• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • B’Day Special: इंग्लैंड के लिए 50 टेस्ट खेलने वाला भारतीय मूल का दिग्गज, सचिन को हमेशा किया तंग

B’Day Special: इंग्लैंड के लिए 50 टेस्ट खेलने वाला भारतीय मूल का दिग्गज, सचिन को हमेशा किया तंग

मोंटी पनेसर और सचिन तेंदुलकर दोनों ने 2013 में आखिरी टेस्ट मैच खेला था.

मोंटी पनेसर और सचिन तेंदुलकर दोनों ने 2013 में आखिरी टेस्ट मैच खेला था.

भारतीय मूल के कई क्रिकेटरों ने दूसरे देशों के लिए खेलकर दुनिया में पहचान बनाई है. 25 अप्रैल, ऐसे ही क्रिकेटर मोंटी पनेसर (Monty Panesar) का जन्मदिन है, जिनके पसंदीदा शिकार सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) रहे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय मूल के ऐसे क्रिकेटर हुए हैं, जो दूसरे देशों के लिए खेले और दुनिया में अपनी पहचान बनाई. 25 अप्रैल, ऐसे ही एक क्रिकेटर का जन्मदिन है. इंग्लैंड (England) के इस क्रिकेटर का पसंदीदा शिकार सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) रहे. उसने क्रिकेट का भगवान कहे जाने वाले सचिन को पांच बार आउट किया. दिलचस्प बात यह है कि सचिन तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल को हुआ है.

    आज (25 अप्रैल) को इंग्लैंड के मधुसूदन सिंह पनेसर (Mudhsuden Singh Panesar) का जन्मदिन है, जिसे क्रिकेट जगत में मोंटी पनेसर (Monty Panesar) के नाम से जाना जाता है. बाएं हाथ के इस स्पिनर ने इंग्लैंड के लिए 50 टेस्ट मैच खेला. वे इंग्लैंड के लिए सबसे अधिक टेस्ट मैच खेलने वाले भारतीय मूल के खिलाड़ी हैं. 38 साल के मोंटी ने 26 वनडे और एक टी20 इंटरनेशनल मैच भी खेला. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 167, वनडे में 24 और टी20 में दो विकेट झटके.

    मोंटी पनेसर का इंटरनेशनल करियर सात साल का रहा. उन्होंने इस दौरान कई यादगार प्रदर्शन किए. इसमें भारत के खिलाफ 2010 का प्रदर्शन भी है. मोंटी ने इस साल भारत दौरे पर तीन मैचों में 17 विकेट झटके. उनकी और ग्रीम स्वान की जोड़ी की बदौलत इंग्लैंड ने भारत में 18 साल बाद टेस्ट सीरीज जीती.

    मोंटी पनेसर के पसंदीदा क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर रहे हैं. दिलचस्प बात यह है कि मोंटी के पसंदीदा भारतीय शिकार भी सचिन तेंदुलकर ही रहे. उन्होंने सचिन को ही टेस्ट में चार और वनडे में एक बार आउट किया. इस इंग्लिश स्पिनर ने सचिन के अलावा महेंद्र सिंह धोनी और जहीर खान को भी पांच- पांच बार आउट किया है.

    मोंटी ने हाल ही में सचिन तेंदुलकर को सबसे महान बल्लेबाज बताया था. उन्होंने कहा कि सचिन तेंदुलकर श्रीलंका के कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने के साथ उनके दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं. वीरेंद्र सहवाग उस दौर के सबसे आक्रामक बल्लेबाज थे. राहुल द्रविड़ ‘दीवार’ की तरह थे, लेकिन हालात के अनुरूप ढलने की कला तेंदुलकर को सर्वश्रेष्ठ बनाती है.

    यह भी पढ़ें: 

    Corona के बीच भी हो सकती है द हंड्रेड लीग, विदेशी खिलाड़ियों की एंट्री मुश्किल

    कीवी क्रिकेटर ने पाकिस्तानी स्कूल को डोनेट कर दी पूरी फीस, सचिन हैं आदर्श 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज