होम /न्यूज /खेल /

विदेशी खिलाड़ियों के बिना आईपीएल नहीं खेलेगी एमएस धोनी की टीम चेन्नई सुपरकिंग्स!

विदेशी खिलाड़ियों के बिना आईपीएल नहीं खेलेगी एमएस धोनी की टीम चेन्नई सुपरकिंग्स!

आईपीएल का फाइनल शेड्यूल अब तक जारी नहीं किया गया है

आईपीएल का फाइनल शेड्यूल अब तक जारी नहीं किया गया है

चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) ने कहा बिना विदेशी खिलाड़ियों के आईपीएल (IPL 2020) सैयद मुश्ताक अली जैसा टूर्नामेंट होगा

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस की वजह से आईपीएल को अनिश्तिकाल के लिए स्थगित किया जा चुका है लेकिन इसे आयोजित कराने के लिए सभी विकल्पों पर विचार किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि अगर स्थिति सुधरती है तो आईपीएल का आयोजन बिना विदेशी खिलाड़ियों के साथ भी किया जा सकता है. हालांकि एमएस धोनी की टीम चेन्नई सुपरकिंग्स इसके हक में नहीं है. उसने साफ तौर पर कह दिया है कि बिना विदेशी खिलाड़ियों के वो आईपीएल नहीं खेलेगी.

    बिना विदेशी खिलाड़ियों के आईपीएल खेलने को तैयार नहीं सीएसके!
    मंगलवार को चेन्नई सुपरकिंग्स ने सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजन का राजस्थान रॉयल्स के विचार को खारिज करते हुए कहा कि इससे चकाचौंध से भरा यह टूर्नामेंट सैयद मुश्ताक अली (घरेलू टी20) टूर्नामेंट की तरह रह जाएगा. कोविड़-19 महामारी के कारण आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है. ऐसे कयास लगाये जा रहे है कि अगर ऑस्ट्रेलिया में प्रस्तावित टी20 विश्व कप का आयोजन नहीं हुआ तो सितंबर-अक्टूबर में आईपीएल का आयोजन हो सकता है.

    चेन्नई सुपरकिंग्स के एक सूत्र ने गोपनीयता के सत्र पर पीटीआई-भाषा से कहा, ' सीएसके सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल के आयोजन का इच्छुक नहीं है. इस तरह से हम एक और सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेल रहे होंगे. कोविड-19 महामारी की स्थिति बिगड़ने के बाद फ्रेंचाइजी ने बीसीसीआई से संपर्क नहीं किया है.' उन्होंने कहा, ' उम्मीद करते है कि इस साल के आखिर में आईपीएल का आयोजन होगा.' सीएसके तीन बार इस टूर्नामेंट का चैम्पियन बना है और वह चार खिताब जीतने वाले मुंबई इंडियन्स के बाद दूसरी सबसे सफल टीम है.

    आईपीएल नहीं हुआ तो बीसीसीआई को 4 हजार करोड़ का नुकसान
    बीसीसीआई अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत बनाये रखने के लिए आईपीएल को आयोजित करने की पूरी कोशिश कर रहा है. विश्व के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने पिछले दिनों पीटीआई-भाषा से कहा था, 'अगर टूर्नामेंट नहीं हुआ तो बोर्ड को 4000 करोड़ रुपये का नुकसान होगा.' सीएसके से सूत्र ने कहा, 'हम उम्मीद करते है कि बीसीसीआई सही समय पर अच्छा फैसला करेगा.'

    पिछले महीने, राजस्थान रॉयल्स के कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत बारठाकुर ने कहा था कि फ्रेंचाइज़ी केवल भारतीय खिलाड़ियों और कम मैचों के साथ आईपीएल के आयोजन के पक्ष में है. उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा था, 'पहले हम सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल के बारे में नहीं सोच सकते थे, लेकिन अब हमारे पास खिलाड़ियों को चुनने का काफी विकल्प है. आईपीएल सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ होना ही बेहतर है.'undefined

    Tags: Chennai super kings, IPL 2020, Ms dhoni

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर