• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • टीम इंडिया से बाहर किए जाने के मामले में पकड़ा गया सुरेश रैना का झूठ! एमएसके प्रसाद ने बताई सच्चाई

टीम इंडिया से बाहर किए जाने के मामले में पकड़ा गया सुरेश रैना का झूठ! एमएसके प्रसाद ने बताई सच्चाई

सुरेश रैना 2018 के बाद से ही टीम इंडिया से बाहर हैं

सुरेश रैना 2018 के बाद से ही टीम इंडिया से बाहर हैं

सुरेश रैना (Suresh Raina) ने जुलाई 2018 में आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला था, लगभग 2 साल का वक्त बीत चुका है लेकिन उनकी टीम में वापसी नहीं हुई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना (Suresh Raina) ने हाल ही में सोशल मीडिया पर कहा था कि राष्ट्रीय चयन समिति ने उनके साथ नाइंसाफी की है और उन्हें फिट होने के बावजूद टीम इंडिया में नहीं चुना गया. यही नहीं रैना ने दावा किया था कि उन्हें ये भी नहीं बताया गया कि आखिर वो टीम इंडिया से बाहर क्यों हैं? सुरेश रैना के इन आरोपों पर टीम इंडिया के पूर्व चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने जवाब दिया है. प्रसाद ने कहा कि साल 2018-19 के घरेलू सीजन में रैना का फॉर्म वापसी के लायक नहीं था. भारत के लिये 226 वनडे और 78 टी20 के अलावा 18 टेस्ट खेल चुके 33 साल के रैना ने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच जुलाई 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था.

    रैना को एमएसके प्रसाद का जवाब
    पिछले साल नीदरलैंड में घुटने का आपरेशन कराने वाले रैना (Suresh Raina)  इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के लिये खेलकर वापसी करना चाहते थे लेकिन अब लीग स्थगित हो गई है. प्रसाद ने कहा, 'वीवीएस लक्ष्मण को 1999 में भारतीय टेस्ट टीम से बाहर किया गया था जिसके बाद उन्होंने घरेलू क्रिकेट में 1400 रन बनाये, सीनियर खिलाड़ियों से यही उम्मीद की जाती है.' रैना ने 2018-19 के घरेलू सत्र में पांच रणजी मैचों में 243 रन बनाये. वहीं आईपीएल 2019 में 17 मैचों में 383 रन ही बना सके.

    'चयन समिति रणजी मैच देखती है'
    प्रसाद ने कहा, 'घरेलू क्रिकेट में रैना (Suresh Raina)  का फॉर्म नहीं दिखा जबकि दूसरे युवाओं ने शानदार प्रदर्शन करके अपना दावा पुख्ता किया.' रैना ने यूट्यूब शो ‘स्पोटर्स तक ’ में चयनकर्ताओं पर उन्हें बाहर करने के कारण नहीं बताने का आरोप लगाया जबकि प्रसाद ने कहा कि यह सही नहीं है . उन्होंने कहा , 'यह दुखद है कि उन्होंने ऐसा कहा कि चयनकर्ता रणजी मैच नहीं देखते हैं. बीसीसीआई से रिकॉर्ड चेक कर लीजिये कि राष्ट्रीय चयन समिति ने पिछले चार साल में कितने मैच देखे.'

    रैना से की थी बात- प्रसाद
    प्रसाद ने कहा कि उन्होंने खुद रैना (Suresh Raina) को बाहर करने के बारे में बताया था. उन्होंने कहा, 'मैंने निजी तौर पर उससे बात की थी, उन्हें अपने कमरे में बुलाकर भविष्य में वापसी के लिये उनसे अपेक्षाओं के बारे में बताया था. उस समय उन्होंने मेरे प्रयासों की सराहना की थी, अब उनकी बातें सुनकर मैं हैरान हूं.' उन्होंने कहा ,'मैंने खुद लखनऊ और कानपुर में पिछले चार साल में उत्तर प्रदेश के चार रणजी मैच देखे. हमारी चयन समिति ने चार साल में 200 से ज्यादा रणजी मैच देखे.'

    उन्होंने कहा कि टीम से बाहर होने वाले सीनियर खिलाड़ी रैना ( Suresh Raina) को मोहिंदर अमरनाथ का उदाहरण देखना चाहिये जो 20 साल के कैरियर में कई बाहर टीम से बाहर हुए और वापसी की. उन्होंने कहा, 'आप मोहिंदर अमरनाथ को देखिये, कितनी बार वह बाहर हुए और घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करके वापसी की.' एमएसके प्रसाद का अगर ये दावा सही है तो क्या सुरेश रैना झूठ बोल रहे हैं? सच क्या है, इसके बारे में जल्द ही पता चलेगा.

    लार पर बैन की आशंका पर बोले हरभजन सिंह, न मिली ऐसी पिच तो मशीन बनकर रहे जाएंगे गेंदबाज

    400 रन बनाने से चूक गया पाकिस्तान का ये दिग्गज बल्लेबाज, कहा- मैं वर्ल्ड रिकॉर्ड बना देता

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज