• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • वेस्टइंडीज की पूरी टीम मात्र 25 रन पर ढेर, आयरलैंड के सामने कोई बल्लेबाज नहीं छू सका था दहाई का आंकड़ा

वेस्टइंडीज की पूरी टीम मात्र 25 रन पर ढेर, आयरलैंड के सामने कोई बल्लेबाज नहीं छू सका था दहाई का आंकड़ा

On This Day In Cricket: 2 जुलाई को आयरलैंड ने विंडीज टीम को मात्र 25 रन पर ढेर कर दिया था. (File Photo)

On This Day In Cricket: 2 जुलाई को आयरलैंड ने विंडीज टीम को मात्र 25 रन पर ढेर कर दिया था. (File Photo)

On this Day , 2 July: आयरलैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने एक आसान मैच की उम्मीद की होगी लेकिन दिन खराब था और कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा तक नहीं छू सका. विंडीज टीम का पहला विकेट 1 रन पर गिरा, दूसरा भी इसी स्कोर पर, तीसरा विकेट 3 रन पर, चौथा और पांचवां विकेट 6 के टीम स्कोर पर गिरा. सबसे बड़ी साझेदारी जो बनी वह 11 रन की थी जो अंतिम विकेट के लिए बनी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. क्रिकेट के मैदान पर कई रिकॉर्ड बनते हैं और फिर कई टूट भी जाते हैं. हालांकि कोई नहीं चाहता कि उसके नाम कोई खराब रिकॉर्ड दर्ज हो लेकिन भाग्य कहिए या कुछ और, कभी दिन खराब होता है तो इतिहास में खराब रिकॉर्ड भी दर्ज हो जाता है. ऐसा ही हुआ वेस्टइंडीज टीम के साथ 2 जुलाई को. 52 साल पहले आज ही के दिन यानी 2 जुलाई को वेस्टइंडीज जैसी दिग्गज टीम के नाम एक खराब रिकॉर्ड दर्ज हुआ, एक पारी में मात्र 25 रन पर ऑलआउट होने का. हालांकि यह मैच टेस्ट फॉर्मेट की तरह खेला तो गया लेकिन टेस्ट रिकॉर्ड में दर्ज नहीं हुआ.

    यह मैच सिओन मिल्स में खेला गया था, जो एक दिन के लिए निर्धारित दो पारियों का मुकाबला था यानी एक टीम दो पारियां खेलेगी. हालांकि, मुकाबले की शुरुआत से पहले ही एक समझौता हुआ था कि यदि दोनों पारियां पूरी नहीं होती हैं, तो विजेता पहली पारी के आधार पर चुना जाएगा. वेस्टइंडीज ने अपने मैनेजर क्लाइड वालकॉट तक को प्लेइंग-इलेवन में शामिल किया था लेकिन उसकी पहली पारी मात्र 25 रन पर सिमट गई.

    इसे भी पढ़ें, विराट ने WTC फाइनल के लिए कभी तीन टेस्ट की 'डिमांड' नहीं की: अश्विन

    तब 1969 की वेस्टइंडीज टीम 1979 की टीम जैसी नहीं थी. उसने आयरलैंड के खिलाफ एक आसान मैच की उम्मीद की होगी लेकिन दिन खराब था और कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा तक नहीं छू सका. इस स्कोर को देखकर हर कोई हैरान हो गया था. मैच एकदिवसीय, दो-पारी का था जो ड्रॉ होने की स्थिति में पहली पारी में नेतृत्व करने वाली टीम द्वारा जीता जाता. बेसिल की कप्तानी वाली विंडीज टीम का पहला विकेट 1 रन पर गिरा, दूसरा भी इसी स्कोर पर, तीसरा विकेट 3 रन पर, चौथा और पांचवां विकेट 6 के टीम स्कोर पर गिरा. सबसे बड़ी साझेदारी जो बनी वह 11 रन की थी जो अंतिम विकेट के लिए बनी.

    आयरलैंड के कप्तान डगलस गुडविन ने 6 रन देकर 5 विकेट झटके और एलेक ओ रिऑर्डन ने 18 रन देकर 4 विकेट अपने नाम किए. खास बात यह रही कि इन दोनों के अलावा किसी खिलाड़ी ने गेंदबाजी ही नहीं की. आयरिश टीम की शुरुआत खराब रही लेकिन उसने 2 विकेट खोने से पहले ही 30 रन बना लिए. आयरलैंड ने 8 विकेट पर 125 रन बनाकर पारी घोषित की. वेस्टइंडीज ने दूसरी पारी में 34 ओवर का खेल खेला और 4 विकेट खोकर 78 रन बनाए.

    यदि टेस्ट क्रिकेट में एक पारी में सबसे कम स्कोर की बात करें तो यह बुरा रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के नाम दर्ज है जिसे इंग्लैंड ने ऑकलैंड में खेले गए टेस्ट मैच में 26 रन पर ढेर कर दिया था. इंग्लैंड के खिलाफ ही साल 1896 में दक्षिण अफ्रीकी टीम एक पारी में मात्र 30 रन बना पाई थी, जो इस फॉर्मेट में दूसरा सबसे खराब टीम स्कोर है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज