WTC Final: दिलीप वेंगसरकर ने कहा- न्यूजीलैंड का पलड़ा भारी, वजह- फाइनल से पहले 2 टेस्ट

दिलीप वेंगसरकर ने टेस्ट में 6 हजार से अधिक रन बनाए. (
TheVengsarkarAcademy Twitter)

दिलीप वेंगसरकर ने टेस्ट में 6 हजार से अधिक रन बनाए. ( TheVengsarkarAcademy Twitter)

टीम इंडिया (Team India) को अगले महीने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) का फाइनल खेलना है. यह मुकाबला 18 से 22 जून तक इंग्लैंड के साथउम्प्टन में होना है. फाइनल में भारत और न्यूजीलैंड भिड़ेंगे.

  • Share this:

नई दिल्ली. पूर्व भारतीय कप्तान और सेलेक्टर दिलीप वेंगसरकर ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के पहले बड़ा बयान दिया है. उनका कहना है कि न्यूजीलैंड की टीम फाइनल से पहले इंग्लैंड से दो टेस्ट खेलेगी. इसका उसे फायदा मिलेगा. टीम इंडिया अगले महीने इंग्लैंड रवाना होगी. उसे 18 से 22 जून तक न्यूजीलैंड से फाइनल खेलना है. इसके बाद टीम जुलाई-अगस्त में इंग्लैंड से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी.

क्रिकेटनेक्स्ट से बातचीत करते हुए दिलीप वेंगसरकर ने कहा कि टीम इंडिया अच्छी फॉर्म में है. वह इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन करेगी. अंतिम बार 2007 में टीम इंडिया ने राहुल द्रविड़ की कप्तानी में इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज 1-0 से जीती थी. उस समय वेंगसरकर सेलेक्शन कमेटी के चेयरमैन थे. इसके बाद टीम को इंग्लैंड में खेली तीन सीरीज में 0-4, 1-3 और 1-4 से हार मिली. टीम को 2018 में विराट कोहली की कप्तानी में हार मिली थी.

सवाल- टीम को WTC Final के बाद इंग्लैंड से 5 मैचों की सीरीज खेलनी है. आप इसे कैसे देखते हैं?

-यह टीम इंडिया के खिलाड़ियों के लिए बड़ा सीजन है. हालांकि बायो बबल में रहना मुश्किल है. पिछले दिनों टीम इंडिया ने अच्छा प्रदर्शन किया है. लेकिन इंग्लैंड में इंग्लैंड की टीम रोचक है. सबसे अहम चीज यह है कि टीम इंडिया इंग्लैंड की कंडीशन में कितनी जल्दी ढलती है. टीम अच्छे फॉर्म में है. ऐसे में उम्मीद है कि टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी.
सवाल- क्या न्यूजीलैंड को WTC Final फाइनल से पहले बढ़त है, क्योंकि उसे फाइनल से दो टेस्ट खेलने हैं?

- बिल्कुल. फाइनल से पहले न्यूजीलैंड को इंग्लैंड से दो मैच खेलने हैं, ऐसे में उसे बढ़त मिली है. फाइनल में वे इंग्लैंड में तीसरा टेस्ट खेलते रहेंगे जबकि यह हमारा पहला टेस्ट होगा.

सवाल- इंग्लैंड में बल्लेबाजी की सफलता के लिए क्या जरूरी है?



india vs england test series schedule, IND VS ENG, Ipl 2021, BCCI-ECB, भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज, आईपीएल 2021
विराट कोहली पहली आईसीसी ट्रॉफी जीतना चाहेंगे.(AFP)

- परिस्थितयों के अनुसार खुद को ढालना होगा. पिच पर अधिक समय बिताना जरूरी है. पहले हमें फायदा मिलता था, क्योंकि हमें सीरीज से पहले और सीरीज के बीच में काउंटी मैच खेलने काे मिलते थे. इससे हमें परिस्थितियों के अनुसार खुद को ढालने में मदद मिलती थी. हालांकि मुझे इस दौरे के शेड्यूल के बारे में नहीं मालूम. उम्मीद है कि टेस्ट से पहले खिलाड़ियों काे कुछ मैच खेलने काे मिलेंगे.

सवाल: क्या आपको लगता है कि टीम इंडिया विराट कोहली, चेतेश्वर पुजार और अजिंक्य रहाणे पर निर्भर करेगी?

- रोहित शर्मा भी टीम में हैं. भारतीय टीम के पास अच्छी बल्लेबाजी लाइन-अप है. अगर वे अपनी क्षमता के अनुसार खेलते हैं तो मुझे यकीन है कि वे अच्छा प्रदर्शन करेंगे.

सवाल- WTC Final के बाद टीम इंडिया को डेढ़ महीने बाद इंग्लैंड से टेस्ट खेलना है. क्या इससे टीम को कंडीशन में ढालने के लिए अधिक समय मिलेगा?

-वे उन डेढ़ महीनों में क्या करने जा रहे हैं? मैं वास्तव में शेड्यूलिंग से हैरान हूं. किस तरह के दौरे का आयोजन किया जा रहा है? जब आप डेढ़ महीने तक कोई क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं और आप फिर कैसे टेस्ट सीरीज खेल सकते हैं? पाकिस्तान और श्रीलंका जुलाई में सीमित ओवरों की सीरीज के लिए इंग्लैंड जाएंगे. क्या टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के बाद वापस आ रही है? अगर ऐसा नहीं है तो वे उन डेढ़ महीनों के लिए क्या करने जा रहे हैं? उन्हें काउंटी मैच खेलने चाहिए. डेढ़ महीने बहुत लंबा समय होता है. यह इंग्लैंड दौरा अजीब है. अगर डेढ़ महीने तक आप क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं और उसके बाद आप इंग्लैंड के खिलाफ इंग्लैंड की धरती पर अचानक टेस्ट सीरीज खेलेंगे तो यह अजीब नहीं लग रहा. उन्हें इस अंतराल के बजाय टेस्ट खेलना जारी रखना चाहिए था. पाकिस्तान और श्रीलंका बीच में टी20 और वनडे क्यों खेल रहे हैं? यह बेतुका है और मेरे समझ से परे है.

सवाल- ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में मिली जीत क्या टीम को आत्मविश्वास देगी?

- ऑस्ट्रेलिया में मिली जीत भारतीय क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ जीत में से एक है. जब कुछ खिलाड़ी अनफिट थे और युवा खिलाड़ियों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, वह शानदार था.

दिलीप वेंगसरकर ने यह बातें भी कहीं:

-टीम इंडिया के पास अच्छी बल्लेबाजी के अलावा अच्छा गेंदबाजी अटैक भी है. ऐसे में विराट कोहली की टीम के पास इंग्लैंड में सीरीज जीतने का अच्छा मौका है.

-इंग्लैंड में ऑलरॉउंडर अहम रहता है. इससे गेंदबाजी और बल्लेबाजी में बैलेंस रहता है. नहीं तो आपको छह बल्लेबाज और चार गेंदबाजों के साथ मैच खेलना होता है. ऐस में अगर एक गेंदबाज चोटिल हो जाए तो 90 ओवर गेंदबाजी करना मुश्किल होता है. मुझे हार्दिक पंड्या के बारे में नहीं पता, मैंने उसे गेंदबाजी करते हुए नहीं देखा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज