ENG VS NZ: न्यूजीलैंड की Playing 11 ने बजाई भारत के लिए खतरे की घंटी, अब विराट क्या करेंगे?

न्यूजीलैंड की मजबूत प्लेइंग इलेवन है टीम इंडिया के लिए बड़ा खतरा (PC-AFP)

न्यूजीलैंड की मजबूत प्लेइंग इलेवन है टीम इंडिया के लिए बड़ा खतरा (PC-AFP)

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (ENG VS NZ) के बीच लॉर्ड्स में पहले टेस्ट मैच का आगाज हो चुका है. इस मैच पर टीम इंडिया की भी नजरें होंगी क्योंकि 18 जून को उसे वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) में भिड़ना है.

  • Share this:

नई दिल्ली. इंग्लैंड की धरती पर लंबे टेस्ट सीजन का आगाज हो चुका है. लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर मेजबान टीम की न्यूजीलैंड (ENG VS NZ, 1st Test) से टक्कर हो रही है. दोनों ही टीमों के लिए मुकाबला बेहद अहम है, खासतौर पर न्यूजीलैंड के लिए जिसे 18 जून को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल (WTC Final) खेलना है. न्यूजीलैंड फाइनल में टीम इंडिया से भिड़ेगी और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज उनके लिए शानदार तैयारी के मौके की तरह है. टीम इंडिया की नजरें भी इस सीरीज पर है क्योंकि उसे न्यूजीलैंड और इंग्लैंड दोनों की कमियां और मजबूतियां समझने का मौका मिलेगा. वैसे आपको बता दें लॉर्ड्स टेस्ट में जिस तरह की प्लेइंग इलेवन न्यूजीलैंड ने उतारी है, उसने टीम इंडिया के लिए खतरे की घंटी बजा दी है. आइए बताते हैं कैसे?

दरअसल न्यूजीलैंड ने लॉर्ड्स टेस्ट में जो 11 खिलाड़ी मैदान पर उतारे हैं वो टीम इंडिया के लिए चिंता का विषय है. न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड के खिलाफ 6 बल्लेबाज और 5 गेंदबाजों को प्लेइंग इलेवन में मौका दिया है. 5 गेंदबाजों में से 3 ऐसे खिलाड़ी हैं जो कि जबर्दस्त बल्लेबाजी करने का दम रखते हैं. मतलब वो गेंद और बल्ले से मैच पलटने में माहिर हैं.

लॉर्ड्स टेस्ट में न्यूजीलैंड की Playing 11

टॉम लैथम, डेवॉन कॉनवे, केन विलियमसन, रॉस टेलर, हेनरी निकोल्स, बीजे वॉटलिंग, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, मिचेल सैंटनर, काइल जेमिसन, टिम साउदी और नील वैगनर.
न्यूजीलैंड की ये प्लेइंग इलेवन काफी संतुलित नजर आ रही है. शुरुआती 6 खिलाड़ी बल्लेबाज हैं और उसके बाद कॉलिन डी ग्रैंडहोम, मिचेल सैंटनर, काइल जेमिसन के तौर पर तीन ऑलराउंडर इस टीम को बेहद मजबूत बना रहे हैं.

मोहम्मद आमिर को रिटायरमेंट से वापस लेकर आएंगे बाबर आजम? कहा-मुझे वो बेहद पसंद हैं

न्यूजीलैंड की गेंदबाजी की खासियत



इंग्लैंड के हालात के मुताबिक न्यूजीलैंड की गेंदबाजी बेहद मजबूत दिख रही है. टिम साउदी गेंद को स्विंग कराते हैं और जेमिसन-वैगनर के पास जबर्दस्त उछाल है. कॉलिन डी ग्रैंडहोम गेंद को स्विंग कराने में माहिर हैं. वहीं मिचेल सैंटनर सटीक लाइन लेंग्थ वाले स्पिनर हैं. अभी इस टीम में ट्रेंट बोल्ट नहीं हैं और वो वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जरूर खेलने उतरेंगे. ऐसे में साफ है न्यूजीलैंड की ये प्लेइंग इलेवन विराट कोहली एंड कंपनी के लिए खतरे की घंटी बजा रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज