सचिन के सामने लगाए 5 शतक, अब परिवार पालने के लिए करता है मौत से जंग!

सचिन के सामने लगाए 5 शतक, अब परिवार पालने के लिए करता है मौत से जंग!
रिटायरमेंट के बाद बदली नाथन एस्टल की जिंदगी

न्यूजीलैंड (New Zealand) का ये तूफानी बल्लेबाज जब रंग में होता था तो दुनिया का हर गेंदबाज उनके आगे पानी भरता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 17, 2020, 10:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. क्रिकेट के खेल में जब तक बल्ला चल रहा है तब तक आपके ठाठ हैं, उसके बाद क्या होगा कोई नहीं जानता. कई बड़े खिलाड़ी ऐसे हैं जो रिटायरमेंट के बाद भी लाखों रुपये कमा रहे हैं लेकिन कुछ क्रिकेटर ऐसे भी हैं, जिन्होंने 70 गज के घेरे और 22 गज की पट्टी पर तूफान मचाया लेकिन रिटायरमेंट के बाद उन्हें परिवार चलाने के लिए जान पर भी खेलना पड़ रहा है. एक ऐसे ही क्रिकेटर हैं न्यूजीलैंड के नाथन एस्टल (Nathan Astle), जो आज कमाई करने के लिए कार रेसिंग करते हैं. रेस भी ऐसी कि कभी भी जान जा सकती है.

नाथन एस्टल बने कार रेसर
2007 में संन्यास लेने वाले नाथन एस्टल (Nathan Astle) क्रिकेट छोड़ने के बाद एक कार रेसर बन गए. एस्टल मॉडिफाइट कार रेसिंग करते हैं. ये खेल इतना खतरनाक है कि रेस के दौरान कई बार कार पलट जाती है और हादसे में ड्राइवर की जान तक जा सकती है. लेकिन 48 साल के होने के बावजूद एस्टल ये काम करते हैं क्योंकि उन्हें घर भी तो चलाना है.

नाथन एस्टल का करियर
न्यूजीलैंड के इस दिग्गज ओपनर ने 81 टेस्ट मैचों में 11 शतकों की मदद से 4702 रन ठोके थे. वहीं वनडे में उन्होंने 16 शतकों की मदद से 7090 रन बनाए थे. एस्टल (Nathan Astle) ने वैसे तो हर विरोधी के खिलाफ तूफानी क्रिकेट खेला लेकिन भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ वो जमकर रन बनाते थे. भारत के खिलाफ एस्टल ने 29 वनडे में 5 शतक और 5 अर्धशतक ठोके. टेस्ट में भी एस्टल ने भारत के खिलाफ 43 से ज्यादा की औसत से रन बनाए.





टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज दोहरा शतक
नाथन एस्टल (Nathan Astle) ने अपने करियर में कई ताबड़तोड़ पारियां खेलीं लेकिन 18 साल पहले उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ महज 168 गेंदों में तूफानी 222 रन ठोक डाले थे. एस्टल ने महज 153 गेंदों में दोहरा शतक जड़ दिया था जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है. एस्टल ने अपनी इस पारी में महज 54 गेंदों में अर्धशतक, 114 गेंदों में शतक, 136 गेंदों में 150 और 153 गेंदों में दोहरा शतक जमाया. गजब की बात ये है कि एस्टल ने ये तूफानी इनिंग मैच की चौथी पारी में खेली थी. हालांकि वो अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके थे. साल 2007 वर्ल्ड कप से पहले अचानक एस्टल ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया, इसकी वजह उन्होंने खेल से रुचि खत्म होना बताई. आज एस्टल (Nathan Astle) एक कार रेसर हैं.

कोरोना का कहर, क्रिकेट बोर्ड के इन 40 लोगों पर मंडराया खतरा

गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों पर बोले सचिन तेंदुलकर,कहा- पूरा देश साथ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading