Home /News /sports /

धोनी का बुरा दौर, 7 साल बाद औसत 50 से नीचे और 2018 में एक फिफ्टी भी नहीं

धोनी का बुरा दौर, 7 साल बाद औसत 50 से नीचे और 2018 में एक फिफ्टी भी नहीं

टीम इंडिया के विकेटकीपर एम एस धोनी का बुरा दौर जारी है. (AP Photo/Aijaz Rahi)

टीम इंडिया के विकेटकीपर एम एस धोनी का बुरा दौर जारी है. (AP Photo/Aijaz Rahi)

धोनी इस साल 19 वनडे में एक बार भी 50 रन का आंकड़ा नहीं छू पाए हैं. उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर 42 रन है.

    टीम इंडिया के विकेटकीपर एमएस धोनी का बुरा दौर जारी है. वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में धोनी 23 रन बनाकर आउट हो गए. इस नाकामी के बाद धोनी का वनडे औसत 50 से भी कम हो गया है. धोनी का औसत 50 से कम सितंबर 2011 के बाद हुआ है.

    यहां पढ़ें भारत-वेस्‍ट इंडीज वनडे मैच की लाइव अपडेट्स 

    धोनी अगर मुंबई वनडे में 25 से ज्यादा रन बनाते तो उनका औसत 50 पर बरकरार रहता. हालांकि ऐसा हुआ नहीं और वह 23 रन बनाकर आउट हो गए. धोनी इस साल 19 वनडे में एक बार भी 50 रन का आंकड़ा नहीं छू पाए हैं. उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर 42 रन है.

    बता दें मुंबई वनडे में धोनी के खिलाफ सोशल मीडिया पर एक अभियान सा छिड़ गया था. दरअसल चौथे वनडे की प्लेइंग इलेवन से रिषभ पंत बाहर हो गए, जिसके बाद लोगों से सवाल उठाया कि खराब फॉर्म में चल रहे धोनी को बाहर क्यों नहीं किया गया.

    दरअसल फैंस धोनी की खराब फॉर्म से नाराज हैं और उनके मुताबिक नाम नहीं काम के मुताबिक टीम में खिलाड़ियों का चयन होना चाहिए. फिर चाहे वो धोनी ही क्यों ना हों. इस साल धोनी के बल्ले से एक भी अर्धशतकीय पारी नहीं निकली है.

    इस साल धोनी ने 19 मैचों में महज 25 के औसत से 275 रन बनाए हैं. सबसे बड़ी परेशानी की वजह धोनी का बैटिंग स्ट्राइक रेट है. जो कि 87.81 से गिरकर 71.42 रह गया है. साफ है बतौर बल्लेबाज धोनी की धमक कम हुई है और अब उनका औसत 50 से भी कम हो गया है.

    Tags: India vs west indies, Indian Cricket Team, Ms dhoni, Rishabh Pant

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर