लाइव टीवी

जब सचिन के 4 कैच छोड़ वर्ल्ड कप से बाहर हुआ पाकिस्तान, पीएम ने पकड़ लिया अपना सिर!

News18Hindi
Updated: March 30, 2020, 6:59 AM IST
जब सचिन के 4 कैच छोड़ वर्ल्ड कप से बाहर हुआ पाकिस्तान, पीएम ने पकड़ लिया अपना सिर!
सचिन ने वर्ल्ड कप 2011 के सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ ठोके थे 85 रन

30 मार्च 2011 को ही भारत ने वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में पाकिस्तान (India vs Pakistan World Cup Semifinal 2011) को मात देकर फाइनल में जगह बनाई थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 30, 2020, 6:59 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 30 मार्च... ये वो तारीख है जो भारतीय क्रिकेट इतिहास में बेहद अहमियत रखती है. आज ही के दिन ठीक 9 साल पहले 2011 में भारत ने वर्ल्ड कप के फाइनल (ICC World Cup 2011) में जगह बनाई थी और उसने सेमीफाइनल मैच में अपने सबसे बड़े विरोधी पाकिस्तान को हराया था. मोहाली में खेला गया ये मैच आज भी हर भारतीय क्रिकेट फैन को याद होगा क्योंकि इस मुकाबले में जितना दबाव टीम इंडिया पर था, शायद ही वैसा कभी उसके खिलाड़ियों ने महसूस किया हो. सचिन तेंदुलकर इस मैच से पहले 12 दिनों तक ठीक से सो नहीं पाए थे, क्योंकि भारत अपने घर पर पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल जो खेल रहा था.

सचिन का चला बल्ला
पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल में भारत को 29 रनों से जीत मिली और जीत के नायक रहे सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar). भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए महज 260 रन बनाए लेकिन जवाब में पाकिस्तान की टीम 231 रनों पर निपट गई. सचिन तेंदुलकर ने इस मुकाबले में 85 रनों की पारी खेली थी. हालांकि सचिन को उनकी इस पारी में एक नहीं दो नहीं पूरे 4 जीवनदान मिले थे. पाकिस्तान की खराब फील्डिंग ही उसे ले डूबी और वो वर्ल्ड कप फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहा.

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को मिस्बाह उल हक, यूनिस खान, उमर गुल और कामरान अकमल जैसे खिलाड़ियों ने जीवनदान किया. शाहिद अफरीदी की 3 गेंदों पर सचिन के कैच छूटे. इस मैच को देखने के लिए दोनों देशों के प्रधानमंत्री भी पहुंचे थे. उस वक्त के पीएम मनमोहन सिंह और यूसुफ रजा गिलानी ने मोहाली के आईएस बिंद्रा स्टेडियम में शिरकत की थी. अपनी टीम की खराब फील्डिंग देख गिलानी ने माथा तक पकड़ लिया था. हालांकि सचिन इतने कैच छूटने के बावजूद शतक नहीं लगा सके और भारतीय टीम किसी तरह 260 रनों तक पहुंच पाई. हालांकि उसके बाद भारत के सभी गेंदबाजों जहीर खान, आशीष नेहरा, मुनाफ पटेल, हरभजन सिंह और युवराज सिंह ने 2-2 विकेट लेकर पाकिस्तान का पत्ता साफ कर दिया. पाकिस्तान की टीम एक बार फिर वर्ल्ड कप में भारत को हराने में नाकाम रही.



भारतीय टीम ने इस मैच में जीत हासिल कर फाइनल में जगह बनाई और फिर फाइनल में उसने 2 अप्रैल को दूसरी बार वर्ल्ड कप जीतने का कारनामा कर दिखाया. खिताबी भिड़ंत में भारतीय टीम ने  श्रीलंका को 6 विकेट से हराया. 275 रनों के लक्ष्य को टीम इंडिया ने 48.2 ओवर में हासिल किया. एमएस धोनी ने नाबाद 91 रन और गौतम गंभीर ने 97 रन बनाकर देश को 28 साल बाद वर्ल्ड चैंपियन बनाया.



बुरी खबर: कोरोना वायरस की वजह से अगले महीने नहीं बढ़ेगी इस टीम की सैलरी!
First published: March 30, 2020, 6:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading