vidhan sabha election 2017

कोहली बोले- 'मैं रोबोट नहीं चाहे तो खाल उतारकर देख लें'

News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 6:52 PM IST
कोहली बोले- 'मैं रोबोट नहीं चाहे तो खाल उतारकर देख लें'
आराम के सवाल पर बोले कैप्टन कोहली, 'मैं रोबोट नहीं हूं'
News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 6:52 PM IST
भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली ने लगातार खेल रहे क्रिकेटरों की आराम दिए जाने की वकालत की. कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ गुरुवार से शुरू हो रहे पहले टेस्ट मैच से पहले कप्तान कोहली ने कहा कि ज़्यादा खेलने वाले क्रिकेटरों को आराम ज़रूर मिलना चाहिए. दरअसल, हार्दिक पंड्या को टेस्ट सीरीज़ में आराम दिए जाने के सवाल पर कोहली ने ये बात कही.

भारत और श्रीलंका के बीच पहले टेस्‍ट मैच से पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोहली से पूछा गया कि क्या उन्हें आराम की ज़रूरत है. इस पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा, 'मैं रोबोट नहीं हूं, चाहे तो खाल उतारकर देख लें.'

वहीं पिछले कुछ साल में ज़रूरत से ज़्यादा क्रिकेट के बारे में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज कहा कि इसे लेकर फैसला दर्शक ही करेंगे. भारत ने श्रीलंका में 2015 में टेस्ट सीरीज़ खेली और फिर 2016 में अपनी सरज़मीं पर सीमित ओवरों की सीरीज़ खेली. इस साल घरेलू और उनकी धरती पर टेस्ट सीरीज़ खेल रहे हैं. भारतीय टीम 2018 में इंडिपेंडेंस कप टी20 टूर्नामेंट खेलने श्रीलंका जाएगी.

कोहली से जब यह पूछा गया कि क्या भारत और श्रीलंका के मुकाबले अपनी चमक खो रहे हैं, कोहली ने कहा, "इस पर ग़ौर किया जाएगा क्योंकि आप कभी नहीं चाहेंगे कि दर्शक खेल देखना छोड़ दें. हमें खिलाड़ियों को तरोताज़ा रखने और दर्शकों का मनोरंजन करने के बीच संतुलन बनाए रखना होगा. इसके साथ ही क्रिकेट को रोमांचक बनाए रखना भी ज़रूरी है. इस बारे में भविष्य में बात की जाएंगी."

भारतीय कप्तान का मानना है कि खेल में सबसे अहम प्रशंसक हैं और उनकी राय लेना बहुत ज़रूरी है. उन्होंने कहा, "इस पर विश्लेषण करना होगा. दर्शकों से पूछना होगा. जो खेल देख रहा है, उसका नज़रिया खेलने वालों से एकदम अलग होगा."

उन्होंने कहा, "हम यह नहीं कह सकते कि यह मैच नहीं खेलना चाहते या बल्लेबाज़ी करने का मन नहीं हो रहा है. इसकी कोई गुंजाइश नहीं है क्योंकि आपके आउट होने पर टीम हार जाएगी."

कोहली ने साफ तौर पर कहा कि क्रिकेटरों को हर उस टीम के खिलाफ खेलना होता है जो उनके सामने हैं लेकिन दर्शकों के सामने विकल्प है कि वे क्या देखें और क्या नहीं.

उन्होंने कहा, "क्रिकेट देख रहे फैन्स इस बारे में बेहतर बता सकेंगे कि क्या एक ही सीरीज़ का दोहराव अधिक हो रहा है. हम देश के लिए खेल रहे हैं और हर सीरीज़ उतनी ही शिद्दत से खेलेंगे."

यहां देखें पूरी प्रेस कॉन्फ्रेंस


ये भी पढ़ें:

टीवी टीम के सदस्‍य को बॉल से लगी चोट, कोहली ने करवाया उपचार

EXCLUSIVE: क्यों है टीम इंडिया नं-1 जानिए अंजिक्य रहाणे की ज़ुबानी
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर