टीम इंडिया ने मानी खराब है ऋषभ पंत की कीपिंग, स्‍पेशल कोच करेगा मदद

ऋषभ पंत राजकोट वनडे से बाहर
ऋषभ पंत राजकोट वनडे से बाहर

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने वेस्टइंडीज (West Indies) के खिलाफ तीसरे वनडे में कई कैच टपकाए जिसके बाद वह प्रशंसकों के निशाने पर आ गए.

  • भाषा
  • Last Updated: December 23, 2019, 10:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) की चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने सोमवार को कहा कि विकेट के पीछे संघर्ष कर रहे ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की विकेटकीपिंग में सुधार के लिए एक विशेषज्ञ को नियुक्त किया जाएगा. पंत ने कुछ समय पहले भी विकेटकीपिंग में सुधार के लिए पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरन मोरे की देखरेख में काम किया था. वेस्टइंडीज के खिलाफ रविवार को तीसरे एकदिवसीय मैच में पंत ने कई कैच टपकाए जिसके बाद वह प्रशंसकों के निशाने पर आ गए.

'पंत को कीपिंग पर ध्‍यान देने की जरूरत'
श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए टीम चयन के मौके पर प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा, ‘पंत को अपनी विकेटकीपिंग में सुधार करना होगा. हम उसके लिए विशेषज्ञ विकेटकीपिंग कोच रखेंगे.’ 22 साल के इस विकेटकीपर को टीम प्रबंधन का पूरा साथ मिल रहा है लेकिन उन्हें लगता है कि पंत को विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है.

rishabh pant, team india, sports news, cricket, syed mushtaq ali trophy, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी, ऋषभ पंत, भारतीय क्रिकेट टीम, क्रिकेट न्यूज, खेल,
भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत पर खुद को साबित करने का भारी दबाव है. (फाइल फोटो)

पंत के कैच छोड़ने पर दर्शक चिल्‍लाते हैं 'धोनी-धोनी'


पंत के खराब प्रदर्शन के कारण बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के दौरान मैदान में मौजूद दर्शक बार-बार धोनी का नाम ले रहे थे. कप्तान विराट कोहली ने हालांकि कहा कि पंत की जगह धोनी का नाम लेना इस युवा खिलाड़ी के लिए अपमानजनक होगा. बीसीसीआई के अध्यक्ष और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भी पंत का समर्थन करते हुए कहा था कि यह विकेटकीपर बल्लेबाज शानदार खिलाड़ी है जिसे परिपक्व होने में समय लगेगा.

rishabh pant keeping, rishabh pant drs, rishabh pant rohit sharma, india bangladesh t20
ऋषभ पंत पर अभी काफी दबाव है.


पंत की कीपिंग में काफी गलतियां 
ऋषभ पंत ने पिछले कुछ महीनों में वनडे व टी20 सीरीज के दौरान विकेट के पीछे काफी गलतियां कीं. बांग्‍लादेश और वेस्‍टइंडीज के खिलाफ सीरीज में उनसे कई कैच छूटे और स्‍टंपिंग के मौके भी हाथ से निकल गए. इनमें से कुछ मौके ऐसे भी थे जो काफी मुश्किल थे. लेकिन पंत से जब भी ऐसी गलती हुई वे तुरंत नजरों में आ गए.

बल्‍ले से भी वे कुछ खास नहीं कर पाए थे ऐसे में उनकी काफी आलोचना हुई. लेकिन विंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज में उन्‍होंने बल्‍ले से खुद को साबित करने का प्रयास किया. चेन्‍नई वनडे में उन्‍होंने अर्धशतक उड़ाया था. लेकिन कीपिंग में वे अभी भी काफी कच्‍चे हैं.

धोनी खुद को साबित करें, तभी मिलेगी टीम इंडिया में जगह: एमएसके प्रसाद

बुमराह टीम इंडिया में जाने से पहले खेलेंगे यह मैच, धवन की भी वापसी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज