Ind vs WI: नवदीप सैनी के पास कभी जूते खरीदने के नहीं थे पैसे, अब टीम इंडिया के लिए किया कमाल

आईपीएल 2019 में अपनी रफ्तार भरी बॉलिंग से नवदीप सैनी ने कई लोगों का ध्‍यान खींचा था.

News18Hindi
Updated: August 3, 2019, 9:48 PM IST
Ind vs WI: नवदीप सैनी के पास कभी जूते खरीदने के नहीं थे पैसे, अब टीम इंडिया के लिए किया कमाल
टीम इंडिया के साथ नवदीप सैनी
News18Hindi
Updated: August 3, 2019, 9:48 PM IST
वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टी20 मैच में नवदीप सैनी ने डेब्यू के साथ ही कमाल कर दिया. उन्‍होंने अपने कोटे के 4 ओवर में 17 रन दिए और 3 विकेट निकाले. सैनी का आखिरी ओवर विकेट मेडन था. भारत की प्लेइंग इलेवन में शामिल होते ही नवदीप सैनी भारतीय टी20 टीम के 80वें खिलाड़ी बन गए. दिल्ली के तेज़ गेंदबाज सैनी आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से खेलते हैं. आईपीएल 2019 में अपनी रफ्तार भरी बॉलिंग से उन्‍होंने कई लोगों का ध्‍यान खींचा था. उन्होंने आईपीएल में अपनी रफ्तार और बाउंसर से बड़े खिलाड़ियों को परेशान कर किया था.

टेनिस बॉल ने बढ़ाई गति
हर खिलाड़ी के पीछे कोई न कोई कहानी होती है, जिसके कारण वो उस मुकाम तक पहुंचता है, जो अधिकतर का सपना होता है. नवदीप की जिंदगी में भी ऐसी ही कहानी है. उन्हें शायद ही मालूम होगा कि जिस गेंद को वह मजबूरी में पकड़ रहे हैं. वहीं उनको मुकाम हासिल करने में मदद करेगी.

नवंबर 1992 में सरकारी ड्राइवर के घर जन्मे नवदीप के यहां हालांकि खाने-पीने की कोई कमी नहीं थी, लेकिन हालात इतनी भी मजबूत नहीं थी कि परिवार अपने बेटे की इच्छाओं को पूरी कर सके. परिवार की हालत क्रिकेट एकेडमी की फीस भरने तक की नहीं थी, जिसके बाद नवदीप ने टेनिस की गेंद से अभ्यास करना शुरू कर दिया. नवदीप के परिवार की आर्थिक स्थिति ऐसी थी कि वह एक जोड़ी स्पोर्ट्स शू तक नहीं खरीद सकते थे.

नवदीप सैनी और विराट कोहली


एक लीग ने बदल दी जिंदगी
लोकल टूनामेंट में खेलने के लिए नवदीप को करीब 200 रुपये मिलते थे. दिल्ली के तेज गेंदबाज सुमित नरवाल की ओर से आयोजित करनाल प्रीमियर लीग में खेलते समय नवदीप ने कुछ लोगों को प्रभावित किया. यहां से इस गेंदबाज ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.
Loading...

अखबार में वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, विराट कोहली, इशांत शर्मा की तस्‍वीर देखकर वह दिल्ली रणजी टीम का अभ्यास देखने रोशनारा स्टेडियम आ गए. गौतम गंभीर से पहले सुमित ने करनाल प्रीमियर लीग में सैनी की प्रतिभा को पहचान लिया था. पूर्व सलामी बल्लेबाज गंभीर ने करीब 15 मिनट नवदीप की गेंदबाजी देखी और तुरंत उन्हें दिल्ली की टीम में शामिल कर लिया.

गौतम गंभीर और नवदीप सैनी


गंभीर ने जताया था भरोसा
दिल्ली का ना होने की वजह से नवदीप को इस टीम से खेलने को लेकर दिक्कत आई. गंभीर ने चयनकर्ताओं से बातचीत की और बाहरी खिलाड़ी के तौर पर विचार किया गया. नवदीप ने दिल्ली एवं जिला क्रि‌केट संघ (डीडीसीए) से जुड़ी किसी भी क्रिकेट लीग में हिस्सा नहीं लिया था. इसके बावजूद सभी बाधाओं को पार करते हुए गंभीर नवदीप को दिल्ली टीम में शामिल करने में सफल रहे.

इसके बाद उन्होंने गंभीर के विश्वास को सही साबित करते हुए 2017-2018 के सीजन में कुल 34 विकेट लिए. घरेलू सत्र में उनके प्रदर्शन ने उनके लिए कई दरवाजे खोल दिए. 2017 में साउथ अफ्रीका और श्रीलंका दौरे से पहले नवदीप को टीम इंडिया के नेट अभ्यास के लिए चुना गया. इसके बाद उन्हें अफगानिस्‍तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच के लिए चुना गया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 3, 2019, 8:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...