अपना शहर चुनें

States

मोहम्मद सिराज ने बताया ऑस्ट्रेलिया में कैसे मिली सफलता, लॉकडाउन में घर पर किया ये काम

मोहम्मद सिराज ने टेस्ट सीरीज में 13 विकेट लिए थे (साभार-एपी)
मोहम्मद सिराज ने टेस्ट सीरीज में 13 विकेट लिए थे (साभार-एपी)

मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) पहली टेस्ट सीरीज में ही 13 विकेट लेकर भारत के सबसे सफल गेंदबाज बने.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 9:36 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल में ही समाप्त हुए टेस्ट सीरीज में भारत की तरफ शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों में से एक थे. पहली टेस्ट सीरीज में ही सिराज 13 विकेट लेकर भारत के सबसे सफल गेंदबाज बने. भारत ने लगातार दूसरी बार ऑस्ट्रेलिया को उसी की सरजमीं पर हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border-Gavaskar Trophy) पर कब्जा बरकरार रखा, जिसमें सिराज ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

सिराज ने लॉकडाउन के दौरान ही आईपीएल 2020 और ऑस्ट्रेलियाई दौरे की तैयारी शुरू कर दी थी. कोरोना वायरस महामारी के कारण भारतीय क्रिकेट टीम करीब छह महीने मैदान से दूर थी, लेकिन इसके बावजूद सिराज ने हौसला नहीं हारा. यह ब्रेक हैदराबाद के तेज गेंदबाज के लिए गेम चेंजर साबित हुआ. उन्होंने इस दौरान अपनी गेंदबाजी स्किल को और मजबूत किया.

विराट कोहली को दिया सफलता का श्रेय
सिराज ने खुलासा किया कि उन्होंने लाइन-लेंथ सुधारन के लिए लॉकडाउन के दौरान एक ही स्टंप पर गेंदबाजी का अभ्यास किया. लॉकडाउन के दौरान जमकर पसीना बहाने वाले सिराज को इसका फायदा पहले आईपीएल फिर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में हुआ. अपनी पहली टेस्ट सीरीज में सिराज ने सीनियर गेंदबाजों की अनुपस्थिति में भारतीय पेस अटैक का नेतृत्व किया और टीम प्रबंधन द्वारा दिखाए गए विश्वास पर खरे उतरे. उन्होंने कहा, "मुझे पता था कि यह मेरे लिए एक अहम सीजन होगा क्योंकि मैंने पिछले साल आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था. इसलिए लॉकडाउन के दौरान मैंने अपनी गेंदबाजी पर बहुत मेहनत की. मैंने एक ही स्टंप पर गेंदबाजी करके बहुत अभ्यास किया."
आईपीएल 2020 में सिराज एक ही स्पैल में दो मेडन फेंकने वाले पहले गेंदबाज बने थे. सिराज ने आईपीएल में मिली सफलता का श्रेय रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली को दिया. सिराज ने कहा, "विराट भाई ने मुझे बताया कि मेरे अंदर अच्छा करने की क्षमता है. उन्होंने मुझे लगातार लाइन-लेंथ पर गेंदबाजी करने को कहा. मैंने बस इसे करने का प्रयास किया. इससे पहले मैंने खुद पर बहुत दबाव डाला था लेकिन इस सीजन में रिलैक्स होकर गेंद को अपना काम करने दिया."



यह भी पढ़ें: IND vs ENG: सीरीज का आगाज करने से पहले चेन्‍नई में बनेगी विराट कोहली की 'टीम इंडिया'

फ्रेक्‍चर के बावजूद सिडनी में बल्‍लेबाजी के लिए तैयार थे जडेजा, कहा- इंजेक्‍शन भी ले लिया था

सिराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले अपने पिता को खो दिया था. हालांकि अंदर से बेहद मजबूत इस खिलाड़ी ने घर वापस लौटने की जगह ऑस्ट्रेलिया में अपने साथियों की मदद करने का फैसला किया. मेलबर्न खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में डेब्यू करने वाले सिराज ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. ब्रिसबेन में खेले गए आखिरी और फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में पांच विकेट लेकर उन्होंने जीत की आधारशिला रखी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज