Home /News /sports /

हरभजन सिंह के लिए साथ खड़ी हुई थी टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया का दौरा बीच में छोड़ने तक की दे दी थी धमकी

हरभजन सिंह के लिए साथ खड़ी हुई थी टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया का दौरा बीच में छोड़ने तक की दे दी थी धमकी

हरभजन सिंह पर आरोप लगे थे कि उन्होंने सायमंड्स के खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी की. (AFP)

हरभजन सिंह पर आरोप लगे थे कि उन्होंने सायमंड्स के खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी की. (AFP)

6 January in Cricket History: 6 जनवरी 2008 को ऑस्ट्रेलिया ने भारत को सिडनी में खेले गए टेस्ट मैच में हराया था लेकिन इस मैच को 'मंकीगेट' के लिए ज्यादा याद किया जाता है. सिडनी टेस्ट में ही ऐसे आरोप लगाए गए थे कि हरभजन ने सायमंड्स के लिए 'बंदर' शब्द का इस्तेमाल किया था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने हाल में हर तरह के क्रिकेट फॉर्मेट से संन्यास ले लिया. उन्होंने कई मैचों में भारत को जीत दिलाई लेकिन उनके साथ मैदान पर कुछ विवाद भी जुड़े रहे. ऐसा ही एक विवाद साल 2008 में उनसे जुड़ा. भज्जी से मशहूर इस पूर्व क्रिकेटर पर आरोप लगे थे कि उन्होंने सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में एंड्रयू सायमंड्स (Andrew Symonds) के खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी की थी. इसे ‘मंकीगेट’ भी कहा गया क्योंकि ऐसे आरोप लगाए गए थे कि हरभजन ने सायमंड्स के लिए ‘बंदर’ शब्द का इस्तेमाल किया था.

    सिडनी में 2 जनवरी 2008 से शुरू हुए उस टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 122 रन से जीत दर्ज की थी जो टेस्ट में उसकी लगातार 16वीं जीत थी लेकिन हरभजन सिंह और एंड्रयू सायमंड्स से जुड़े विवाद ने इस जश्न पर पानी फेर दिया. मैच रेफरी माइक प्रॉक्टर ने हरभजन को नस्लवादी टिप्पणी के आरोपों के चलते 3 टेस्ट मैचों से सस्पेंड करने की सजा सुना दी लेकिन तब भारतीय टीम के खिलाड़ी अपने साथी हरभजन के साथ खड़े नजर आए. इतना ही नहीं, अनिल कुंबले की कप्तानी वाली उस टीम ने दौरा रद्द करने तक की धमकी दे दी थी. बाद में हरभजन से निलंबन हटा और उन पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया.

    इसे भी देखें, ‘किसी के तलवे नहीं चाटने हैं…’ BCCI से जुड़ने पर हरभजन सिंह की दो टूक

    उस वक्त पूरी टीम ने जो एकता दिखाई, उसने एक मिसाल कायम की. हरभजन को जब सस्पेंड करने की सजा सुनाई गई तो सभी खिलाड़ियों ने एक बैठक की. उसमें केवल खिलाड़ियों ने ही हिस्सा लिया और सपोर्ट स्टाफ का कोई सदस्य शामिल नहीं हुआ था. बाद में खिलाड़ियों ने फैसला किया कि वे हरभजन सिंह के साथ खड़े रहेंगे. इतना ही नहीं, यहां तक कि धमकी दी गई थी कि अगर हरभजन के निलंबन पर स्थिति साफ नहीं होती है तो टीम का कोई भी खिलाड़ी सिडनी से अगले टेस्ट मैच के लिए रवाना ही नहीं होगा. खिलाड़ी इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं थे कि उनके एक साथी को ‘नस्लीय आधार पर भेदभाव करने वाला’ करार दिया गया है.

    मुकाबले की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 463 रन बनाए. एंड्रयू सायमंड्स 162 रन बनाकर नाबाद लौटे थे जिन्होंने 226 गेंदों पर 18 चौके और 2 छक्के जड़े. फिर भारत ने पहली पारी में 532 रन बनाए जिसके लिए सचिन तेंदुलकर ने नाबाद 154 और वीवीएस लक्ष्मण ने 108 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी 7 विकेट पर 401 रन बनाकर घोषित की जिससे भारत को जीत के लिए 333 रन का लक्ष्य मिला. दूसरी पारी में टीम इंडिया 210 रन बना पाई और 122 रन से मुकाबला हार गई. सायमंड्स मैन ऑफ द मैच चुने गए जिन्होंने पहली पारी में शतक जड़ने के बाद मैच की दूसरी पारी में 61 रन बनाए और 3 विकेट भी लिए.

    भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच उस सीरीज में 4 टेस्ट मैच खेले गए थे. ऑस्ट्रेलिया ने शुरुआती दोनों टेस्ट जीतकर सीरीज में अजेय बढ़त बनाई जिसके बाद भारत ने पर्थ में तीसरा टेस्ट 72 रन से जीता. एडिलेड में चौथा टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था.

    Tags: Andrew Symonds, Cricket news, Harbhajan singh, India vs Australia, On This Day

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर