Home /News /sports /

महेंद्र सिंह धोनी खुद को नहीं मानते टॉप-3 या 4 खिलाड़ी, चौथी बार IPL ट्रॉफी जीतने के बाद कही बड़ी बात

महेंद्र सिंह धोनी खुद को नहीं मानते टॉप-3 या 4 खिलाड़ी, चौथी बार IPL ट्रॉफी जीतने के बाद कही बड़ी बात

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने चौथी बार IPL चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. (AFP)

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने चौथी बार IPL चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. (AFP)

CSK vs KKR : दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने चौथी बार IPL चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. उन्होंने ट्रॉफी जीतने के बाद कहा कि यह तय करना जरूरी है कि सीएसके के लिए क्या अच्छा है. उन्होंने कहा कि यह उनके लिए टॉप-3 या 4 खिलाड़ी होने के बारे में नहीं है बल्कि एक मजबूत टीम बनाने को लेकर है जिससे फ्रेंचाइजी को नुकसान ना हो.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की गिनती दुनिया के शीर्ष खिलाड़ियों में होती है. वह भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं, लेकिन उनके फैंस की संख्या में शायद ही कोई कमी आई हो. उनकी कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने आईपीएल-2021 का खिताब जीत लिया. इसके बावजूद वह खुद को टीम का टॉप-3 या 4 खिलाड़ी नहीं मानते.

    दुबई में शुक्रवार को खेले गए आईपीएल के 14वें सीजन के फाइनल मैच में चेन्नई कोलकाता नाइट राइडर्स (KolKata Knight Riders) को 27 रन से मात दी. सीएसके ने इस तरह चौथी बार आईपीएल चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. यह बतौर कप्तान धोनी का 300वां टी20 मैच था. इसके साथ टीम ने 2012 के आईपीएल फाइनल में केकेआर से मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया.

    ट्रॉफी जीतने के बाद धोनी ने कहा, ‘इससे पहले कि मैं सीएसके के बारे में बात करूं, पहले केकेआर के बारे में कुछ कहना चाहता हूं. इस लीग में वापसी करना और जो उन्होंने हासिल किया, वह काफी मुश्किल है. अगर कोई टीम आईपीएल जीतने की हकदार थी तो वह केकेआर है. कोच, टीम और सहयोगी स्टाफ को इसका बड़ा श्रेय जाता है. ब्रेक ने वास्तव में उनकी मदद की.’

    उन्होंने आगे कहा, ‘सीएसके टीम में हमने खिलाड़ियों में फेरबदल किया. हमारे पास मैच के विजेता लगातार खेल रहे थे और वास्तव में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे. हर फाइनल खास होता है, अगर आप आंकड़ों पर नजर डालें तो हम कह सकते हैं कि हम फाइनल में सबसे ज्यादा बार हारने वाली टीम हैं. मुझे लगता है कि मजबूत वापसी करना महत्वपूर्ण है, खासकर नॉकआउट में.’

    40 वर्षीय धोनी ने कहा, ‘हमें तय करना है कि सीएसके के लिए क्या अच्छा है. यह मेरे लिए टॉप-3 या 4 खिलाड़ी होने के बारे में नहीं है. हमें यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि एक मजबूत कोर टीम बनाई जाए जिससे फ्रेंचाइजी को नुकसान ना हो. हमें यह देखने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी कि अगले 10 साल में कौन सा खिलाड़ी योगदान दे सकता है.’

    धोनी ने कहा, ‘सच कहूं तो कोई चैट नहीं, हम ज्यादा बात नहीं करते (बैठकें). हमारे प्रैक्टिस सेशन ही मीटिंग की तरह हैं. जैसे ही आप टीम रूम में जाते हैं, यह अलग तरह का दबाव लाता है. हमारे प्रैक्टिस सेशन अच्छे रहे हैं. मैं प्रशंसकों को धन्यवाद देना चाहूंगा. जहां भी हम खेले हैं, यहां तक ​​कि जब हम दक्षिण अफ्रीका में थे, तब भी हमारे पास सीएसके फैंस की अच्छी संख्या थी. आप उसी के लिए तरसते हैं. उन सभी की बदौलत ऐसा लगता है कि हम चेन्नई में खेल रहे हैं. उम्मीद है कि हम प्रशंसकों के लिए चेन्नई वापस आएंगे.’

    मैच की बात करें तो सीएसके ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 3 विकेट पर 192 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. जवाब में केकेआर की टीम 165 रन ही बना सकी. सीएसके के ओपनर बल्लेबाज फाफ डुप्लेसी ने 86 रन की शानदार पारी खेली जो मैन ऑफ द मैच भी बने. वहीं, पेसर शार्दुल ठाकुर ने 3 विकेट झटके.

    Tags: Chennai Super Kings vs Kolkata Knight Riders, Cricket news, CSK vs KKR, Indian premier league, IPL 2021, IPL 2021 Final, Ms dhoni

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर