• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • टी20 क्रिकेट का पहला शतक जड़ा, फिर भी इस फॉर्मेट में नहीं खेल सका एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच

टी20 क्रिकेट का पहला शतक जड़ा, फिर भी इस फॉर्मेट में नहीं खेल सका एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच

इयान हार्वे ने अपने करियर में 73 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले लेकिन उनके बल्ले से इस फॉर्मेट में ना तो कोई अर्धशतक और ना ही वह शतक बना सके. (PC- CrikVoice Instagram)

इयान हार्वे ने अपने करियर में 73 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले लेकिन उनके बल्ले से इस फॉर्मेट में ना तो कोई अर्धशतक और ना ही वह शतक बना सके. (PC- CrikVoice Instagram)

23 June, On this Day: ऑस्ट्रेलिया के इयान हार्वे (Ian Harvey) ने बर्मिंघम में टी20 का पहला शतक लगाया, लेकिन उन्हें इस फॉर्मेट में एक भी अंतरराष्ट्रीय शतक खेलने का मौका नहीं मिल सका. उन्होंने वनडे अंतरराष्ट्रीय में 73 मैच खेले.

  • Share this:
    नई दिल्ली. टी20 क्रिकेट इतिहास में 23 जून का दिन बेहद खास है. इसी दिन 18 साल पहले इस फॉर्मेट का पहला शतक लगा था. शतक भी ऐसे बल्लेबाज ने लगाया जिसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ना तो कोई अर्धशतक लगाया और ना ही कोई सेंचुरी ठोकी. इतना ही नहीं, वह टी20 फॉर्मेट में कोई भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेल सके. उस बल्लेबाज का नाम है इयान हार्वे (Ian Harvey) जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया.

    टी20 कप में वॉरविकशायर और ग्लूसेस्टरशायर के बीच 23 जून 2003 को बर्मिंघम में मुकाबला खेला गया था. निक नाइट की कप्तानी में वॉरविकशायर ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 134 रन बनाए. टीम के ओपनर जॉनाथन ट्रॉट ने नाबाद अर्धशतक जड़ा और 65 रन की बेहतरीन पारी खेली. उन्होंने 54 गेंदों पर 6 चौके और दो छक्के लगाए. उनके अलावा ट्रेवर पेने ने 21 रन का योगदान दिया. टीम के तीन बल्लेबाज तो खाता भी नहीं खोल पाए. ग्लूसेस्टरशायर टीम के लिए जॉन लेविस और मार्क एलेन ने 2-2 विकेट झटके.

    इसे भी देखें, स्‍पेन पहली बार करेगा वनडे की मेजबानी, 3 टीमें बनेगी ऐतिहासिक पल की गवाह

    135 रन के आसान से लक्ष्य का पीछा करते हुए ग्लूसेस्टरशायर के क्रेग स्पियरमैन और इयान हार्वे ने 96 रन की ओपनिंग साझेदारी की. इसमें क्रेग का योगदान मात्र 23 रन का रहा. इसके बाद दिग्गज जोंटी रोड्स एक रन बनाकर पैवेलियन लौट गए लेकिन हार्वे डटे रहे और उन्होंने 50 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में 13 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 100 रन बनाए. दूसरे नंबर पर बल्लेबाजी को उतरे हार्वे ने इस जीत में अहम भूमिका निभाई और वह नाबाद लौटे. हार्वे को उनकी इस ऐतिहासिक पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया.

    हार्वे का अंतरराष्ट्रीय करियर करीब सात साल का रहा. उन्होंने 73 वनडे अंतरराष्ट्रीय मैच खेले और कुल 715 रन बनाए. उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 48 रन रहा जो उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 2003 में ही किंग्स्टन में बनाया. इसके अलावा उन्होंने 85 विकेट भी झटके. वह अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में कोई अर्धशतक तक नहीं बना पाए लेकिन फर्स्ट क्लास करियर में उन्होंने 15 शतक और 46 अर्धशतकों की मदद से कुल 8409 रन बनाए और 425 विकेट भी झटके.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज