कीवी टीम के लिए छलकी गौतम गंभीर की हमदर्दी, कहा- उन्हें कभी श्रेय नहीं मिलता

कीवी टीम के लिए छलकी गौतम गंभीर की हमदर्दी, कहा- उन्हें कभी श्रेय नहीं मिलता
गौतम गंभीर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं

पिछले साल हुए क्रिकेट वर्ल्ड कप (ICC Cricket World Cup) के फाइनल मैच में इंग्लैंड की टीम ने सुपर ओवर में टाई रहे मुकाबले में जीत दर्ज की थी

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत (India) के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का मानना है कि पिछले साल के विश्व कप (ICC World Cup) में न्यूजीलैंड के प्रदर्शन में सबसे अधिक निरंतरता थी और वे इंग्लैंड (England) के साथ टूर्नामेंट का संयुक्त विजेता बनने के हकदार थे. लॉर्ड्स (Lord's) में खेले गए एतिहासिक फाइनल में न्यूजीलैंड (New Zealand) को बाउंड्री गिनने के नियम के आधार पर मेजबान इंग्लैंड ने हराया था क्योंकि पहले नियमित ओवरों और फिर सुपर ओवर के बाद भी मैच टाई रहा था.

न्यूजीलैंड को नहीं मिला श्रेय
क्रिकेटर से राजनेता बने गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ पर कहा, ‘पिछली बार विश्व कप के संयुक्त विजेता होने चाहिए थे. न्यूजीलैंड को विश्व चैंपियन का तमगा मिलना चाहिए था लेकिन यह दुर्भाग्यशाली था. पूर्व सलामी बल्लेबाज गंभीर का मानना है कि न्यूजीलैंड ने विश्व कप में हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन उन्हें वह श्रेय नहीं मिला जिसके वे हकदार हैं.

उन्होंने कहा, ‘अगर आप उनका ओवरऑल रिकॉर्ड देखो तो उनके प्रदर्शन में काफी निरंतरता है. पिछले दो विश्व कप में वे उप विजेता रहे और उनके प्रदर्शन में काफी निरंतरता है.’ गंभीर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि वे जिन भी परिस्थितियों में खेले काफी प्रतिस्पर्धी रहे. हमने उन्हें पर्याप्त श्रेय नहीं दिया.’
गंभीर की इच्छा ऑस्ट्रेलिया का दौरा करे भारत


गौतम गंभीर का मानना है कि मौजूदा संकट के दौर में भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को अगुआ की भूमिका निभानी चाहिए और अगर इस साल के आखिरी में राष्ट्रीय टीम ऑस्ट्रेलिया का दौरा करती है तो इससे उनके मन में बोर्ड को लेकर सम्मान और बढ़ जाएगा.

सकारात्मक माहौल के लिए जरूरी है ऑस्ट्रेलिया की सीरीज
गंभीर बीसीसीआई (BCCI) के कोषाध्यक्ष अरूण धूमल के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद क्वारंटाइन पर जा सकती है. दो सप्ताह के पृथकवास की जरूरत हालांकि तभी होगी जब द्विपक्षीय श्रृंखला से पहले वहां खेले जाने वाले टी20 विश्व कप का आयोजन नहीं होगा. उन्होंने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया में श्रृंखला जीतना जरूरी है लेकिन यह सिर्फ श्रृंखला जीतने के बारे में नहीं है. इससे भारत ही नहीं ऑस्ट्रेलिया में भी सकारात्मक माहौल बनेगा.’

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने कहा- मैच फिक्सिंग रोकने के लिए कराया जाए लाइ डिटेक्टर टेस्ट!

युवराज की शादी से पहले हरभजन सिंह ने सुनाया गुलाब का किस्सा... दोनों शर्म से हुए लाल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज