विराट कोहली ने पहले टेस्ट में दी थी इंग्लैंड को चेतावनी, इंग्लिश बल्लेबाज का खुलासा

कोहली की कप्तानी में भारत ने टेस्ट सीरीज में जीत हासिल की थी.  ( PIC- AFP)

कोहली की कप्तानी में भारत ने टेस्ट सीरीज में जीत हासिल की थी. ( PIC- AFP)

India vs England: पहला टेस्ट जीतने के बाद इंग्लैंड की टीम रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल जैसे भारतीय स्पिनरों का सामना नहीं कर सकी और अगले तीनों टेस्ट हार गई

  • Share this:
नई दिल्ली. इंग्लैंड के बल्लेबाज ओली पोप ने खुलासा किया है कि चार मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट के दौरान ही भारतीय कप्तान विराट कोहली ने उन्हें चेताया था कि इसके बाद सपाट पिचें नहीं मिलने वाली हैं. फरवरी में पहला टेस्ट जीतने के बाद इंग्लैंड की टीम रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल जैसे भारतीय स्पिनरों का सामना नहीं कर सकी और अगले तीनों टेस्ट हार गई. भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज में 3-1 से जीत हासिल की थी.

पोप ने कहा ,‘‘ दूसरी पारी में ही पिच काफी स्पिन लेने लगी थी. मुझे याद है कि मैं दूसरे छोर पर खड़ा था और कोहली मेरे पास आकर बोले कि यह आखिरी सपाट पिच है. उसी समय मुझे लग गया था कि बल्लेबाजी के लिहाज से यह श्रृंखला काफी चुनौतीपूर्ण होने वाली है.’’ पोप ने कहा कि जो रूट और बेन स्टोक्स जैसे अनुभवी खिलाड़ियों का भी मानना था कि यह सबसे कठिन हालात में से एक थे.

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के अनुसार पोप ने कहा, ‘‘ रूट और स्टोक्स से भी मैंने बात की और उनका भी यही कहना था कि ये सबसे कठिन हालात में से थे. अगर उनके जैसे खिलाड़ी यह स्वीकार कर रहे हैं तो आप समझ सकते हैं कि यह कितना चुनौतीपूर्ण रहा होगा.’’ अगले सप्ताह काउंटी चैम्पियनशिप खेलने की तैयारी में जुटे पोप ने कहा कि बबल से बाहर निकलकर वह राहत महसूस कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें:
श्रेयस अय्यर के कंधे की सर्जरी 8 अप्रैल को, दिल्ली कैपिटल्स को खलेगी उनकी कमी

IPL 2021: आईपीएल पर कोविड-19 का साया, वानखेड़े स्टेडियम के 8 मैदानकर्मी कोरोना पॉजिटिव निकले

उन्होंने कहा, ‘‘ भारत में बायो बबल काफी कठिन था. वहां होटल भी बिजनेस होटल जैसे थे जिनमें आउटडोर जगह बहुत कम थी .’’ उन्होंने कहा कि ऐसे में खेलना या कुछ भी सामान्य कर पाना कठिन था. बाहर निकलना या कॉफी पीने जाना भी संभव नहीं था. शुक्र है कि उस बबल से बाहर निकल गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज