोई दूसरा भारतीय ऐसा नहीं कर पाया कि शुरुआती तीन टेस्ट मैचों में शतक लगाए हों. उन्होंने अपने करियर में 99 टेस्ट मैचों में 22 शतक और 21 अर्धशतकों की मदद से 6215 रन बनाए जबकि वनडे में उन्होंने कुल 9378 रन बनाए जिसमें सात शतक और 58 अर्धशतक शामिल रहे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज