Home /News /sports /

ON This Day: डॉन ब्रैडमैन आखिरी मैच में हुए '0' पर आउट, तो 17 की उम्र में दिग्गज भारतीय ने ठोका पहला शतक

ON This Day: डॉन ब्रैडमैन आखिरी मैच में हुए '0' पर आउट, तो 17 की उम्र में दिग्गज भारतीय ने ठोका पहला शतक

On This day: ब्रैडमैन का टेस्ट क्रिकेट में रिकॉर्ड 99.94 का औसत रहा. (PC- Sachin Tendulkar Instagram)

On This day: ब्रैडमैन का टेस्ट क्रिकेट में रिकॉर्ड 99.94 का औसत रहा. (PC- Sachin Tendulkar Instagram)

On This Day: क्रिकेट के लिए आज की तारीख यानी 14 अगस्त बेहद खास है. इस दिन दुनिया के सबसे बड़े बल्लेबाज माने जाने वाले डॉन ब्रैडमैन (Donald Bradman Zero) अपने आखिरी टेस्ट में 0 पर आउट हुए थे और खास शतक लगाने से चूक गए थे. वहीं, 1990 में आज ही के दिन सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने 17 साल की उम्र में अपना पहला टेस्ट शतक जड़ा था. उनकी इस शतकीय पारी की बदौलत भारत की ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट में हार टल गई थी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. क्रिकेट आंकड़ों और तारीखों का खेल है. हर तारीख और आंकड़े से जुड़ी अपनी एक कहानी है. आज की तारीख यानी 14 अगस्त (On This Day in Cricket) भी इसीलिए खास है. क्योंकि इस दिन क्रिकेट की दुनिया में दो घटनाएं ऐसी हुईं, जो इस खेल के चाहने वालों को हमेशा याद रहेंगी. एक क्रिकेट के ‘डॉन’ से जुड़ी है, तो एक ‘मास्टर ब्लास्टर’ से. आज ही के दिन 1948 में इंग्लैंड के ओवल टेस्ट में दुनिया के महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन (Donald Bradman) 0 पर आउट हुए थे. वैसे बिना खाता खोले आउट हो जाना, किसी बल्लेबाज या उसके चाहने वालों को पसंद हो. लेकिन इस ‘जीरो’ को तो शायद ही कोई भूला होगा या भूलेगा. क्योंकि इसकी वजह से एक खास शतक पूरा नहीं हो पाया.

    वहीं, मास्टर ब्लास्टर यानी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने आज ही के दिन 1990 में ओल्ड ट्रैफर्ड में पहला टेस्ट शतक लगाया था. तब सचिन की उम्र 17 साल और 107 दिन थी. इस शतक की सबसे खास बात यह थी कि भारत टेस्ट मैच ड्रॉ कराने में सफल रहा था.

    ब्रैडमैन आखिरी टेस्ट पारी में 0 पर आउट हुए
    अब वापस लौटते हैं क्रिकेट के सबसे बड़े बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन और आज की तारीख के बीच के कनेक्शन पर. दरअसल, 1948 में ऑस्ट्रेलिया की टीम इंग्लैंड दौरे पर गई थी. दोनों देशों के बीच टेस्ट सीरीज का पांचवां मुकाबलाओवल में खेला गया था. इस मैच की पहली पारी में इंग्लिश टीम सिर्फ 52 रन पर ऑलआउट हो गई थी. यह आज भी घर में इंग्लैंड का सबसे कम स्कोर है. लेकिन इंग्लिश टीम के ओवल टेस्ट में 52 रन पर आउट होने से ज्यादा चर्चा ब्रैडमैन के 0 की हो रही थी और ऐसा होना भी चाहिए था. क्योंकि ब्रैडमैन इस टेस्ट में अपने एक खास रिकॉर्ड के बेहद करीब थे.

    उन्हें 7 हजार टेस्ट रन पूरे और 100 का बल्लेबाजी औसत हासिल करने के लिए 4 और रन चाहिए थे. लेकिन वो अपनी पारी की दूसरी गेंद पर ही क्लीन बोल्ड हो गए. ऐसा करने वाले गेंदबाज थे एरिक होलिस.

    ब्रैडमैन 100 का बल्लेबाजी औसत नहीं पूरा कर पाए थे
    ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के 52 रन के जवाब में पहली पारी में 389 रन बनाए. इंग्लैंड यह मैच पारी और 149 रन से हार गया. ब्रैडमैन को दूसरी बार बल्लेबाजी का मौका ही नहीं मिला और उनका यह खास शतक कभी पूरा नहीं हो पाया. उनका बल्लेबाज औसत 99.94 ही रहा. ओवल टेस्ट ब्रैडमैन के करियर का आखिरी मैच साबित हुआ. अगले ही साल इस दिग्गज बल्लेबाज को क्रिकेट में योगदान के लिए नाइटहुड की उपाधि दी गई.

    IND VS ENG: ऋषभ पंत की बात विराट कोहली ने नहीं मानी, टीम इंडिया को हुआ ‘नुकसान’, देखें Video

    लंदन के अखबारों में छाए थे ब्रैडमैन  
    ब्रैडमैन टेस्ट क्रिकेट में 80 बार बल्लेबाजी करने उतरे और इसमें से 29 बार उन्होंने 100 का आंकड़ा पार किया. लेकिन वो आखिरी टेस्ट में ऐसा करने से चूक गए और 100 का बल्लेबाजी औसत पूरा करने का उनका सपना अधूरा रह गया. उस शाम लंदन के शाम के अखबारों में सिर्फ एक ही बात थी “He’s out!”. इसे पढ़ने वालों की भले ही क्रिकेट में रुचि हो या नहीं. लेकिन उन्हें इन दो शब्दों का एक ही मतलब हो सकता था कि ब्रैडमैन को किसी ने आउट करने में सफलता हासिल कर अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज कर लिया.

    1990 में सचिन ने पहला टेस्ट शतक ठोका था
    इसके 42 साल बाद ठीक इसी दिन यानी 14 अगस्त को क्रिकेट मैदान पर एक और घटना घटी. तब भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड दौरे पर थी. मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर दूसरा टेस्ट खेला जा रहा था. भारत को मैच जीतने के लिए 408 रन का लक्ष्य मिला था और उसके 183 रन पर 6 विकेट गिर चुके थे. तब सचिन ने मनोज प्रभाकर के साथ मिलकर ढाई घंटे से ज्यादा बल्लेबाजी की थी. उन्होंने नाबाद 119 रन की पारी खेलकर न सिर्फ टीम इंडिया की हार टाली, बल्कि अपना टेस्ट शतक भी पूरा किया.

    IND VS ENG: जेम्स एंडरसन ने लॉर्ड्स में चटकाए 5 विकेट, 70 साल बाद दिखा ऐसा कमाल

    उस समय सचिन की उम्र 17 साल और 107 दिन थी और वो तब टेस्ट शतक लगाने वाले दूसरे सबसे युवा बल्लेबाज थे. उनसे पहले सबसे कम उम्र में टेस्ट शतक पाकिस्तान के मुश्ताक मोहम्मद (17 साल और 78 दिन) ने लगाया था. हालांकि, 2001 में बांग्लादेश के मोहम्मद अशरफुल ने 17 साल 61 दिन की उम्र में पहला टेस्ट शतक जड़ा था.

    Tags: Australia Cricket Team, Cricket news, Don bradman, India Vs England, India vs England 2021, Sachin tendulkar

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर