Home /News /sports /

on this day 4th jun 1993 29 years ago shane warne threw ball of the century fans not forget that magical ball

On This Day: शेन वॉर्न ने 29 साल पहले फेंकी थी 'बॉल ऑफ द सेंचुरी', फैंस आज भी नहीं भूले वो 'जादुई' गेंद

शेन वॉर्न 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' के जरिए दुनियाभर में मशहूर हो गए थे. (Shane Warne Instagrama)

शेन वॉर्न 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' के जरिए दुनियाभर में मशहूर हो गए थे. (Shane Warne Instagrama)

ऑस्ट्रेलिया के दिवंगत लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने 29 साल पहले आज ही के दिन इतिहास रचा था. एशेज सीरीज के तहत मैनचेस्टर में खेले गए टेस्ट मैच में उन्होंने 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' फेंकी थी. इस गेंद पर इंग्लैंड के बल्लेबाज माइक गैटिंग बोल्ड हो गए थे. शेन वॉर्न की यह गेंद आज भी क्रिकेट फैंस भूल नहीं पाए हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. क्रिकेट इतिहास में 4 जून का दिन बेहद खास है. 29 साल पहले आज ही के दिन 4 जून 1993 को ऑस्ट्रेलिया के दिवंगत लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने एक ऐसी गेंद फेंकी जिसे ‘बॉल ऑफ द सेंचुरी’ कहा गया. उन्होंने यह करिश्मा एशेज सीरीज के दौरान मैनचेस्टर में खेले गए टेस्ट में किया. क्रिकेट फैंस को उनकी यह जादुई गेंद आज भी याद है. एशेज सीरीज में वॉर्न की यह पहली गेंद थी जिस पर उन्होंने इंग्लैंड के धाकड़ बल्लेबाज माइक गैटिंग को आउट किया था. इस बॉल के जरिए शेन वॉर्न रातों-रात स्टार बन गए थे.

साल 1993 में एलन बॉर्डर की अगुवाई में ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम एशेज सीरीज खेलने इंग्लैंड दौरे पर गई. इस सीरीज का पहला मुकाबला 3 से 7 जून के बीच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेला गया. इस मैच में इंग्लैंड के कप्तान ग्राहम गूच ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग की. बैटिंग करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 289 रन बना पाई. कंगारुओं की ओर से मार्क टेलर ने 124 और माइकल स्लेटर ने 58 रन की पारी खेली. इंग्लैंड के लिए पीटर सच ने सबसे अधिक 6 विकेट लिए.

210 पर सिमटा इंग्लैंड

पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के आगे कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाई. पहली पारी में इंग्लिश टीम 210 रन बनाकर आउट हो गई. इंग्लैंड के लिए ग्राहम गूच ने सबसे ज्यादा 65 रन बनाए. उनके अलावा ग्रीम हिक ने 34 रन की पारी खेली. बाकी इंग्लिश बल्लेबाजों ने निराश किया. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से शेन वॉर्न और मर्व ह्यूज ने बेहतरीन बॉलिंग करते हुए 4-4 विकेट लिए.

‘बॉल ऑफ द सेंचुरी’

यह टेस्ट मैच का दूसरा दिन था. माइक गैटिंग क्रीज पर थे. ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एलन बॉर्डर ने शेन वॉर्न को गेंद थमाई. शेन वॉर्न की यह लेग स्पिन गेंद थी जो लेग स्टंप के बाहर टप्पा खाने के बाद गैटिंग का ऑफ स्टंप ले उड़ी. उनकी इस जादुई गेंद पर माइक गैटिंग भौचक्के रह गए. यह गेंद 90 डिग्री पर घूमी थी. खुद वॉर्न को भी भरोसा नहीं था कि उनकी बॉल इस तरह का करिश्मा करेगी. इस गेंद को देखकर स्टेडियम में बैठे क्रिकेट फैंस हैरान रह गए. बाद में क्रिकेट पंडितों ने उनकी इस गेंद को ‘बॉल ऑफ द सेंचुरी’ घोषित किया.

‘बॉल ऑफ द सेंचुरी’ को लेकर शेन वॉर्न ने कई बार स्पष्ट किया कि उन्होंने जानबूझकर ऐसी गेंद नहीं फेंकी थी. वॉर्न का कहना था कि मैं सिर्फ लेग स्पिन करा रहा था. उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि वह ऐसी गेंद फेंक सकते हैं. उनके मुताबिक, ‘मैं ऐसी गेंद चाहकर भी दोबारा नहीं फेंक सकता.’ कुछ भी हो शेन वॉर्न को इस बॉल ने रातों-रात स्टार बना दिया. जिस शेन वॉर्न को इस टेस्ट मैच के पहले लोग नहीं जानते थे वह इस गेंद के जरिए मशहूर हो गए.

यह भी पढ़ें

‘भारत और पाकिस्तान के क्रिकेट खिलाड़ी एक-दूसरे के खिलाफ खेलना चाहते हैं?’ जानिए किसने कहा ऐसा

जेम्स एंडरसन की लॉर्ड्स टेस्ट में ‘चौके’ से वापसी, रिचर्ड हेडली के खास रिकॉर्ड की बराबरी की

‘प्लेयर ऑफ द मैच’ रहे शेन वॉर्न

ऑस्ट्रेलिया ने इस टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 179 रन से हराया था. कंगारू टीम ने 5 विकेट पर 432 रन बनाकर दूसरी पारी घोषित की. दूसरी इनिंग्स में ऑस्ट्रेलिया की ओर से इयान हीली ने 102 रन बनाए. उनके अलावा डेविड बून ने 93, स्टीव वॉ ने 78 और मार्क वॉ ने 64 रन की पारी खेली. जीत के लिए 512 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम 332 रन ऑलआउट हो गई. ग्राहम गूच ने 133 रन की पारी खेली लेकिन वह इंग्लैंड की हार नहीं टाल सके. शेन वॉर्न ने दूसरी पारी में भी 4 विकेट लिए. इस तरह मैच में उन्होंने कुल 8 विकेट झटके. बेहतरीन बॉलिंग करने के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया.

Tags: Australia, ENG vs AUS, England, Shane warne

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर