कश्मीर में ये बड़ा काम करना चाहते हैं एमएस धोनी, मोदी सरकार से मांगेंगे इजाजत!

टीम इंडिया के विकेटकीपर एमएस धोनी (MS Dhoni) इन दिनों कश्मीर में सेना के साथ ट्रेनिंग कर रहे हैं, अब खबर आ रही है कि वो घाटी में बेहद ही खास प्रोजेक्ट शुरू करना चाहते हैं

News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 11:42 PM IST
कश्मीर में ये बड़ा काम करना चाहते हैं एमएस धोनी, मोदी सरकार से मांगेंगे इजाजत!
कश्मीर में ये बड़ा काम करना चाहते हैं एमएस धोनी
News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 11:42 PM IST
टीम इंडिया के विकेटकीपर एमएस धोनी (MS Dhoni) जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना(Indian Army)के साथ ट्रेनिंग में व्यस्त हैं लेकिन वादी से खबर सामने आई है कि वो कश्मीर के युवा क्रिकेटर्स के लिए कुछ करना चाहते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो धोनी कश्मीर में क्रिकेट एकेडमी खोलना चाहते हैं. जहां वो कश्मीर के युवा क्रिकेटरों को मुफ्त ट्रेनिंग देंगे. जानकारी के मुताबिक धोनी इस प्रोजेक्ट को लेकर खेल मंत्रालय से बातचीत भी करने वाले हैं.

कश्मीर में टैलेंटेड क्रिकेटर्स की भरमार
आपको बता दें कश्मीर में एक से बढ़कर एक टैलेंटेड खिलाड़ी हैं. परवेज रसूल के अलावा मंजूर डार ने भी आईपीएल में जगह बनाई. हाल ही में कश्मीर के तेज गेंदबाज रसिख सलाम ने भी मुंबई इंडियंस के लिए डेब्यू किया था. ऐसे में अगर कश्मीर में धोनी अपनी क्रिकेट एकेडमी खोलते हैं तो वहां के युवा खिलाड़ी क्रिकेट के गुर और तेजी से सीख सकते हैं.

एम एस धोनी प्रैक्टिस करते हुए


आपको बता दें धोनी साउथ कश्मीर में सेना के साथ ट्रेनिंग में व्यस्त हैं. उन्होंने 31 जुलाई को साउथ कश्मीर में विक्टर फोर्स का कैंप ज्वाइन किया था. ये यूनिट कश्‍मीर के सबसे ज्‍यादा आतंक प्रभावित जिलों जैसे शोपियां और अनंतनाग में काम करती है. आपको बता दें धोनी को 2011 में लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद रैंक मिली थी.

खबरों की मानें तो धोनी शनिवार को लेह के लिए रवाना हो गए थे. धोनी 15 अगस्त को लेह में तिरंगा फहरा सकते हैं. 15 अगस्त उनकी ट्रेनिंग का आखिरी दिन भी है.

INDvWI: विराट कोहली ने क्‍यों किए आक्रामक इशारे, कौन था उनका निशाना
Loading...

टूट गया ऑस्‍ट्रेलिया का धमाकेदार वर्ल्‍ड रिकॉर्ड, इस अनजान सी टीम ने किया कमाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 12, 2019, 8:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...